Mohania Valley Tunnel : विंध्य की जनता को जल्द समर्पित होगा सीधी-रीवा मोहनिया घाटी टनल,  97 फीसदी काम हुआ पूरा

 
REWA SIDHI TUNNEL
रीवा. मध्य प्रदेश के रीवा जिले के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 39 (National Highway No. 39) में सीधी-रीवा सीमा (Sidhi-Rewa border) पर मोहनिया घाटी में बनने वाले टनल (tunnel) का निर्माण कार्य अपने तय समय से पहले पूरा होने जा रहा है। टनल का निर्माण अबतक करीब 97 फीसदी पूरा हो चुका है। मौजूदा समय में सुरंग में लाइट, हवा निकासी और CCTV कैमरे लगाने का काम चल रहा है। जल्द ही सूबे के विंध्य की जनता को इसकी सौगात मिल जाएगी। बता दें कि, अंतिम चरण में चल रहे काम पूरा करने के साथ साथ इसके लोकार्पण कार्यक्रम की तैयारियां भी तेज कर दी गई हैं।

सीधी-रीवा सीमा मोहनिया घाटी टनल

आपको बता दें कि, टनल रीवा जिले में स्थित रांची नेशनल हाइवे (Ranchi National Highway) पर स्थित है। इसका निर्माण होने के बाद यात्रा करने वालों को सात किलोमीटर की दूरी कम तय करनी होगी। साथ ही वाहनों को मोहनिया घाटी (Mohania Valley) के घुमावदार मोड़ (curved bend) और चढ़ाई से भी राहत मिल जाएगी। अभी घाटी में वाहनों को गुजरने में 30 मिनट का समय लग जाता है। टनल की शुरुआत हो जाने पर इसका समय सिर्फ 5 मिनट ही शेष रह जाएगा।

tunnel mohaniya ghaat

1004 करोड़ के मोहनिया टनल प्रोजेक्ट में 2290-2290 मीटर की दो टनल है. तीन-तीन लेन की इन दोनों टनल की चौड़ाई 13-13 मीटर है. जिसकी ऊंचाई साढ़े 6 मीटर रखी गई है. इन दोनों टनल को इंटर कनेक्ट करने दोनों को तीन स्थानों से जोड़ा गया है, जिससे एक टनल में जाने के बाद वाहन चाहे तो बीच में ही दूसरे टनल से वापस लौट सकता है.

सीधी-रीवा सीमा मोहनिया घाटी टनल

मार्च 2023 तक पूरा करना था निर्माण
आपको बता दें कि, मोहनिया घाटी में टनल और बायपास निर्माण (bypass construction) के लिए मार्च 2023 तक का समय निर्धारित किया गया था। लेकिन, अपने समय से 8 महीने पहले ही टनल का मुख्य काम पूरा हो चुका है। इसे लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने मोहनिया घाटी टनल प्रगति की सराहना की है। मोहनिया घाटी टनल (Mohania Valley Tunnel) की खासियत ये है कि, 2.29 किलोमीटर लंबी टनल में अप और डाउन दिशा (up and down direction) में टू लेन की सड़क (two lane road) है। 6 स्थानों पर आपस में टनल जुड़ी हुई है। ताकि कभी कहीं पर जाम की स्थिति होने पर यातायात को डायवर्ट किया जा सके।

mohaniya tunnel

विशेषताओं से भरी सुरंगें
बता दें कि रीवा जिले में अद्भुत मोहनिया घाटी में निर्माणाधीन 6 लेन सुरंग मार्ग का निर्माण पूरा करने के लिए दिसंबर 2023 की अवधि निर्धारित की गई है। इसका निर्माण 30 जून 2022 तक पूरा हो जाएगा। इसकी दीवारों में वाटर प्रूफिंग के लिए प्लास्टिक कवर लगाया गया है। सीपेज से आने वाले पानी की निकासी के लिए उचित व्यवस्था की गई है। सुरंग मार्ग में तीन-तीन लेन की दो सुरंगें हैं, दोनों सुरंगों में 6 स्थानों पर सुरंग बदलने के लिए कट्स बनाए गए हैं। सुरंग में कैमरे, एनाउसिंग सिस्टम, प्रकाश तथा पानी की निकासी की व्यवस्था की गई है। टनल में यदि कोई वाहन रुकेगा तो कैमरे के माध्यम से कन्ट्रोल रूम को तत्काल इसकी सूचना मिल जाएगी। टनल का आगामी 100 वर्षों तक उपयोग किया जा सकेगा।
टनल के समीप एक्वाडक्ट में बाणसागर नहर
मोहनिया घाटी पर टनल के उपर ही बाणसागर डैम से यूपी और एमपी के लिए अलग-अलग कैनाल के उपर एक्वाडक्ट का निर्माण किया गया है। इसमें एमपी वाली कैनाल के उपर ब्रिज और यूपी कैनाल के उपर सड़क बनी है। प्रदेश में यह एकमात्र निर्माण है जिसमें नीचे टनल, उपर कैनाल और उसके उपर सड़क है।

Related Topics

From Around the Web

Latest News