REWA : NH 30 बाबा ढाबा में देर रात ठेकेदार से बंदूक अड़ाकर स्कॉर्पियो ​समेत लूटे 32 हजार रुपए : 12 घंटे बाद मिली, बदमाश फरार

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

नेशनल हाइवे 30 पर स्थित बाबा ढाबा में देर रात लूट के बाद सनसनी फैल गई। बताया गया, गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात 3 बजे मनगवां बायपास के बाबा ढाबा में ठेकेदार खाना खाने के बाद अपनी स्कॉर्पियो में सो रहे थे। इसी दौरान अज्ञात बदमाश आए और बंदूक अड़ाकर स्कॉर्पियो ​लूट ले गए। पीड़ित ने दावा किया कि उसमें करीब 32 हजार रुपए कैश भी रखे थे। घटना के बाद पीड़ित मनगवां थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई।

मामूली विवाद पर पिता की तलवार से काट कर हत्या कर दी, फिर छोटे भाई की पत्नी को मारी तलवार : बहू सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में भर्ती

जानकारी मिलने के बाद एडिशनल एसपी विजय डावर और SDOP संतोष कुमार निगम सुबह से सक्रिय हुए। साइबर सेल की मदद से जोगनहाई टोल प्लाजा का सीसीटीवी फुटेज चेक कराया गया, तो शहर की ओर स्कॉर्पियो जाते दिखी। वहीं, पुलिस लगातार आरोपियों पर दबाव बनाए थी। नतीजन, अज्ञात आरोपी शुक्रवार दोपहर करीब 3 बजे सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में स्कॉर्पियो को लावारिस हालत में छोड़कर भाग गए।

रीवा, सतना, सीधी और सिंगरौली जिले के सभी छोटे- बड़े बॉर्डर सील , मुख्य मार्गों पर रहेगा पुलिस का पहरा : आवश्यक काम पर ही मिलेगी अनुमति

बीती रात मनगवां के बाबा ढाबा के पास से अज्ञात बदमाशों ने गन पॉइंट में लेकर संविदाकार लवकुश पाण्डेय से स्कॉर्पियो क्रमांक एमपी 49 सी 3855 को लूटकर फरार हो गए। साथ ही चार पहिया वाहन में रखे 32000 रुपए भी ले गए। घटना की सूचना रात में ही फरियादी लवकुश पाण्डेय ने मनगवां थाने पहुंचकर दी।

रीवा का मास्टर माइंड युवक इंदौर में करता था रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी, FB से लोगों की पोस्ट पढ़ 40 हजार में ग्राहकों को बेचें

ऐसे में तुरंत मौका मुआयना करने एडिशनल एसपी विजय डावर व SDOP संतोष कुमार निगम पहुंचे। इसके बाद पुलिस के आला अधिकारियों ने साइबर सेल का सहारा लिया। वहीं जोगनहाई टोल प्लाजा पहुंचकर सीसीटीवी फुटेज भी देखे गए थे। जिससे SDOP संतोष निगम जल्द ही लूट का खुलासा करने का दावा किया था।

लूट के बाद भी दर्ज नहीं हुआ अपराध / माननीय के आदेश का इंतजार थाना प्रभारी की दो टूक ,जब दम नहीं था तो हाईवे में गाड़ी लेकर क्यों गए

शुक्रवार को एएसपी के नेतृत्व में लूट के खुलासे को लेकर कई टीमें जांच में लगाई गई थी। साथ ही, लूटी गई स्कॉर्पियो की फोटो ग्रामीण क्षेत्रों से लेकर शहरी थानों में भेजी गई थी। सूत्रों की मानें, तो लूट के बाद बदमाशों ने ग्रामीण क्षेत्र की जगह शहरी क्षेत्र की ओर भागे थे, लेकिन शहर में जगह जगह चेकिंग लगी होने के कारण ज्यादा देर उनका खेल नहीं चला। ऐसे में दोपहर के बाद सख्ती बढ़ते ही आरोपी वाहन को सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में एक जगह सुनसान स्थान पाकर वाहन को खड़ा कर भाग गए।

शर्मनाक / SP की कार से उतरकर कांस्टेबल ने अन्नदाता को मारी लात तो दूसरे ने निकाल दी हवा : सोशल मीडिया यूजर बोले- कौन सा तीन मारना चाहती है पुलिस

टीआई विहीन थाने में बढ़े अपराध

क्षेत्रीय लोगों को आरोप है कि इन दिनों मनगवां थाना टीआई विहीन चल रहा है। यहां आए दिन लूट, मारपीट की घटनाएं बढ़ रही है। लॉकडाउन के बाद भी जगह जगह जुआ, सट्टा चल रहा है। अपराधी किस्म के लोग खुलेआम घूम रहे हैं। कोरोना के बढ़ रहे केसों के बाद भी लॉकडाउन का असर नहीं है।

Powered by Blogger.