CM का संबोधन : कहा- प्रदेश में सुविधाओं को देखते मिली छूट, 15 जून तक जारी रहेगा कर्फ्यू : शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक जनता कर्फ्यू

     

मध्य प्रदेश में 1 जून से अनलॉक शुरू होने से 12 घंटे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना से अभी लड़ते रहना है, इसलिए कोरोना कर्फ्यू अभी समाप्त नहीं कर रहे। यह 15 जून तक जारी रहेगा, लेकिन सुविधाओं को देखते हुए छूट दी जा रही हैं। सुरक्षा भी और समृद्धि भी। अपनी सुरक्षा भी करना है, लेकिन आर्थिक गतिविधियां भी आरंभ करना है, ताकि व्यापार चल सके, निर्माण के काम चल सकें। शनिवार रात 10 से सोमवार सुबह 6 बजे तक जनता कर्फ्यू रहेगा। बाकी 5 दिन रात 10 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा।

ट्रक में आम की बोरियों के नीचे पकड़ाया 6 करोड़ का गांजा, 3 हजार 92 किग्रा गांजा पकड़ा, 3 आरोपी गिरफ्तार

मुख्यमंत्री ने 1 जून से अनलॉक की प्रकिया शुरू करने से एक दिन पहले प्रदेश की जनता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आर्थिक गतिविधियां चालू करना भी जरूरी है, ताकि निर्माण कार्य शुरू हो सकें। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने स्थानीय स्तर पर तय किया है कि कौन सी गतिविधियां चलेंगी, कौन सी नहीं चलेगी? कुछ गतविधियाें पर प्रतिबंध रहेगा, जो संक्रमण रोकने के लिए जरूरी है।

UNLOCK MP : कल से 100% अधिकारियों और 50% कर्मचारियों को ऑफिस आने के निर्देश जारी

उन्होंने कहा कि राजनैतिक, सांस्कृतिक, खेल, मेले, स्कूल-कॉलेज, सिनेमा घर, कोचिंग संस्थान, शॉपिंग मॉल, बार, पिकनिक स्पॉट जैसे स्थान जहां भीड़ रहती है, बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि अंतिम संस्कार व मृत्यु भोज में 10-10 और विवाह कार्यक्रम में 20 लोग सम्मिलित हो सकेंगे। धार्मिक व पूजा स्थल में एक समय में 4 से ज्यादा लोगों को अनुमति नहीं रहेगी।

भोपाल, इंदौर, जबलपुर समेत इन सभी जिलों में झमाझम बारिश की संभावना

उन्होंने बताया कि कुछ गतिविधियां पूरे प्रदेश में प्रतिबंध से मुक्त रहेंगी। उद्योग, कंपनी, कच्चा माल की ढुलाई, सब्जी, फल, दूध जैसी जरूरत के सामानों की दुकानें चालू रहेंगी। रेस्टोरेंट व होटल में पार्सल दे सकेंगे। सार्वजनिक परिवहन चालू रहेगा। ऑटो रिक्शा, टैक्सी, निजी दो व चार पहिया वाहन में प्रतिबंध नहीं रहेगा। मोहल्ले, गलियों की सिंगल दुकानें भी खुल सकेंगी। सभी जिले ध्यान में रखकर निर्णय लेंगे। पूरे प्रदेश में लगातार टैस्ट जारी रखा जाएगा। हर दिन 75 हजार से कम टेस्ट नहीं होंगे।

आज शर्ताें के साथ अनलॉक हुआ इंदौर शहर, किराना दुकानें 12 तक तो थोक दुकानें 8 से 5 बजे तक खुलेंगी

टीकाकरण के लिए विशेष अभियान

टीकाकरण के लिए विशेष अभियान भी चलाया जाएगा। कुछ लोगों ने भ्रम फैलाने का काम किया। बच्चों के लिए अलग से निर्णय लेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन उपलब्ध कराने की है। प्रदेश में कुछ कैटेगिरी तय की गई हैं, जिन्हें प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया जाए। कोरोना से बचने का मास्क, सामाजिक दूरी के बाद वैक्सीन ही कारगर है।

DAVV का एग्जाम शेड्यूल जारी : जून के तीसरे हफ्ते से आयोजित होंगी परीक्षाएं, B.COM, BA और BSC फाइनल ईयर एग्जाम, जुलाई में शेष परीक्षाएं

स्कूल- कॉलेजों के लिए जल्दी निर्णय होगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूल-कॉलेज खोलने व परीक्षाओं के लिए मंत्री समूह का गठन किया है। समूह की बैठक जल्दी होगी। इसके बाद निर्णय लिया जाएगा कि स्कूलों खासकर छोटे बच्चों की क्लास कब से शुरु की जाए।

तो इसलिए कोविड मरीजों में बढ़ रहें ब्लैक फंगस के मामले, एमवाय अस्पताल में भर्ती 210 मरीजों की प्रारंभिक स्टडी में सामने आए तथ्य

तीसरी लहर का मतलब हमारी लापरवाही

मुख्यमंत्री ने कहा कि तीसरी लहर का मतलब हमारी लापरवाही के कारण आएगी। सरकार इसके लिए आवश्यक व्यवस्थाएं सरकार करेगी। अस्पातलों में बेड, ऑक्सीजन और दवाओं का स्टॉक रखा जाएगा, लेकिन यह आम लोगों की जिम्मेदारी है कि वह तीसरी लहर को आने में रोके। इसके लिए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना होगा।

मैहर-उमरिया स्टेट हाइवे पर भीषण सड़क हादसा / 60 की स्पीड में अल्टो कार का निकला पहिया, नाना की मौत, बेटी और दो पोतियां गंभीर

लड़ाई अभी बाकी है

ब्लैक फंगस से लड़ाई जारी है। प्राइवेट अस्पतालों में भी इंजेक्शन उपलब्ध कराने की कोशिश हो रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी कोरोना से जंग खत्म नहीं हुई है। जरा सी लापरवाही संक्रमण को बढ़ावा दे सकती है। इसलिए सावधान रहने की जरुरत है।

Powered by Blogger.