REWA : बहुचर्चित राज निवास कांड : महंत को शराब और चखना पहुंचाने वाला चेला हुआ गिरफ्तार, 9वें आरोपी को पकड़ने पुलिस एक महीने से दबिश दे रही थी

रीवा शहर के सर्किट हाउस (राजनिवास) रेपकांड में महंत सीताराम दास उर्फ समर्थ त्रिपाठी को शराब पहुंचाने वाले सहयोगी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 28 मार्च 2022 की रात आरोपी बाबा को राजनिवास के एनेक्सी भवन रूम नंबर-4 में इसी आरोपी ने पूरी सामग्री पहुंचाई। वहीं दुष्कर्म की रात सर्किट हाउस से मंहत को भगाने में भी सहयोग किया था। फिर दूसरे दिन से महंत का सहयोगी चेला खुद फरार हो गया। रेपकांड के 9वें आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस की कई टीम एक महीने से दबिश दे रही थी। दूसरी तरफ एसपी नवनीत भसीन ने आरोपी पर 5 हजार रुपए का इनाम घोषित किया। उसके एक रिश्तेदार के सहयोग से पुलिस ने गिरफ्तार कर मंगलवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से एक दिन की रिमांड मिली है।

सहकारी निरीक्षक और प्रभारी CEO 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते ट्रेप : ऑडिट कार्य के बदले पहले भी 15 हजार रुपए ले चुके थे

ये है मामला

सिविल लाइन थाना प्रभारी निरीक्षक हितेन्द्रनाथ शर्मा ने बताया कि राजनिवास दुष्कर्म कांड के 9वें व अंतिम आरोपी धीरेन्द्र कुमार मिश्रा उर्फ धीरू पुत्र पवन कुमार मिश्रा (23) को गिरफ्तार कर लिया गया है। मंगलवार को न्यायालय में पेश कर एक दिन की रिमांड पर ली गई है। पुलिस अभिरक्षा के दौरान दुष्कर्मी महंत के सहयोगी को संभावित ठिकानों पर ले जाया गया है। जहां से उसने शराब, चखना और भोजन आदि की व्यवस्था की थी। प्रयास है कि बुधवार की शाम तक कोर्ट में पेशकर केन्द्रीय जेल रीवा भेज दिया जाएगा।

शादी कार्यक्रम से लौट रहे युवक को बाइक सवार बदमाशों ने मारी गोली, बीच चौराहे पर मचा हड़कंप

अब तक ये आरोपी आ चुके है पकड़ में

पुलिस का दावा है कि राजनिवास रेपकांड में अब तक 9 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। जिसमे महंत सीताराम दास उर्फ समर्थ त्रिपाठी, विनोद पाण्डेय, संजय त्रिपाठी, अंशुल मिश्रा, तौफीक अंसारी, पप्पू शुक्ला, मोनू मिश्रा, जान्हवी दुबे और धीरेन्द्र मिश्रा उर्फ धीरू को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Powered by Blogger.