MP : जंगल में हथियार बनाने का कारखाना लगाने वाले 5 आरोपी गिरफ्तार; 29 पिस्टल, 22 कट्टे सहित 51 फायर आर्म्स और 14 जिंदा कारतूस बरामद

Telegram

क्राइम ब्रांच ने फायर आर्म्स बनाने वाले सिकलीगरों के अड्डे पर दबिश देकर 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। सिकलीगर गैस और कोयला की भट्टी लगाकर, लोहे के पाइप और तांबा आदि धातुओं की मदद से हथियार तैयार करते थे। इन्होंने बड़वानी जिले के नवलपुरा के जंगलों में हथियार बनाने का कारखाना लगा रखा था। पुलिस को यहां से फायर आर्म्स बनाने में प्रयोग होने वाले सामान छैनी, हथौड़ा, पाइप, हस्तचलित धौकनी, कटर, पेचकस, फाइल, रेती, स्प्रिंग व अन्य सामान बरामद किया है।

इकलौते बेटे के सुसाइड के एक महीने बाद खंडवा की महिला गंगा में कूदी, नोट में लिखा- मेरे अंदर हिम्मत नहीं बची

क्राइम ब्रांच के एएसपी गुरु प्रसाद पाराशर ने बताया कि इंदौर पुलिस ने 29 पिस्टल, 22 कट्टे सहित कुल 51 फायर आर्म्स और 14 जिंदा कारतूस, 5 हजार रुपए नकद के साथ 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में आरोपी प्रकाश सिंह सिकलीगर ने बताया कि उसके पिता औजारों में धार लगाने का काम करते हैं, जिससे उसे बचपन से ही लोहे का काम करने में आसानी होती थी। पहले वह ताला चाबी बनाने का काम करता था, लेकिन धार जिले के गंधवानी के सिकलीगर रवि सोलंकी के संपर्क में आने पर वह भी हथियार बनाने लगा। हथियार बनाकर वह 10 से 15 हजार रुपए में ट्रक ड्राइवरों सहित अन्य आपराधिक किस्म के लोगों को बेच देता था।

MP बजट 2021: बिजली के बढ़े हुए दामों को लेकर सदन में हंगामा, विधानसभा अध्यक्ष ने ऊर्जा मंत्री को मामले की जांच कराने कहा

हथियार बनाने को लेकर आरोपी प्रकाश सिकलीगर निवासी ग्राम नवलपुरा अंजड बड़वानी ने कई अहम जानकारी दी। पुलिस ने उसके बताए स्थान धार के सिंघाना, गंधवानी, लालबाग, बाकानेर, बड़वानी के उमरठी, ओझर, शाहपुरा, खुरमाबाद एवं आरोपी के निवास नवलपुरा में दबिश दी जहां वह हथियार तैयार करता था। जहां पर वह देशी कट्टे/ पिस्टल व मैग्जीन आदि बनाता था। पुलिस ने आरोपी के घर के पीछे दबिश दी तो यहां पर हथियार बनाने का अड्डा मिला। जहां से देशी कट्टे/पिस्टल बनाने की सामग्री बरामद हुई। इसमें छैनी, हथौड़ा, पाइप और कोयले से जलने की हस्तचलित हवा धौंकने की मशीन, कटर, पिंचिस, पेचकस, फाइल, रेती, स्प्रिंग आदि सामान शामिल है।

बस ऑपरेटरों की हड़ताल निरस्त : 1 मार्च से बढ़ेगा बस किराया, बस संचालक और यात्रियों की सहमति से तय होंगे रेट

ऐसे बनाता था हथियार

आरोपी ने बताया कि वह घर के ही पास जंगल में भट्टी लगाकर देशी कट्टे व देशी पिस्टल का निर्माण करता था, जिन्हें वह आपराधिक तत्वों को बेच देता था। जंगल में भट्टी लगाकर लोहे के पात्रों को पिस्टल एवं देशी कट्टे के बॉडी व लकड़ी के हत्थे बनाने के लिए कटर एवं छैनी हथौड़े से काटकर उसे आकार देकर, कोयले की भट्टी मे गरम कर उनको मोड़ने एवं उनको ठंडा होने पर अलग-अलग हिस्सों को जोड़ने, गैस वेल्डिंग करने के उपयोग में लेता था। इसके बाद फाइल व रेतमाल को फिनिंसिंग और चमक के लिए उपयोग में लेता था। 12 बोर देशी कट्टे की नली बनाने के लिए साइकिल के फ्रेम के डंडे का पाइप और देशी पिस्टल बनाने के लिए 12 एमएम के सरिए का उपयोग करता था। उस पर वह ड्रिल की मदद से छेद किया करता था।

MP के 12 जिलों में कोरोना पर सख्ती को लेकर आज CM शिवराज बैठक में करेंगे फैसला : इन जिलों में नाइट कर्फ्यू की तैयारी

सरिए को साइज से काटने के लिए कटर और आरी का उपयोग करता था। राउंड बनाने के लिए कबाड़ वालों से या फ्रिज में उपयोग होने वाली पीतल की नली को बाजार से लाकर, कारतूस का आकार देकर आगे का बोल्ट ठोस कॉपर का सरिया खरीद कर बोल्ट के साइज का काटकर फाइल से फिनीश कर आकार देता था। उसके अंदर माचिस की तिली का मसाला व पटाखों की बारुद व फायर पिन के अंदर वाले भाग में बच्चों के उपयोग करने वाली फटाके वाली टिकली का उपयोग कर कारतूस भी बनाते थे। इस तरह से आरोपी प्रकाश सिकलीगर द्वारा देशी कट्टे व देशी पिस्टल व राउंड तैयार कर बाजार मे सस्ते दामों पर बेच दिया करता था।

Powered by Blogger.