REWA : खुशखबरी : कल 21 फरवरी रीवा से इतवारी के बीच दौड़ेगी नई यात्री ट्रेन : ये होगा रुट

जबलपुर .मध्य प्रदेश के प्रमुख शहर तथा विंध्याचल की पूर्व राजधानी रीवा अब देश के महानगर नागपुर से जुड़ने जा रहा है। सफेद शेरो के कारण देश भर में प्रसिद्ध रीवा को नागपुर से जोड़ने के लिए रेल मंत्रालय द्वारा रीवा से इतवारी के बीच एक नई त्री साप्ताहिक यात्री गाड़ी कल रविवार 21 फरवरी को शुभारंभ होने जा रही है ।

पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस के बढ़ते दाम के विरोध में कांग्रेस के बन्द का व्यपारियों ने किया समर्थन

केंद्रीय रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल द्वारा इस नई यात्री गाड़ी का शुभारंभ वर्चुअल माध्यम से 16:30 बजे किया जाएगा ।यह ट्रेन रीवा से प्रारंभ होकर शाम 18:00 बजे सतना तथा 18:30 पर मईहर 19:30 पर कटनी होकर रात 21:10 बजे जबलपुर आएगी। जबलपुर से गोंदिया के मध्य नये ट्रैक से यह ट्रेन इतवारी के लिए रवाना होकर सुबह 6:50 बजे इतवारी नागपुर स्टेशन पहुंचेगी ।

अफसरों की अनदेखी : यात्रियों की सुरक्षा से खिलवाड़, आपातकालीन खिडक़ी के सामने सीट लगाकर ढो रहे सवारी

इस इनाग्रल रन  के उपरांत यह ट्रेन सप्ताह में सोमवार बुधवार एवं शनिवार को रीवा से इतवारी के लिए शाम को 17:20 बजे सप्ताह में 3 दिन चला करेगी और अगले दिन सुबह 7:25 बजे इतवारी पहुंचेगी इतवारी से यह ट्रेन शाम को 18:30 बजे चलकर अगले दिन सुबह 8:20 बजे वापस रीवा आ जाएगी।इस संबंध में वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री विश्व रंजन ने बताया कि जबलपुर रेल मंडल द्वारा सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है ।

परिवहन विभाग के जांच अभियान से बस ऑपरेटरों में हड़कंप : 37 यात्री वाहनों से वसूला 62 हजार रुपये

यह नई ट्रेन नंबर 01774 को  20 कोचों के द्वारा चलाई जाएगी जिसमें एसी प्रथम श्रेणी के साथ ही ऐसी दिवतिय, तृतीय के  कोच तथा 11 शयनयान श्रेणी और दो डब्बे सामान्य श्रेणी के होंगे। 20 कोचों की इस गाड़ी में द्वारा 603 किलोमीटर का सफर किया जाएगा। 

रीवा में 100 रुपए प्रति लीटर पेट्रोल के बाद आम आदमी को बड़ा झटका : जानिए प्रदेश के आठ बड़े शहरों में दाम

उल्लेखनीय है कि जबलपुर से गोंदिया के बीच वर्षों पुरानी नैरो गेज लाइन को हाल ही में  बड़ी रेल लाइन में तब्दील किया गया है जिसके कारण अब इस क्षेत्र से नागपुर जाने पर लगभग 179  किलोमीटर की दूरी कम हो गई है ।इस दूरी के कम होने से यात्रा का समय मैं काफी बचत होगी रीवा के नागपुर से जुड़ जाने से रीवा के लोगों को शिक्षा स्वास्थ्य पर्यटन तथा अन्य व्यवसायिक गतिविधियों में एक स्थान से दूसरे स्थान तक आने जाने में बहुत ही लाभ होगा इसके साथ ही सफेद शेरों की नगरी रीवा को पर्यटन स्थल के रूप में स्थापित करने में नागपुर से पर्यटकों के बड़े संख्या में रीवा आने जाने में अपना बहुमूल्य योगदान देगी जिससे पूरे क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी.

यात्रियों की सुरक्षा से खिलवाड़ : नागपुर, ग्वालियर और इंदौर से रीवा आने वाली बसों में सवारियो की सिर पर मंडरा रही 'मौत'


लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए REWA NEWS MEDIA फेसबुक पेज लाइक करें

Powered by Blogger.