MP : बड़ा हादसा टाला : आग की लपटों में बस जलकर हुई खाक, बाइक के पेट्र्रोल टैंक ब्लास्ट होने से बस में पकड़ी थी आग: 35 यात्रियों ने कूद कर बचाई जान

भिंड के गोहद थाना क्षेत्र में सोमवार की सुबह साढ़े पांच बजे बड़ा हादसा टल गया। ग्वालियर-इटावा हाईवे पर एक बस आग की लपटों में आकर जलकर खाक हो गई। यह घटना उस समय हुई जब बस से बाइक टकराने के बाद उसमें फंस गई। पेट्रोल टैंक में ब्लास्ट होने से बस में आग पकड़ ली। बस में 35 यात्री सवार थे। बस हादसे में सभी यात्रियों को सुरक्षित बचा लिया गया है। लेकिन यात्रियों का सामान जल गया।

डॉक्टर और परिजन के बीच जमकर मारपीट, परिजनों का आरोप- जनरल वार्ड में पलंग दिया और बिल डिलक्स वार्ड का थमाया

सोमवार की सुबह पांच बजे ग्वालियर से बस (एमपी 30 पी 1017) भिंड रवाना हुई। बस गोहद थाना क्षेत्र के डांग गांव के पास हाईवे पर पहुंची। तभी बस ने एक ट्रक को ओवरटेक किया। बस सीधी रांग साइड जा पहुंची। दूसरी साइड एक परिवार अपनी बाइक से ग्वालियर जा रहा था। बाइक पर भिंड अटेर रोड निवासी सत्यकाश शर्मा उनकी पत्नी सीमा शर्मा और दो बच्चे कौशिक(4), कौशिकी (6) ग्वालियर के लिए जा रहे थे। बस की टक्कर से बाइक सवार परिवार खाई में जा गिरे। इसी समय बस के नीचे बाइक आ गई। यह बस के नीचे बाइक आने से वो करीब घसीटती हुई सड़क पर चालीस से पचास फीट तक गई।

अगर अधिकारियों से जान-पहचान है तो बेड के लिए करो इंतजार : अस्पतालों में वेटिंग बढ़ी

बाइक के पेट्रोल टैंक में हुआ ब्लास्ट

बस के नीचे बाइक सड़क पर घसीटते समय पेट्रोल टैंक फट गया। सड़क पर पेट्रोल के साथ बाइक घसीटते हुए गई। इसी दौरान सड़क के निकली चिंगारी ने पेट्रोल को पकड़ लिया। जिसे बाइक में ब्लास्ट हुआ और कुछ ही सेकंडों में बस में आग लग गई। जैसे बस में आग लगी। चालक ने बस रोकी और सवारियों में भगदड़ मच गई। यात्रियों ने दरवाजे और खिड़की से कूदकर अपनी जान बचााइ इस घटना में बस जलकर खाक हो गई। हालांकि इस हादसे में सवारियों पूरी तरह सुरक्षित है। परंतु उनका सामान जलकर खाक हो गया।

नशा-ए-इश्क : तीन बच्चों को छोड़कर भागी पत्नी, प्रेमी से पीछा छुड़ाने के लिए पति बना अपराधी

गोहद थाना प्रभारी गोपाल सिकरवार का कहना है कि सजगता से यात्रियों की जान बची है। घटना के बाद फायर बिग्रेड की गाड़ी बुलाकर आग को बुझाई गई।

Powered by Blogger.