SATNA : लॉकडाउन को लेकर कलेक्टर और एसपी सख्त : छतरपुर के बड़ा मलहरा से सीधी बारात लेकर जा रहे दुल्हे का काटा चालान

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

सतना। कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराने के लिए एसपी धर्मवीर सिंह यादव और निगमायुक्त तन्वी हुडडा के साथ कलेक्टर अजय कटेसरिया शुक्रवार की देर शाम से लेकर रात तक सर्किट हाउस चौराहे पर डटे रहे। यहां हर आने जाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ सख्ती से पेश आने के​ लिए पुलिस को कहा। फिर क्या यातायात पुलिस और जिला पुलिस बल के जवान हर चौराहे पर मुस्तैद हो गए। यहां हर एक वाहन की चेकिंग पुलिस कर रही थी।

सतना के पांच बदमाशों ने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के नाम सोशल मीडिया के जरिये युवक से ठगे 1.5 लाख रुपए : तीन आरोपी गिरफ्तार दो फरार

तभी छतरपुर के बड़ा मलहरा से सीधी जिले की बहरी जा रही बारात को पुलिस ने रोक लिया। दो वाहनों को साथ लेकर जा रहे दुल्हे को कार से उतार कर समझाइश दी गई। इसके बाद दोनों वाहनों का चालान काटा गया। साथ ही पुलिस ने बारात सहित वापस लौटने की हिदायत दी। फिर सीधी जिले की बहरी पुलिस को सूचना दे दी गई है कि कहीं दूसरे रास्ते से बारात न पहुंच जाए।

नेशनल हाइवे 39 पर दर्दनाक हादसा : दो ट्रक की आमने-सामने से जोरदार भिड़ंत, ट्रक की बॉडी काटकर चालक को निकाला : दो लोगों की मौके पर मौत

सर्किट हाउस में पुलिस ने रोका

पुलिस ने बताया कि सर्किट हाउस चौराहे में चेकिंग के दौरान एक टीम टाम वाली कार आते हुए दिखी तो रूकने का इसारा किया गया। वाहन रूकते ही गाड़ी से दुल्हा उतरा और उसने कहा कि छतरपुर के बड़ा मलहरा निवासी अशोक गहलोत की बारात सीधी जिले के बहरी जा रही है। ऐसे में डीएसपी ट्रैफिक प्रभा किरण किरो ने पूछताछ के बाद दो बारात वाहनों का 500-500 रुपए का चालान काटा गया। इसक बाद सख्त हिदायत देकर वापस लौटने को कहा। इसी तरह तिलक लेकर जा रहे व्यक्तियों की दो गाड़िया कोतवाली भेजी गई है।

शहर से लेकर गांव तक पुलिस अलर्ट, चोरी छिपे हो रहे कार्यकमों में मार रही छापा

पन्ना से गुपचुप सरकारी वाहन से आना इंजीनियर को पड़ा भारी

शुक्रवार की रात करीब 9.30 बजे कलेक्टर को चेकिंग के दौरान एक कार पन्ना की ओर जाते हुई दिखी। जिसमे मध्यप्रदेश शासन लिखा हुआ देखकर कलेक्टर ने वाहन को रूकवाया। पूछने पर पता चला कि पन्ना के प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में कार्यरत असिस्टेंट इंजीनियर एसके जैन का वाहन है। उन्हें घर छोड़कर चालक ओला उपाध्याय लौट रहा था। इस पर सतना कलेक्टर ने पन्ना कलेक्टर से फोन कर मुख्यालय छोड़ने की अनुम​ति की जानकारी ली। पता चला कि मुख्यालय छोड़ने की कोई अनुमति नहीं है। इस पर वाहन क्रमांक एमपी 35 टी 0807 को जब्त कराकर थाने में खड़ा कराया गया है।

Powered by Blogger.