MP LIVE : शिवराज सरकार का कैबिनेट विस्तार आज, राजभवन में इन 25 विधायकों को मिल सकता है मंत्री पद


भोपाल: मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल का दूसरा विस्तार आज होने जा रहा है. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंत्रिमंडल विस्तार पर मुहर लगा दी है. मध्य प्रदेश कैबिनेट में 25 से 30 नए चेहरों को जगह मिल सकती है. इस विस्तार को लेकर बहुत सारे सवाल भी उठ रहे हैं. क्या प्रदेश में दो उपमुख्मंत्री भी होगे और क्या पुराने नेताओं को दरकिनार कर नये नेताओं को मंत्री बनाया जाएगा. इसके जबाव नये मंत्रियों के शपथ लेने के बाद ही मिल पाएगा.


शिवराज सिंह चैहान के मंत्रिमंडल का विस्तार लंबे समय से अटक रहा था. शिवराज जबसे दिल्ली से आलाकमान से मिलकर लौटे थे तब से विस्तार की अटकलबाजी चल रही थी और बुधवार की दोपहर मुख्यमंत्री ने बता दिया कि कल नए मंत्री शपथ लेंगे.


राजधानी में मुख्यमंत्री आवास पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रदेश प्रभारी विनय सहस्रबुद्धे, प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा व प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुहास भगत की बुधवार की शाम से शुरू हुई बैठक देर रात तक चली. सहस्रबुद्ध दिल्ली से केंद्रीय नेतृत्व द्वारा सुझाए गए नामों की लिस्ट लेकर भोपाल पहुंचे हैं.


शिवराज सिंह चैहान मंत्रिमंडल के विस्तार में 25 मंत्रियों के शपथ लेने की संभावना है. जिनमें दस मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बताये होंगे. सिंधिया के साथ आठ मंत्रियों ने भी कमलनाथ सरकार छोड़ी थी. जिनमें से दो तो मंत्री बन गये हैं बाकी के छह पूर्व मंत्रियों के साथ चार अन्य नाम भी सिंधिया खेमे के जोड़े गये हैं. बीजेपी में भी परंपरागत तौर पर मंत्री बनने वाले नामों पर आपत्ति के बाद कुछ पुराने मंत्रियों के नाम आलाकमान ने काटे हैं.


शिवराज सरकार के संभावित चेहरे, सिंधिया के सुझाये नाम भी शामिल
इमरती देवी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युम्न तोमर, प्रभुराम चैधरी, राज्यवर्धन सिंह, हरदीप डंग, बिसाहूलाल सिंह, एंदल सिंह कंसाना, रणवीर जाटव, ओपी एस भदौरिया ये सारे सिंधिया के सुझाये नाम हैं. शिवराज ने जिन नामों को आगे किया है वो हैं गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह, अरविंद भदौरिया, यशोधरा राजे सिंधिया, मोहन यादव, चेतन्य कश्यप, रामेश्वर शर्मा, गिरीश गौतम, देवी सिंह सैयाम, नंदनी मरावी, उपा ठाकुर, विप्णु खत्री, प्रेमसिंह पटेल, संजय पाठक, यशपाल सिसोदिया. इस लिस्ट में आखिरी मौके तक बदलाव होना संभव है.

24 सीटों पर होने हैं उपचुनाव

मध्य प्रदेश बीजेपी के सामने बडा संकट यही है कि उसके पास पुराने विधायकों की बड़ी फौज है मगर आने वाले दिनों में 24 सीटों पर उपचुनाव होने हैं. इसलिये पार्टी का फोकस उन जगहों के लोगों को चुनाव के दौरान मजबूत करने का है. इसी कड़ी में सिंधिया के साथ आये मंत्रियों और विधायकों को मंत्री पद से नावाजा जा रहा है.

मगर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ शिवराज सिंह चौहान के कामकाज की खिल्ली उड़ाते ही नजर आये. सब कुछ ठीक ठाक रहा तो आज दोपहर राजभवन में या उसके सामने बने मिंटो हाल में शपथग्रहण समारोह होगा. शपथग्रहण समारोह का समय कन्फर्म नहीं हुआ है, शाम 4 बजे तक हो जाएगा.


Powered by Blogger.