INDORE : रमेश मेंदोला को मंत्री नहीं बनाने के विरोध में समर्थक ने किया आत्मदाह का प्रयास


इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आज किए गए मंत्रिमंडल विस्तार में इंदौर से विधायक रमेश मेंदोला को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने के विरोध में इंदौर में पार्टी कार्यालय के सामने एक कार्यकर्ता ने आत्मदाह करने का प्रयास किया। इससे पहले भी सोशल मीडिया पर रमेश मेंदोला को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का विरोध जारी किया गया तथा उनके समर्थकों ने भारतीय जनता पार्टी को छोड़ने की भी बात कही।


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आज किए गए मंत्रिमंडल विस्तार में इंदौर से सुश्री उषा ठाकुर को मंत्रिपरिषद में शामिल किया गया जबकि कैलाश विजयवर्गीय विधायक रमेश मेंदोला को मंत्री बनाने के लिए प्रयासरत थे। उम्मीद की जा रही थी कि लगातार जीतने वाले विधायक रमेश मेंदोला को इस बार मंत्रिमंडल में जगह मिल जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ तो उनके समर्थकों का गुस्साफ़ूट पड़ा। सुमित हार्डिया नामक कार्यकर्ता ने खुद पर तेल डाल कर आत्महत्या करने का प्रयास किया। लेकिन अन्य समर्थकों ने उसे पकड लिया।


मंत्रिमंडल गठन के बाद में अब जिन विधायकों को मंत्री पद नहीं मिला है उनके समर्थकों में बेहद नाराजगी देखने को मिल रही है ऐसी ही एक नाराजगी है इंदौर में बीजेपी विधायक रमेश मेंदोला को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने पर, विधायक रमेश मेंदोला के समर्थक इस कदर नाराज हैं उसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मेंदोला के मंत्री नहीं बनाए जाने पर नाराज एक कार्यकर्ता ने बीजेपी कार्यालय के सामने खुद को आग लगाकर आत्मदाह करने की कोशिश की हालांकि वहां मौजूद पुलिसकर्मी और बाकी कार्यकर्ताओं ने उसे आग लगाने से रोक लिया. 


असल में शिवराज मंत्रिमंडल में एक तरफ जहां सिंधिया समर्थकों का बोलबाला है वहीं दूसरी तरफ बीजेपी में पार्टी के कई वरिष्ठ और बड़े नेताओं को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली है जिसके बाद कार्यकर्ताओं में आक्रोश का माहौल बना हुआ है इंदौर में बीजेपी विधायक रमेश मेंदोला को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने पर भी कार्यकर्ताओं की वैसी ही नाराजगी है हालांकि इस मामले में चर्चा थी कि रमेश मेंदोला को शिवराज मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा पर अंतिम क्षणों तक उनके नाम पर मुहर नहीं लग पाई जिसकी वजह से मामला अटक गया अब इसको लेकर कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है मंत्री न बनाए जाने से नाराज एक कार्यकर्ता ने बीजेपी कार्यालय के सामने खुद को आग लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की कार्यकर्ता सुमित हंडिया मैं अपने ऊपर के रस में केरोसिन छिड़ककर खुद को आग लगाने की कोशिश की घटनास्थल पर मौजूद बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उससे बोतल छीन ली वहीं दूसरी तरफ बीजेपी कार्यकर्ताओं ने शिवराज सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि हर बार विधायक रमेश मेंदोला की उपेक्षा हो रही है जबकि विपरीत परिस्थितियों में मेंदोला हर काम करने को तैयार रहते हैं.


दूसरी तरफ इंदौर के अलावा रीवा सीधी और सिंगरौली के कार्यकर्ता बेहद नाराज हैं दबी जुबान में सभी इस नए मंत्रिमंडल में विंध्य की उपेक्षा को लेकर नाराज हैं सिंगरौली में तीन बार के विधायक राम लल्लू वैश्य को मंत्री पद की पूरी उम्मीद थी उनसे बायोडाटा भी मंगाया गया था लेकिन इसके बाद भी उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया जिसको लेकर के सीधी सिंगरौली सहित पूरे विंध्य में आक्रोश है हालांकि यह अलग बात है कि अभी बीजेपी के वरिष्ठ नेता और नाराज समर्थक मीडिया के सामने कुछ भी बोलने से हिचक रहे हैं.


Powered by Blogger.