REWA : एक बार फिर सुर्खियों में बहुचर्चित अग्रवाल नर्सिंग होम, संचालक सहित 4 लोगों पर FIR : जानिए मामला

(ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट) रीवा/भोपाल। REWA NEWS : रीवा का बहुचर्चित अग्रवाल नर्सिंग होम (Agarwal Nursing Home) एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। नर्सिग होम में प्रसव के दौरान बरती गई लापरवाही से हुई प्रसूता की मौत मामले में संचालक सहित 4 लोगों पर एफआईआर (FIR) रजिस्टर्ड कर ली गई है। बता दें कि यह पूरी कार्रवाई कलेक्टर के निर्देश पर हुई जांच के बाद हुई है। पुलिस द्वारा FIR रजिस्टर्ड करने के बाद जिलेभर के स्वास्थ महकमे में हड़कंप मच गया है।

अवैध कट्टे के साथ युवक को वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल करना पड़ा भारी, सायबर की मदद से आरोपी गिरफ्तार

दरअसल यह पूरा मामला विश्वविद्यालय थाने के खुटेही स्थित अग्रवाल नर्सिंग होम (Agarwal Nursing Home) का है। जानकारी के मुताबिक मार्च 2020 में गर्भवती महिला को प्रसव के लिए अग्रवाल नर्सिंग होम (Agarwal Nursing Home) में भर्ती कराया गया था, जहां महिला की मौत हो गई थी। मामले की शिकायत मिलने के बाद कलेक्टर ने जांच के आदेश जारी किए थे, जिला कलेक्टर ने तत्कालीन अपर कलेक्टर इला तिवारी के नेतृत्व में एक जांच टीम गठित की थी जिसमें स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक, पुलिस अधिकारी शामिल थे।

इस टीम ने पूरे मामले की जांच की जिसमें अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है, जिसके बाद पुलिस ने नर्सिंगहोम संचालक डाक्टर अरुण अग्रवाल, डॉक्टर निशा अग्रवाल, डाक्टर ईशान अग्रवाल और मैनेजर राघवेंद्र शुक्ला के खिलाफ धारा 304 ए 336 के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया है।

रीवा में नशीली कफ सिरप के साथ युवकों को मिलाकर दिया जा रहा स्लो प्वाइजन : हार्ट व दिमाग को कर रही डैमेज

यह है पूरा मामला

हम आपको बता दें बैकुंठपुर थाने के माड़ो गांव निवासी प्रशांत सिंह ने अपनी पत्नी विद्या सिंह को प्रसव पीड़ा के बाद 24 अक्टूबर 2020 को अग्रवाल नर्सिंग होम में भर्ती कराया था। रात में डॉक्टरों ने ऑपरेशन किया है, लेकिन गलत ऑपरेशन की वजह से महिला की हालत बिगड़ने लगी जिसमें चिकित्सकों ने परिजनों को उन्हें तत्काल संजय गांधी अस्पताल ले जाने की सलाह दी, लेकिन कोई स्वास्थ्य व्यवस्था नहीं कराई जिससे अधिक ब्लीडिंग होने से महिला की मौत हो गई। जांच में अस्पताल के चिकित्सकों की लापरवाही सामने आई है।

रीवा के युवाओं के लिए खुशखबरी : जल्द शुरू होने वाली है आर्मी की भर्ती रैली

वर्जन थाना प्रभारी 

इस पूरी कार्रवाई को लेकर विश्वविद्यालय थाना प्रभारी जेपी पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि अग्रवाल नर्सिंग होम में एक महिला को प्रसव के दौरान मौत हो गई थी इस मामले में जांच के लिए टीम गठित हुई थी, जिसका प्रतिवेदन मिलने पर संचालक समेत चार के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मामले में जो भी नए तथ्य आएंगे उनको भी शामिल कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

रीवा शहर में दहशत का पर्याय बने दो बदमाश अवैध पिस्टल और देसी कट्टे के साथ गिरफ्तार, सत्यम मोराई पर दर्ज है 8 मामले

लिंग परीक्षण को लेकर सुर्खियों में आ चुका है नर्सिंग होम

हम आपको बता दें की अग्रवाल नर्सिंग होम अक्सर विवादों में रहता है यहां कभी लिंग परीक्षण को लेकर तो कभी अबार्सन को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म रहता है। बीते वर्ष ऐसे ही एक मामले में डाक्टर अरुण अग्रवाल को जेल की हवा खानी पड़ी थी। कुछ दिन पूर्व यहां छापा भी पड़ा था जिसके बाद उसके संचालन पर रोक लगा दी गई थी।

Powered by Blogger.