Twitter ने अपनी गलती सुधारी : देश के गलत नक़्शे को WEBSITE से हटाया, लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को भारत से अलग दिखाया था

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

सोशल मीडिया साइट ट्विटर ने अपनी वेबसाइट से भारत का गलत नक्शा हटा लिया है। पहले दिए नक्शे में केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को भारत से अलग दिखाया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला सामने आने के तुरंत बाद केंद्र सरकार ने संज्ञान लिया। ट्विटर को नोटिस जारी करने की तैयारी कर ली। विवाद बढ़ने के बाद सोमवार देर शाम ट्विटर ने अपनी गलती सुधार ली।

साइबर ठगी मामले में बड़े नेटवर्क का राजफाश करने में जुटी पुलिस, 18 राज्यों में 20 गिरोह के सक्रिय होने के मिले सबूत

इससे पहले, ट्विटर ने शुक्रवार को भारत के कानून और IT मंत्री रविशंकर प्रसाद के अकाउंट को एक घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया था। नया IT कानून आने के बाद से केंद्र सरकार और ट्विटर में लगातार विवाद की स्थिति बनी हुई है। अब इसमें देश के नक्शे से छेड़छाड़ करने की नई कड़ी जुड़ गई है।



आज से UNLOCK : दिल्ली, महाराष्ट्र, राजस्थान समेत 7 राज्यों में आज से नई गाइडलाइन्स जारी : पढ़िए जरुरी खबर

गलत नक्शे को एक यूजर ने नोटिस किया

ट्विटर की इस हरकत को सबसे पहले सोशल मीडिया पर @thvaranam के नाम के यूजर ने नोटिस किया था। इसके बाद से ही ट्विटर की तरफ से जारी भारत के नक्शे की फोटो वायरल हो रही है। इस पोस्ट को 28 जून 2021 को सुबह 10:38 बजे शेयर किया है। इस पर लिखा है कि ट्विटर कैरियर पेज पर भारत का नक्शा।

GOOD NEWS : डेल्टा प्लस वैरिएंट / कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग, बैरागढ़ में लिए गए सभी 8 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव

पहले भी भारत का गलत नक्शा दिखा चुका ट्विटर

ये पहली बार नहीं जब ट्विटर ने भारत का नक्शा गलत दिखाया है। इससे पहले, अक्टूबर 2020 में भारत के लद्दाख के इलाके वाले क्षेत्र लेह को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (PRC) का हिस्सा बताया था। उस दौरान भारत सरकार ने ट्विटर के CEO जेक डोरसे को भारत के नक्शे से छेड़छाड़ करने को लेकर चेतावनी जारी की थी। IT सचिव ने कहा था कि इस तरह की घटनाओं से न केवल ट्विटर की बदनामी होती है, बल्कि एक मध्यस्थ के तौर पर उसकी निष्पक्षता पर भी सवाल उठते हैं।

क्या है डेल्टा प्लस वैरिएंट? जाने एक्सपर्ट इसे क्यों बता रहे कोरोना की संभावित तीसरी लहर की वजह

नए IT कानूनों के चलते ट्विटर और सरकार में टकराव

ट्विटर और सरकार के बीच पिछले कुछ महीनों से नए IT कानून को लेकर विवाद की स्थिति बनी हुई है। सरकार की पॉलिसी मानने को लेकर ट्विटर का अड़ियल रवैया सामने आया था। सरकार ने भारत में कंपनी को शिकायत अधिकारी रखने के निर्देश भी दिए हैं। हाल ही भारत में ट्विटर के शिकायत अधिकार धर्मेंद्र चतुर ने इस्तीफा दे दिया था। अब उनकी जगह भारत में अमेरिकी नागरिक जेरेमी केसल को नया शिकायत अधिकारी नियुक्त किया गया है।

दीदी! ओ दीदी...माफ कर दो : अश्लील कमेंट्स करने वाले एक मनचले की युवती ने की बीच बाजार में धुनाई : हाथ जोड़कर मांगी माफ़ी

अमेरिकी कानून का हवाला देकर ट्विटर ने कानून मंत्री का अकाउंट ब्लॉक किया

ट्विटर ने IT मंत्री रविशंकर प्रसाद का हैंडल शुक्रवार सुबह एक घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया। इसकी वजह ये बताई गई कि उन्होंने अमेरिका के डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट का उल्लंघन किया है। हालांकि बाद में ट्विटर ने चेतावनी देते हुए रविशंकर प्रसाद का हैंडल फिर से खोल दिया। इस पर ट्विटर ने कहा था कि DMCA नोटिस के कारण मिनिस्टर (रविशंकर प्रसाद) के अकाउंट तक एक्सेस को अस्थायी रूप से प्रतिबंधित किया गया था। संबंधित ट्वीट को भी रोक दिया था। हमारी कॉपीराइट पॉलिसी के मुताबिक, हम कॉपीराइट ओनर या उनके अथॉराइज्ड रिप्रजेंटेटिव्स की ओर से भेजी गई जायज शिकायतों पर एक्शन लेते हैं।

Powered by Blogger.