REWA ALERT : मेडिकल कॉलेज में इलाज कराने आए सतना के युवक की डॉक्टरों ने निकाली आंख : अब तक 7 की मौत

विंध्य क्षेत्र के रीवा मेडिकल कॉलेज में ब्लैक फंगस का डरावना केस सामने आया है। यहां सतना के युवक की बीते दिन गुरुवार को चिकित्सकों ने ऑपरेशन कर आंख निकाल ली है। वहीं चिकित्सकों की टीम ने दा​वा किया कि अगर आंख नहीं निकालते तो संक्रमण मस्तिष्क तक पहुंच सकता था। ऐसे में आनन-फानन में निर्णय लिया गया है। बताया गया कि 24 वर्षीय युवक पहले इलाज कराने के लिए भोपाल गया था। जहां पर साइनस की समस्या होने पर ऑपरेशन किया गया।

ड्यूटी का बहाना बनाकर घर से निकले पति को पत्नी ने प्रेमिका के साथ पकड़ा, बाहर से लगा था ताला फिर अंदर देखा तो ....

लेकिन इसके बाद भी उसकी तकलीफ दूर नहीं हुई। धीरे-धीरे आंखों की रोशनी जाने लगी। जिस पर वह रीवा के संजय गांधी अस्पताल पहुंचा था। ​ऐसे में चिकित्सकों ने भर्ती कर जांच कराई थी। तब नेत्र रोग के विभागाध्यक्ष डॉ. शशी जैन ने युवक का ऑपरेशन कर आंख निकाल ली है। साथ ही चिकित्सकों की टीम ने दावा किया है कि अभी यह नहीं कहां जा सकता कि वह कितना सुरक्षित है। फिलहाल आवश्यक इलाज किया जा रहा है।

REWA में 10 डॉक्टरों पर FIR : SP का अल्टीमेटम कहा- कानून के दायरे में रहें डॉक्टर, कोई भी हो, अपराध बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

रीवा में अब तक 7 की मौत

रीवा सीएमएचओ डॉ. एमएल गुप्ता ने बताया कि संजय गांधी अस्पताल में अब तक ब्लैक फंगस से 7 मरीजों की मौत हो चुकी है। जिसमें तीन रीवा, तीन सतना और सीधी जिले में एक मरीज दम तोड़ चुका है। वहीं सतना के मैहर निवासी महिला की ब्लैक फंगस से रीवा अस्पताल में पहुंचने से पहले मौत हो चुकी थी। इस मौत को मेडिकल कॉलेज ने काउंट नहीं किया है। जबकि एक मरीज को स्वास्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज कर​ दिय गया था।

पहले की मारपीट फिर दिखाई ताकत : पीड़ित पर भी पुलिस ने दर्ज कर दिया मामला .... खुद को न्यायप्रिय बताने की कोशिश कर रही रीवा पुलिस

28 मरीजों का चल रहा इलाज

रीवा मेडिकल कॉलेज में बीते 24 घंटे के भीतर ब्लैक फंगस का कोई नया मरीज नहीं मिला है। हालांकि पहले 29 मरीज यहां पर भर्ती थे। जिसमें एक मरीज को रेफर कर दिया है। जबकि 28 मरीजों को भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। जहां पर 6 मरीज आईसीयू में भर्ती हैं। जबकि 22 का इलाज चल रहा है। बता दें कि अब तक जो मरीज आएं हैं। उनमें 7 कोरोना संक्रमित हैं। 15 ऐसे मरीज हैं, जिन्हें पूर्व में कोरोना हो चुका है। जबकि 6 मरीजों की कोविड हिस्ट्री अभी नहीं मिली है।

रिमही जनता पूछती है ? ..साहब, कहां से आते हैं तमंचे

चिकित्सकों ने किए 6 ऑपरेशन

चिकित्सकों की टीम ने बताया है कि श्याम शाह मेडिकल कॉलेज से संबंद्ध संजय गांधी स्मृति अस्पताल में भर्ती 23 मरीजों को नेजल इंडोस्कोपी हुई है। जिसमें से ब्लैक फंगस से ग्रसित 6 मरीजों के अब तक ऑपरेशन किए गए हैं। इनमें चार मरीजों का फंगस साफ किया गया है। वहीं दो मरीजों का फंगस काटकर निकाला गया है।

Powered by Blogger.