REWA : रीवा लोकायुक्त ने जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष को 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते किया ट्रैप, अध्यक्ष पद से हटाने के नाम पर मांगे थे 5 लाख रुपए

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

             

रीवा लोकायुक्त पुलिस ने जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष को 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए ट्रैप किया है। बताया गया कि शिकायतकर्ता से आरोपी अध्यक्ष ने पहले 5 लाख रुपए की डिमांड की थी। फिर बाद में सौदा 1 लाख रुपए पर तय हुआ।

क्योटी जलप्रपात में युवक की डूबने से मौत, पुलिस ने कुंड से बरामद किया शव

मंगलवार की सुबह करीब 10.15 बजे जैसे ही बुढ़वा पेट्रोल पंप के पास पीड़ित रकम देने पहुंचा तो लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथ दबोच लिया। इसके बाद आगे की कार्रवाई के लिए आरोपी अध्यक्ष को पुलिस कंट्रोल रूप में ले जाया गया है। जहां लोकायुक्त की 13 सदस्यीय टीम भ्रष्टाचार निवारण ​अधिनियम के तहत कार्रवाई कर रही है।

हाकर्स कार्नर में दो पक्षों के बीच मारपीट के बाद चली गोली, इलाके में खींचा सनका : मौके पर पहुंची पुलिस

मिली जानकारी के मुताबिक रीवा लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र कुमार वर्मा के पास पीड़ित मो. अनस अब्बासी पिता मो. सोनू (32) निवासी निपनिया चौराहा ने शिकायत दर्ज कराई थी। उसने एसपी से कहा था कि अध्यक्ष प्रबंध समिति इन्तजामिया कमेटी वक्फ छोटी दरगाह रीवा के पद पर बना हूं। लेकिन उसे पद से हटाने के लिए इरफान खान पिता शहबान खान (30) अध्यक्ष जिला वक्फ कमेटी रीवा द्वारा 5 लाख रुपए की मांग की जा रही है।

मोहनिया घाटी में हुआ हादसा : तेज रफ्तार यात्री बस अनियंत्रित होकर पलटी, दर्जन भर यात्री घायल

अंत में बहुत मिन्नतों के बाद 1 लाख रुपए में माना। ऐसे में पूरे मामले की एसपी ने गोपनीय जांच कराई तो शिकायत सही पाई गए। फिर एसपी के बताए अनुसार पीड़ित मंगलवार की सुबह बुढ़वा पेट्रोल पंप में रकम लेकर पहुंचा। जैसे ही रिश्वत की रकम जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष इरफान खान ने जेब में रखी वैसे ही लोकायुक्त की टीम ने पकड़ लिया।

प्रेमी जोड़े को महंगा पड़ा प्रेम विवाह : छोटे भाई की लव मैरिज से नाराज बड़े भाई ने की दूल्हे की कर दी पिटाई : फिर ...

कार्रवाई में बाधा न हो इसलिए ले गए पुलिस कंट्रोल

सूत्रों की माने तो उप पुलिस अधीक्षक प्रवीण सिंह परिहार ने रिश्वत की रकम बरामद करते ही जिला वक्फ कमेटी के अध्यक्ष को लेकर पुलिस कंट्रोल रवाना हो गए। वहां पर बिना कोई बाधा के कार्रवाई की गई। ट्रैपिंग की कार्रवाई डीएसपी प्रवीण सिंह परिहार द्वारा कार्यालयीन स्टाफ के साथ पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र कुमार वर्मा के मार्गदर्शन में की जा रही है।

Powered by Blogger.