CG NEWS : जिले में मिले 1483 संक्रमित, 9 लोगों की हो चुकी है मौत

बिलासपुर। संक्रमित मिलने का सिलसिला कम नहीं हो रहा है। गुरुवार को फिर 72 कोरोना संक्रमित मिलने की पुष्टि की गई है। इसमें शहरी क्षेत्र के 48 लोग शामिल हैं। वहीं बिल्हा से 15, मस्तूरी से तीन, कोटा से पांच और जांजगीर-चांपा जिले से एक संक्रमित मिला है। बिलासपुर जिले में अब तक 1483 लोग कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 970 लोगों को स्वस्थ्य होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है, जबकि 503 लोगों का अभी उपचार चल रहा है। बता दें कि जिले में अब तक 9 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक 72 संक्रमितों में से 30 में कोरोना के लक्षण मिले हैं। वहीं अन्य 42 में कोरोना के लक्षण नजर नहीं आ रहा है। हालांकि संक्रमित मिलने की पुष्टि होने के बाद सभी के उपचार की व्यवस्था की गई है। इन शहरी क्षेत्र में मिले संक्रमितों में मसानगंज, वार्ड नंबर तीन अमेरी, गायत्री मंदिर चौक विनोबा नगर, विवेका रेसीडेंसी सरकंडा, हाईकोर्ट बिलासपुर, मंगला बिलासपुर, अयोध्या नगर, अशोक नगर, तारबाहर, अंबेडकर नगर, ओम नगर जरहाभाठा, संजय हाइट सरकंडा, विनोबा नगर, रामा वेली सिटी तिफरा, महर्षि स्कूल रोड मंगला, हेमूनगर, अमेरी, गुरुनानक चौक तोरवा, कॅरियर पाइंट दयालबंद, वायरलेस कॉलोनी बड़ा गिरजा चौक, आरपीएफ बैरक बुधवारी बाजार, प्रभात चौक सरकंडा, अपोलो हॉस्पिटल, गीतांजलि सिटी सरकंडा, ओम रेसीडेंसी रिंग रोड, भारतीय नगर, नेहरू नगर, तारबाहर, दयालबंद, जूना बिलासपुर, कतियापारा जूना बिलासपुर, ओम नगर जरहाभाठा, देविका विहार राजकिशोर नगर के रहने वाले हैं।
जिले में गुरुवार को तीन कोरोना पॉजिटिव की मौत हो गई है। इसमें 46 वर्षीय महिला ने सिम्स में दम तोड़ा। वहीं एक 55 वर्षीय अधेड़ मृत हालत में सिम्स पहुंचा, जिसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इसके अलावा एक 62 वर्षीय संक्रमित महिला की संभागीय कोविड हॉस्पिटल में उपचार के दौरान मौत हो गई।
जिले में कोरोना का संक्रमण बढ़ते जा रहा है और लगातार संक्रमितों की मौत हो रही है। इसी कड़ी में गुरुवार को तीन संक्रमित की मौत की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने की है। मृतक में दयालबंद में रहने वाली एक 62 वर्षीय महिला है। जिसे 26 अगस्त को कोरोना संक्रमित पाया गया था। उसी दिन टीम जब उसे घर लेने पहुंची तो वह गंभीर हालत में मिली। उसे रेलवे कोविड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, लेकिन उसकी स्थिति में सुधार नहीं आने पर बुधवार की रात को ही उसे संभागीय कोविड हॉस्पिटल रेफर किया।
गुरुवार की सुबह उसकी मौत हो गई। इसी तरह ग्राम हिर्री में रहने वाली एक 46 वर्षीय महिला को 25 अगस्त को गंभीर हालत में सिम्स में भर्ती किया गया था। कोरोना लक्षण को देखते हुए उसका एंटीजन सैंपल लिया गया। इसमें उसके कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि की गई। उसकी स्थिति में सुधार नहीं आ रहा था और गुरुवार की शाम चार बजे उसकी मौत हो गई। इसी तरह मस्तूरी में रहने वाले एक 55 वर्षीय अधेड़ को हालत बिगड़ने पर 25 अगस्त की रात को सिम्स लाया गया। यहां के जांच के दौरान चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद आरटी-पीसीआर सैंपल लेकर शव को मरच्युरी में रखवाया गया था। गुरुवार की शाम मृतक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली।
तीनों को थी अन्य बीमारी
तीन कोरोना पॉजिटिव की मौत की वास्तविक जानकारी चिकित्सकों को नहीं मिल पाई है। एक मृत हालत में सिम्स पहुंचा था। वहीं दयालबंद की 62 वर्षीय महिला की बीमारियों के बारे में पता किया जा रहा था। उससे पहले ही उसकी मौत हो गई। इसी तरह हिर्री की 46 वर्षीय महिला बेहद कमजोर हो चुकी थी। तीनों मृतक के परिजन के अनुसार ये पिछले कुछ समय से अन्य बीमारियों से ग्रसित थे और कमजोर हो चुके थे।
अब तक 23 ने तोड़ा दम
जिले में लगातार मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है। गुरुवार के तीन कोरोना पॉजिटिव की मौत हुई है। इसी के साथ जिले में अब तक 23 कोरोना संक्रमित की मौत हो चुकी है। जानकारी के मुताबिक अभी भी सिम्स की मरच्युरी में शव रखे हुए हैं, जिनकी कोरोना रिपोर्ट आना बाकी है। इसके अलावा अस्पतालों में कई गंभीर संक्रमित भर्ती चल रहे हैं, जिनके हालत में सुधार की गति थम सी गई है।
जिले में गुरुवार को तीन कोरोना पॉजिटिव की मौत हुई है। इसमें दो महिला और एक पुरुष शामिल हैं। सभी अन्य प्रकार की बीमारियों से ग्रसित थे।
डॉ. प्रमोद महाजन, सीएमएचओ, बिलासपुर



Powered by Blogger.