REWA : "राहुल- कमल में नाराजगी" : रूठे बड़े नेताओं को मनाने कांग्रेस ने कई जिलों के प्रभारियों को बदला

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा. प्रदेश में होने वाले उपचुनावो से पूर्व MP की धुर विरोधी पार्टियों भाजपा और कांग्रेस उपचुनावों की तैयारी में पूरी तरह से जुट गई हैं। एक तरफ जहां बीजेपी प्रदेश सरकार ने प्रदेश के सभी जिलों के लिए प्रभारी मंत्रियों की घोषणा कर दी। वो प्रभारी मंत्री अपने-अपने जिलों में जाकर पहली बैठक भी कर चुके हैं। इसी बीच कांग्रेस ने भी बड़ा फैसला करते हुए कई जिलों के प्रभारियों को बदल दिया है। माना जा रहा है कि प्रदेश अध्यक्ष की यह चाल रूठे बड़े नेताओं को मनाने के तहत चली गई है, ताकि उपचुनाव में एकजुट हो कर बीजेपी को मात दी जा सके।

रतहरा-चोरहटा मार्ग पर चलना हुआ दूभर, अधूरी मॉडल रोड एक्सीडेंट जोन में तब्दील : आए दिन दो पहिया वाहन चालक गिरकर रहें घायल

राकेश सिंह चतुर्वेदी और राजा पटैरिया

बता दें कि पार्टी के वरिष्ठ नेता अजय सिंह राहुल काफी दिनों से प्रदेश कांग्रेस से नाराज चल रहे थे। खास तौर पर विंध्य क्षेत्र को लेकर। चर्चाओं के अनुसार वह रीवा प्रभारी चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी की नियुक्ति को लेकर भी प्रदेश अध्यक्ष से खासे नाराज थे। उन्होंने खुल कर कमलनाथ पर कई टिप्पणियां भी कीं। इसे गंभीरता से लेते हुए मध्य प्रदेश पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने चतुर्वेदी को रीवा के प्रभारी हटा कर उनकी जगह बुंदेलखंड के वरिष्ठ नेता राजा पटैरिया को रीवा का प्रभारी बनाया दिया है। वहीं चतुर्वेदी को रीवा से हटाकर मुरैना का प्रभारी बना दिया है।

रीवा में गर्भवतियों के लिए टीकाकरण का शुभारंभ, 8 हजार प्रेंग्नेट महिलाओं को लगेगा टीका : हर मंगलवार और शुक्रवार को लगेगी कोवैक्‍सीन की डोज

बता दें करीब डेढ़ महीना पहले प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने राज्य के सभी जिलों के लिए प्रभारियों की नयुक्ति की थी। उसके बाद से ही जगह जगह विरोध शुरू हो गया था। सबसे ज्यादा विरोध रीवा जिले के प्रभारी को लेकर उठा। रीवा का प्रभारी चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी को बनाया गया था, चौधरी राकेश सिंह चुनाव के पहले कांग्रेस से भाजपा में चले गए थें, फिर कांग्रेस की विधानसभा में जीत के बाद वो वापस पार्टी में आ गए थे। इसे लेकर विंध्य के कद्दावर कांग्रेस नेता अजय सिंह राहुल रीवा के प्रभारी को लेकर खासे नाराज हो गए थे।

तीन अलग-अलग घटनाओं में तीन की मौत, पुलिस ने मर्ग कायम कर शुरू की जांच, चारों के शव पीएम के बाद ​सौंपे गए परिजनों को

कमलनाथ के इस फैंसले पर अजय सिंह राहुल ने कड़ी नाराजगी जाताई थी। कमलनाथ और अजय सिंह राहुल के बीच शब्दों के तीर चलने लगे। दोनों के बीच अहम् का टकराव बढ़ गया था। अजय सिंह ने प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिरने पर कमलनाथ के बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि वो विंध्य का अपमान कर रहे हैं। अजय सिंह राहुल ने कहा था कि सरकार गिरने का कारण विंध्य नहीं अक्षमता है।

हास्य कलाकार अविनाश तिवारी और शैलू शर्मा द्वारा अशोभनीय वीडियो बनाकर हिन्दूओ की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का लगा आरोप : वीडियो जारी कर मांगी माफ़ी

अब रीवा का प्रभारी बदले जाने के बाद माना जा रहा है कि अजय सिंह राहुल की नाराजगी काम आ गई। हांलाकि पीसीसी ने पहले ही यह स्पष्ट किया है कि किसी भी प्रभारी को किसी की नाराजगी या विरोध के चलते न बदला जाएगा, न ही हटाया जाएगा। लेकिन राजनितिक विशेषज्ञों का मानना है कि अजय सिंह राहुल की नाराजगी के चलते ही रीवा का प्रभारी बदला गया है।

बढ़ रहा रीवा में अपराध का ग्राफ : दिनदहाड़े खाद-बीज के व्यापारी से साढ़े तीन लाख की लूट : बाइक सवार चार बदमाशों ने दो चांटा मारकर दिया घटना को अंजाम

इन जिलों को भी मिले नए प्रभारी

वैसे कमलनाथ ने चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी को रीवा से हटाकर मुरैना जिले का प्रभारी बनाया है। वही रीवा जिले की जिम्मेदारी बुंदेलखंड के सीनियर नेता राजा पटैरिया को दी गई है। इसके साथ ही कांग्रेस ने आज कई जिलों के प्रभारियों को बदल दिया। पीपीसी ने पूर्व मंत्री तरुण भनोट को कटनी, हेमंत कटारे को शिवपुरी और राजेंद्र मिश्रा को टीकमगढ़ का प्रभारी बनाया है।

Powered by Blogger.