REWA : मीडिया से रूबरू हुए तेज तर्राट नवागत SP : बोले-पहले जिले के बारे में समझूंगा, फिर आम जनता से संवाद कर समस्या का हल निकालेंगे

 

REWA : मीडिया से रूबरू हुए तेज तर्राट नवागत SP : बोले-पहले जिले के बारे में समझूंगा, फिर आम जनता से संवाद कर समस्या का हल निकालेंगे

रीवा जिले के नवागत SP नवनीत भसीन ने सोमवार सुबह 11 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पहुंचकर पदभार ग्रहण कर लिया है। दोपहर को मीडिया से रूबरू होते हुए बोले-पहले जिले के बारे में समझूंगा, फिर राजनैतिक, जिला प्रशासन, नगर निगम और आम जनता से संवाद कर समस्या का हल निकालेंगे। पहले जिले के लोगों की प्राथमिकता समझूंगा। वह पुलिस से क्या अपेक्षा रखते है। यहां क्या समस्याएं है, किन-किन जगहों पर सुधार की जरूरत है। यह सब समझकर निर्णय लूंगा।

रेवांचल बस स्टैंड की सुधरी व्यवस्था : वर्षों से चल रही मनमानी पर लगा विराम, कलेक्टर का अल्टीमेटम; 30 मिनट से ज्यादा बसें खड़ी दिखीं तो होगी कार्यवाही

एनडीपीएस एक्ट पर पूरा फोकस

बातचीत में नवागत एसपी ने बताया कि वर्ष 2013 से प्रदेश में लागू हुए एनडीपीएस एक्ट पर पूरा फोकस होगा। हम नशे के सौदागरों को नहीं छोड़ेंगे। अवैध शराब, गांजा और नशीली कफ सिरप के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। ये कार्य तब संभव होगा, जब आम जनता से लेकर मीडिया, प्रशासन और राजनीतिक दल के लोग मदद करेंगे। ऐसे में कुछ भी बोलने से पहले जिले को समझना जरूरी है।

नवागत पुलिस अधीक्षक आज करेंगे पदभार ग्रहण, सिंघम के नाम से जाने जाते हैं नवनीत भसीन : नाम सुनते ही थर- थर कांप उठते हैं गुंडे- मवाली

2009 बैच के है आईपीएस अधिकारी

बता दें कि शनिवार की देर रात रीवा जिले में शहर से लेकर गांव तक बढ़ रही अपराधिक घटनाओं को देखते हुए एसपी राकेश सिंह का तबादला करते हुए नया पु​लिस कप्तान नवनीत भसीन को बनाया गया था। राकेश सिंह को रीवा एसपी पद से हटाते हुए सेनानी 13वीं वाहनी विसबल ग्वालियर भेजा गया है। जबकि उनकी जगह पर तेज तर्राट आईपीएस अधिकारी नवनीत भसीन को रीवा का नया एसपी बनाया गया है। 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी नवनीत भसीन सहायक पुलिस महानिरीक्षक पीएचक्यू भोपाल से पहले ग्वालियर एसपी और सीधी एसपी भी रह चुके है।

थाना प्रभारियों के तबादले : विद्यावारिधि तिवारी को मिली चोरहटा थाने की कमान तो शिवपूजन गए बालाघाट, ओंकार तिवारी को भेजा गया पुलिस लाइन

14 माह जिले में रहे राकेश सिंह

प्रदेश सरकार ने शनिवार की रात 35 आईपीएस अधिकारियों के थोकबंद तबादले किए है। इसमें 14 स्पेशल डीजी, एडीजी और आईजी रैंक के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। तो वहीं 21 एसपी रैंक के अधिकारियों को भी इधर से उधर हुए थे। जिसमे रीवा एसपी रा​केश सिंह भी प्रभावित हुए है। गौरतलब है कि राकेश सिंह को रीवा जिले में 14 माह तक एसपी रहने का मौका मिला है। उनके तबादले की चर्चा एक माह से जिले में चल रही थी।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read