REWA : युवती ने वीडियो कालिंग कर नहर में की आत्महत्या : दोस्त को सेल्फी भेजकर बोली- बचा स​कते हो तो बचा लो : फिर ...

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा शहर के बिछिया थाना अंतर्गत सिलपरा नहर से बुधवार की दोपहर करीब 12 बजे एक युवती का शव नहर से बरामद हुआ है। परिजनों का आरोप है कि मंगलवार की सुबह 6 बजे युवती घर से मॉर्निंग वाक बताकर निकली थी। लेकिन 8 बजे उसका एक दोस्त फोन कर सुसाइड की बात बताई। साथ ही एक फोटो भी युवती की परिजनों को भेजी गई थी। फिर युवक सहित परिजन जब नहर के पास पहुंचे तो युवती कहीं नहीं मिली थी। इसके बाद बिछिया पुलिस को 10 बजे सूचना दी।

चोरी के संदेही आरोपी ने लगाई फांसी : सतना RPF की कस्टडी में युवक की मौत : रीवा के जयस्तंभ चौक पर शव रखकर किया चक्का जाम : भारी पुलिस बल तैनात

दो दिनभर सर्चिंग करती रही। रात हो जाने पर रेस्क्यू रोक दिया गया। दूसरे दिन बुधवार की सुबह 6 बजे से सर्चिंग चालू की गई तो एसडीआरएएफ और होमगार्ड की टीम को करीब 12 बजे सफलता मिली। दावा है कि करीब 28 घंटे बाद युवती का शव बरामद कर डेड बॉडी परिजनों को सौंप दी है।

ब्लैक फंगस : छिंदवाड़ा-खंडवा में 0 मरीज, इंजेक्शन 47; रीवा में 29 मरीज, डोज 0

ये है मामला

बिछिया थाना प्रभारी उप निरीक्षक जगदीश सिंह ठाकुर ने बताया गया कि मंगलवार की सुबह करीब 6 बजे रानी तालाब निवासी नेहा पटेल पिता राजेश पटेल 30 वर्ष अपने घर से मां को मॉर्निंग वाक करने का बहाना बताकर निकली थी। जो करीब 1 घंटे बाद सिलपरा नहर पहुंच गई। उसने करीब 8 बजे एक दोस्त को वीडियो कालिंग की। फिर सेल्फी भेजकर युवती बोली- बचा स​कते हो तो बचा लो, इतना कहकर नहर में छलांग लगा दी। हालांकि युवक तुरंत युवती को फोन लगाया तो स्वीच आफ जाने लगा।

अब शुरू होगा "भारी बारिश" का दौर : रीवा समेत इन जिलों में हुई जमकर बारिश

ऐसे में युवक ने सुसाइड करने वाली युवती के घर को सूचना दी। साथ ही सेल्फी वाली फोटो भेजी। इसके बाद परिजन और युवक घटनास्थल के आसपास पहुंचे तो युवती नहीं मिली। ऐसे में करीब 10 बजे बिछिया पुलिस को सूचना दी गई। जहां पूरा दिन रेस्क्यू चला। शाम होते ही तलाश बंद हो गई। फिर दूसरे दिन बुधवार को पुन: सिलपरा नगर में सर्चिंग अभियान चलाया गया। जहां दोपहर करीब 12 बजे एसडीआरएएफ और होम गार्ड के गोताखोरों ने स्टीमर की मदद से युवती का शव बरामद किया है।

दोस्त से पुलिस कर रही पूछताछ

मृतका के परिजनों का आरोप है कि इस पूर मामले में दोस्त की गलती है। उसने ही युवती को सुसाइड करने के लिए मजबूर किया है। हालांकि पुलिस भी अपने स्तर से दोस्त की भूमिका को देख रही है। वहीं शुरुआती जांच में पूरा मामला सुसाइड का समझ में आ रहा है। ऐसे में पंचनामा कार्रवाई के बाद शव को पीएम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है।

युवती ने नहर के किनारे सेल्फी खींचकर अपने दोस्त को भेजी, फिर बरामद हुआ शव : जांच जारी

इधर अमिलकी नहर में पैर फिसले से हादसा

गोविन्दगढ थाना अंतर्गत अमिलकी नहर में मंगलवार की शाम प्रियंका दाहिया पिता बाबूलाल 17 वर्ष का पैर फिसलने से नहर में डूब गई थी। जिसकी सूचना गोविन्दगढ पुलिस को दी गई। गोविन्दगढ पुलिस द्वारा एसडीआरएफ टीम को सूचना दी गई। कमांडेंट डॉ. मधु राजेश तिवारी द्वारा एसडीआरएफ एवं होमगार्ड की संयुक्त टीम भेजकर सर्च ऑपरेशन चालू कराया था। लेकिन नहर में ज्यादा पानी होने के कारण काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। फिर जब सफलता नहीं मिली तो दूसरे दिन बुधवार को गोविन्दगढ पुलिस ने नहर का पानी बंद कराया था। फिर भी सफलता नहीं मिली है। अब गुरुवार की सुबह 6 बजे से स्टीमर की मदद से रेस्क्यू किया जाएगा।

Powered by Blogger.