नईगढ़ी बहुचर्चित गैंगरेप : बारीकी से साक्ष्य संकलन करने SIT गठित, 7 सदस्यों वाली टीम हर पहलुओं की करेगी जांच

 
मऊगंज एसडीओपी नवीन दुबे

REWA GANGRAPE : रीवा में इन दिनों बढ़ते अपराध को लेकर पुलिस अधीक्षक ने विभाग द्वारा ऑपरेशन क्लीन अभियान चलाया जा रहा है जिस पर सभी वारंटी से लेकर एवं लंबे अरसे से फरार आरोपियों तक पुलिस ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है एवं रीवा में बढ़ रहे अपराध को खत्म करके बचे हुए आरोपियों की तलाश जारी है। आपको जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में हुए नईगढ़ी में गैंगरेप मामले में पांच आरोपी सोमवार तक गिरफ्तार हो चुके थे वही मंगलवार को गैंगरेप का छठवां आरोपी भी गिरफ्तार हो चुका है।

क्या था मामला

बता दें कि अपने फ्रेंड के साथ अष्टभुजा मंदिर घूमने गई थी. जहां कलाकृतियों और जलप्रपातों  का लुफ्त उठाते सेल्फी ले रहे लड़का लड़की के पास अचानक से दो बाइक सवार में तीन युवक पहुंचे और मारपीट करते हुए लड़की के पायल छुड़ाते हुए लड़की के साथ बारी-बारी से अपनी हवस का शिकार बनाया।  लड़की चिल्लाती रही दर्द से कराहती रही, मिन्नते करती रही, गिनती करती रही, लेकिन आरोपियों को एक भी लड़की पर तरस ना आया.  

सभी आरोपी गिरफ्तार

रविवार की सुबह नईगढ़ी थाना प्रभारी मिथलेश सिंह यादव ने शिवम यादव, किशन बहेलिया, विद्यासागर बहेलिया निवासी लालगंज को गिरफ्तार कर लिया। वहीं रविवार की रात दो आरोपियों को मुंबई के थाणे से पकड़कर मंगलवार की शाम रीवा लाया गया है। जबकि छठवें आरोपी को सोमवार की रात यूपी के प्रयागराज जिले के कोरांव से गिरफ्तार कर लिया है।

ALSO READ :  बैकुंठपुर हत्याकांड में एक बाल अपचारी सहित तीन आरोपी गिरफ्तार : दो फरार आरोपियों की तलाश जारी

आपको बता दें कि दोस्त के सामने ही 6 आरोपियों ने इस गैंगरेप घटना को अंजाम दिया है लड़की का दोस्त चिल्लाता रहा, हाथ जोड़ता रहा, मन्नते करता रहा, छोड़ दो हमें जाने दो छोड़ दो हमें जाने दो, लेकिन उसके बाद भी आरोपी नहीं माने और अपनी हवस का शिकार बनाने के लिए लड़की के साथ बारी-बारी से रेप किया। 

मऊगंज SDOP ने बताया

आपको बता दें कि मऊगंज SDOP नवीन दुबे ने जानकारी देते हुए बताया कि 16 साल की नाबालिक लड़की अपने दोस्त के साथ अष्टभुजा मंदिर घूमने गई थी जहां दर्शन के दौरान वह मंदिर के पास जलप्रपातों  का लुफ्त उठा रही थी अचानक से बाइक सवार छह की संख्या में आरोपी पहुंचे लड़का-लड़की को बंधक बनाकर उनके साथ मारपीट की और उनके मोबाइल फोन और लड़की के पायल छुड़ा लिए. उसके बाद लड़की के साथ बलात्कार करने लगे जहां घटना की जानकारी परिजनों को दी गई जहां देर शाम FIR दर्ज कर आरोपियों को धर  पकड़ने का काम शुरू हो गया था. जहां शाम को ही पुलिस ने दो आरोपियों को पकड़ते हुए सफलता हासिल की थी।  आपको बता दें कि इस घटना से पूरा रीवा जिला सहमा हुआ है हाल ही में राज निवास कांड शांत हुआ नहीं था कि पूरे रीवा में इस गैंगरेप ने कोहराम मचा दिया। 

ALSO READ : रीवा नईगढ़ी गैंगरेप कांड : लड़की से गैंगरेप का 6 आरोपी UP के कोरांव से गिरफ्तार, एक साथ बैठाकर होगी पूछताछ

बता दें कि हाल ही में हुए नईगढ़ी बहुचर्चित रेप कांड से एक बार फिर रीवा जिला थम सा गया है।  देखा जा रहा है कि ऑपरेशन क्लीन को लेकर रीवा किस तरह से खाली-खाली सा नजर आता है। वहीं शाम होते ही हाईवे सहित गली मोहल्लों की गलियां सुन पड़ जाती है.  पुलिस अधीक्षक द्वारा चलाए गए ऑपरेशन क्लीन को लेकर अपराधियों में खौफ सा फैल गया है.  बचे कूचे  अपराधी अपने घरों से निकल नहीं रहे हैं। इन दिनों फरार वारंटी और आदतन आरोपियों की धरपकड़ लगातार जारी है। आपको बता दें कि इस घटना पर बारीकी से काम करने एवं सभी सही साक्ष्यों को पूर्ण रूप से तैयार करने की जिम्मेदारी पुलिस अधीक्षक ने मऊगंज एसडीओपी नवीन दुबे को यह कमान सौंपी है। बता दें कि एसडीओपी नवीन दुबे कई बड़े सफल ऑपरेशन को लेकर खरे उतरे हैं। हमेशा सुर्खियों में रहने वाली एसडीओपी नवीन दुबे को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। बता दें कि यह 7 सदस्यों की टीम होगी जहां हर पहलू पर सटीक निगरानी होगी, हर तरह से बारीकी से साक्ष्य संकलन की पूर्ण रूप से रिपोर्ट तैयार की जाएगी। वही देर शाम रीवा एसपी ने यह पत्र जारी करते हुए टीम को एक विशेष पहलू की जांच के लिए खरा उतारा है।

7 सदस्यों वाली टीम में ये शामिल

एएसपी अनिल सोनकर ने बताया कि एसआईटी टीम में मऊगंज एसडीओपी नवीन दुबे, साइबर सेल प्रभारी निरीक्षक बीरेन्द्र सिंह पटेल, नईगढ़ी थाना प्रभारी उपनिरीक्षक मिथलेश यादव, नईगढ़ी थाने के उपनिरीक्षक शैलेन्द्र सिंह, नईगढ़ी थाने के कार्यवाहक उपनिरीक्षक उपेन्द्रनाथ तिवारी, प्रधान आरक्षक श्रीकांत द्विवेदी और आरक्षक आनंद अग्निहोत्री को शामिल किया गया है।

Related Topics

From Around the Web

Latest News