यात्रीगण कृपया ध्यान दें ! रेल टिकट के साथ वसूला जा सकता है ये नया शुल्क : पढ़ ले ये काम की खबर

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे लगातार यात्रियों की सुविधा में बढ़ोतरी कर रही है, लेकिन वहीं दूसरी ओर सुविधाओं के एवज में शुल्क भी भारी भरकम वसूला जा रहा है। रेलवे की फीस बढ़ोतरी का सीधा असर आम जनता की जेब पर पड़ रहा है, जो ट्रेनों में सफर करते हैं। इसी बीच जानकारी मिल रही है कि भारतीय रेलवे ने कुछ स्टेशनों में यूजर्स चार्ज वसूलने की तैयारी कर रही है। बताया जा रहा है कि यूजर चार्ज के तौर पर यात्रियों से 10 से 50 रुपए तक वसूला जा सकता है। फिलहाल अभी रेल मंत्रालय अभी इस प्रस्ताव पर अधिकारिक मुहर नहीं लगाई है और न ही रेलवे ने अधिकारिक पुष्टि की है। 

इंदौर में लगातार बढ़ रही संक्रमित मरीजों की संख्या, सुदामा नगर बना हॉट स्पॉट : 44 दिन में मिले 298 नए मरीज

मिली जानकारी के अनुसार रेलवे ने करीब 100 से 120 स्टेशनों में यूजर्स चार्ज स्कीम लागू करने का फैसला किया है। इस स्कीम के तहत रेलवे यात्रियों से 10 से 50 रुपए तक अतिरिक्त शुल्क लिया जाएगा, जिसके एवज में यात्रियों को स्टेशन तो साफ-सुथरा मिलेगा ही, साथ  उसमें कई अत्याधुनिक सुविधाएं भी होंगी।  इसमें सबसे ज्यादा शुल्क फर्स्ट क्लास में यात्रा करने वाले यात्री भरेंगे। अगले दो हफ्ते के अंदर इस मामले में रेलवे कोई फैसला ले सकता है।

 श्मशान घाट पुलिया के ऊपर से गिरी ट्रैक्टर-ट्रॉली, दूल्‍हे सहि‍त 6 की मौत, 21 घायल

मिली जानकारी के अनुसार पायलेट प्रोजेक्ट के तौर पर इस स्कीम को पहले चरण में नई दिल्ली, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस मुंबई, नागपुर, तिरुपति, चंडीगढ़, ग्वालियर, साबरमति समेत 120 बड़े स्टेशनों पर लागू किया जा सकता है। अधिकारियों की मानें तो अभी इस प्रस्ताव पर रेल मंत्रालय की बैठक नहीं हुई है, बैठक होने के बाद ही कोई अधिकारिक बयान जारी किया जाएगा। 

LADY DON अलका और उसके पति के अवैध मकान पर चला बुलडोजर, एंटी माफिया अभियान के तहत हुई कार्यवाही 

वहीं जब रेलवे अधिकारियों से इस बारे में पूछा गया कि क्या सभी स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म शुल्क बढ़ेगा, तो उन्होंने कहा कि अभी इस पर विचार विमर्श किया जाना बाकी है। साथ ही उम्मीद जताई जा रही है कि अनारक्षित श्रेणी और लोकल ट्रेन के यात्री इस शुल्क से बच सकते हैं। इससे पहले रेलवे ने स्पेशल ट्रेन के यात्रियों को एक बड़ा झटका दिया था। कुछ दिन पहले खबर आई थी कि स्पेशल ट्रेनों के लिए कम से कम 500 किमी का किराया अनिवार्य कर दिया गया है।

Powered by Blogger.