MP में भ्रूण हत्या जारी : महिला स्वास्थ्यकर्मी ने बोला, 17 हजार लगेंगे, हम सब ठीक कर देंगे : पेट दर्द बता कर भर्ती हो जाना

 

MP में भ्रूण हत्या जारी : महिला स्वास्थ्यकर्मी ने बोला, 17 हजार लगेंगे, हम सब ठीक कर देंगे : पेट दर्द बता कर भर्ती हो जाना

सरकार भले ही भ्रूण हत्या रोकने के लिए कितने भी प्रयास करे, लेकिन शिवपुरी में लिंग परीक्षण और भ्रूण हत्या जारी है। ऐसा ही वीडियो शिवपुरी के अस्पताल का सामने आया है। वीडियो में दिख रही एक स्वास्थ्यकर्मी शहर के नामी अस्पताल की है। वीडियो में हेल्थकर्मी अबॉर्शन करवाने पहुंचे दंपति से डील कर रही है। वह कहती है कि अबॉर्शन तो हो जाएगा, लेकिन 17 हजार रुपए देने होंगे। इसमें दवाएं अस्पताल उपलब्ध कराएगा। जो दम्पति वहां भ्रूण हत्या करवाने पहुंचा था, वह वीडियो में यह स्वीकार करता सुनाई दे रहा है, उन्होंने भ्रूण परीक्षण करवा लिया है। गर्भ में पल रहा भ्रूण लड़की ही है।

INDORE ZOO : दो सप्ताह में बाद आएगा 18 फीट लंबा दुनिया का सबसे जहरीला सांप KING COBRA, इसे देखने दर्शकों के लिए बढ़ेगी ललक

हमने बहुत केस किए हैं, कुछ नहीं होता

इस पूरे मामले में बातचीत के दौरान जब गर्भवती महिला सुरक्षा को लेकर बात करती है तो अस्पताल की महिला कर्मचारी उसे भरोसा दिलाती है कि हमने बहुत केस किए हैं। अब तक तो कुछ नहीं हुआ है। अगर इसके बाद भी कोई गारंटी की बात करता है तो हम 99 परसेंट गारंटी देते हैं। एक परसेंट बात अलग है।

नीमच में तालिबानियों की तरह बर्बर मामला : मामूली बात पर आदिवासी को जमकर पीटा, फिर पिकअप से बांधकर 100 मीटर तक घसीटा; गंभीर हालत में अस्पताल में तोडा दम : 5 आरोपियों गिरफ्तार

डिस्पोज आपको करवाना होगा

अस्पताल की कर्मचारी इस बातचीत के दौरान यह भी कहती सुनाई दे रही है कि जो भ्रूण बाहर आएगा, हम उसे आपको भी दिखाएंगे की वह लड़का था या लड़की, हालांकि उसका डिस्पोज आपको करवाना होगा। हम आपको स्वीपर से मिलवा देंगे डील आपको करनी होगी।

6वीं में पढ़ने वाली मासूम के साथ दरिंदगी : छात्रा को डांस सीखाने के बहाने सुनसान इलाके खंडवा बायपास पर झाड़ियों में ले जाकर किया रेप : परिजनों ने बेल्ट और जूतों से की जमकर पिटाई

पेट दर्द बता कर भर्ती होना

वायरल वीडियो में अस्पतालकर्मी महिला यह भी कहती हुई सुनाई दे रही है कि आप अस्पताल में पेट दर्द की बात कह कर भर्ती होना। किसी से कोई बात मत करना और रूम लॉक रखना। हम ऐसे पेशेंट के कमरे को लॉक रखते हैं। वहां सिर्फ वही जाता है, जिसे हम भेजते हैं।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read