BHOPAL : शिवराज मंत्रिमंडल में विंध्य से नये चेहरे को तवज्जो : पूर्व मंत्रियों को झटका


राजधानी दिल्ली में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आला कमान से की मुलाकात मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार पर अंततः भाजपा आला कमान ने अपनी हरी झंडी प्रदान कर दी है। पिछले दो दिनों से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली में कैबिनेट विस्तार के लिए जमे हुए हैं। मध्य प्रदेश के सीएम ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गहमंत्री अमित शाह, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात कर अपने मंत्रिमंडल विस्तार पर फैसला किया गया है। 

ये भी पढ़े : CORONA का बवंडर : MP में भाजपा के एक और विधायक को हुआ कोरोना, RS चुनाव के दौरान संक्रमित विधायक के संपर्क में आए थे

भाजपा संगठन से जुड़े सूत्रों ने बताया कि भारी कशमकश और लगातार आला कमान से मिल रहे संकेतों पर अमल करते हुए दिग्गज नेताओं की एक लाबी को मंत्रिमंडल विस्तार प्रकिया से बाहर कर दिया गया है। सूत्रों ने बताया कि मध्यप्रदेश सरकार के पूर्व मंत्रियों को कैबिनेट विस्तार में सबसे अधिक जोरदार झटका लगा है। 

 ये भी पढ़े : जिला पंचायत CEO स्वप्निल वानखेड़े ने कार्यालय में शुरू की कसावट : भ्रष्ट्राचारियों में मची खलबली'

विंध्य क्षेत्र के एक कद्दावर नेता सहित तकरीबन आधा दर्जन पूर्व मंत्रियों का पत्ता साफ हो गया है। हां यह जरुर है कि अधिकांश भाजपा के पूर्व मंत्रियों ने चौथी बार भी भाजपा सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने के लिए तमाम तरह के तिकड़म भिड़ाने का काम जरुर किया था पर भाजपा आलाकमान की नसीहत पर अमल करना भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मजबूरी बन गई।

ये भी पढ़े : सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा REWA के इस जवान का पत्र : बना चर्चा का केंद्र : एक पत्र ने किया मशहूर

भाजपा आलाकमान ने मुख्यमंत्री को पहले ही यह संकेत दे दिए थे कि भाजपा सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार से उन लोगों को बाहर रखा जाए जो पहले मंत्री रह चुके हैं, नये चेहरों पर भाजपा आलाकमान लगातार जोर दे रहा था। 

भाजपा सरकार और संगठन की बारीकियों को समझने वाले मुख्यमंत्री, संगठन और भाजपा आलाकमान के सामने पहली बार विंध्य क्षेत्र के पांच विधायकों ने मुखर होकर पूर्व मंत्री का खुलकर विरोध किया था, जिसके बाद से यह तय हो गया था कि विवाद के कारण पार्टी और सरकार को कोई नुकसान न पहुंचे, इस बात को ध्यान में रखते हुए ही विंध्य क्षेत्र के एक कद्दावर नेता सहित कुछ और पूर्व मंत्रियों को भाजपा सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार से बाहर कर दिया गया है। 

ROYAL फैमली में पहुँचा कोरोना, BJP विधायक दिव्यराज सिंह की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव : किला और महल हुआ सील

यह माना जा रहा है कि इन आधा दर्जन पूर्व मंत्रियों की सेवाएं अब संगठन को मजबूत करने के लिए ली जाएंगी। विंध्य क्षेत्र से एक कद्दावर नेता को बाहर करने के साथ साथ नये चेहरों और वरिष्ठ विधायकों को सरकार में शामिल होने का अवसर प्रदान किया गया है।

REWA NEWS MEDIA पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें
रीवा, सिरमौर ,सेमरिया ,मनगवा, देवतलाब, मऊगंज ,गुढ व त्यौथर क्षेत्र की हर खबर सिर्फ  रीवा न्यूज़ मीडिया पर : VISIT NOW : www.rewanewsmedia.com


Powered by Blogger.