शहडोल : गांजा गिरोह का बड़ा खुलासा/ 12 आरोपियों से 1 करोड़ का 7 क्विंटल गांजा पकड़ा, 2 ट्रक, एक कार और एक बाइक भी जब्त

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

उड़ीसा से छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश के रास्ते उत्तरप्रदेश तक फैले गांजा तस्करी के गिरोह खुलासा गुरुवार को शहडोल पुलिस ने किया है। पुलिस ने गांजा तस्करी के रैकेट के 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपियों से एक करोड़ रुपए का 7 क्विंटल गांजा जब्त किया है।

अब शुरू होगा "भारी बारिश" का दौर : रीवा समेत इन जिलों में हुई जमकर बारिश

एसपी अवधेश कुमार गोस्वामी ने बताया कि छत्तीसगढ़ पासिंग ट्रक से गांजा तस्करी की सूचना मिली। पता चला, उड़ीसा से गांजा की बड़ी खेप रीवा ले जा रही है। आरोपियों को पकड़ने के लिए विशेष टीम गठित की गई। अमलाई पुलिस ने संदिग्ध ट्रक सीजी 16 सीके 0339 की जांच की तो पता चला कि ट्रक के केबिन व छत के अलावा ड्राइवर सीट के पीछे वाली सीट के ऊपर 360 पैकेटों में 3 क्विंटल 60 किलोग्राम गांजा है। ट्रक चालक व अन्य से पूछताछ में पता चला, अन्य ट्रक से भी गांजा रीवा जा रहा है। उसे फॉलो करने के लिए एक कार भी साथ है। उसे पकड़ने के लिए जिलेभर में टीम सक्रिय की।

STUDY : घरों में या बंद कमरों में मास्क लगाए बिना बातचीत करने से बढ़ जाता है कोरोना वायरस खतरा : थूक की बूंदों में होते हैं वायरस

इसके बाद सोहागपुर थाना क्षेत्र में ट्रक क्रमांक सीजी 04 एचवाय 1173 को रोक कर तलाशी ली। इसमें ट्रक के केबिन की पीछे वाली सीट के ऊपर बने कम्पार्टमेंट में 275 नग खाकी रंग के टेप में लिपटे हुए पैकेटों में कुल 288.75 किलोग्राम गांजा जब्त किया गया। आरोपियों से मिले इनपुट के बाद जयसिंह नगर पुलिस ने दोपहिया वाहन से 22 किलो गांजा जब्त किया। संदिग्ध बिना नंबर की कार से पांच आरोपियों से 50 किलो गांजा समेत 85 हजार रुपए नकद 6 फोन जब्त किए।

देश में पहली बार 50 करोड़ की लागत से इंदौर शहर में बनेगा फिश एक्वेरियम : व्हेल, शार्क, ऑक्टोपस समेत 100 से ज्यादा मछलियों की होंगी प्रजातियां

छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के 12 आरोपी पकड़े

गांजा तस्करी से जुड़े जिन आरोपियों को शहडोल पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उनमें छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के अलग-अलग जिले से आरोपी शामिल हैं। अमलाई पुलिस ने ट्रक के साथ चालक लक्ष्मण यादव (30) पिता मोलई प्रसाद, निवासी ग्राम मैगांव, सतना, हेल्पर राजू यादव (30) पिता सुख निधान यादव व ट्रक मालिक सुनील कुमार केसरवानी निवासी को अनूपपुर गिरफ्तार किया। इन्होंने पिंटू गुप्ता निवासी ग्राम पिपरहा थाना राजेन्द्रग्राम और अंशु उर्फ बालमुकुन्द गुप्ता निवासी सिवनी मरवाही जिला जीपीएम छत्तीसगढ़ द्वारा गांजा का अवैध परिवहन करवाना बताया। इनकी निशानदेही पर सोहागपुर पुलिस ने ड्राइवर आशीष गुप्ता (24) पिता गंगा गुप्ता निवासी अनूपपुर व हेल्पर संतोष सिंह (23) पिता गजरूप सिंह निवासी कोरबा, छत्तीसगढ़ को गिरफ्तार किया। इन आरोपियों द्वारा यह गांजा ट्रक मालिक अवधेश कुमार बहरेलिया पिता भैयालाल निवासी सन्यासी पारा रामपुर खम्तराई जिला रायपुर का बताया। आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

सावधान : 60 साल के व्यक्ति को वीडियो चैट पर लड़की ने कपड़े उतारकर उकसाया, आपत्तिजनक फोटो वायरल करने की धमकी देकर वसूले 6 लाख रूपये

जयसिंहनगर पुलिस ने बाइक चालक के आरोपी मनीष गुप्ता पिता बृजबिहारी लाला गुप्ता और रोहित गुप्ता (22) पिता कुंजबिहारी गुप्ता दोनों निवासी अनूपपुर और बिना नंबर की कार में सवार 5 आरोपियों में पिंटू गुप्ता (25) उर्फ बनवारी लाल गुप्ता पिता बच्चू प्रसाद गुप्ता निवासी ग्राम पिपरहा, बालमुकुंद गुप्ता उर्फ अंशु गुप्ता (22) पिता शारदा प्रसाद गुप्ता निवासी मरवाही छ.ग., हरी टांडिया उर्फ छोटू (27) पिता वैधराज टांडिया निवासी गौरिला जिला जीपीएम छग, हीरालाल गुप्ता (45) पिता लालमन गुप्ता निवासी वार्ड नं. 11 जयसिंहनगर, शहडोल व दादू पटेल उर्फ रामसजीवन पटेल (45) पिता 'भैयालाल पटेल गिरफ्तार किया।

Powered by Blogger.