REWA : शहर को साफ-सुथरा बनाने व स्वच्छ रीवा, स्वस्थ्य रीवा के सपने को डोर टू डोर कचरा कलेक्शन कमजोर

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा। शहर को साफ-सुथरा बनाने व स्वच्छ रीवा, स्वस्थ्य रीवा के सपने को डोर टू डोर कचरा कलेक्शन कमजोर करने लगा है। कचरा कलेक्शन के लिए लगाए गए लापरवाह कर्मचारियों के चलते शहर सहित गली-मोहल्लों में कचरों का ढेर सहज ही नजर आ रहा है। 

उठाइये मौसम का लुफ्त : प्रकृति की सुन्दरता को चार चॉद लगाने वाले ये चार बड़े वाटर फाल टूरिस्टों को अपनी ओर कर रहें आकर्षित

इसके पीछे का कारण है कि कचरा कलेक्शन करने के लिए जो भी कर्मचारी लगाए गए हैं वे नियमित रूप से वाहन या फिर ठेला लेकर कचरा लेने नहीं पहुंच रहे हैं। जिसके चलते रहवासी क्षेत्रों में गंदगी फैलने लगी है। शहर में फैल रही गंदगी कचरा के चलते मच्छर एवं संक्रमण भी फैलने की आशंका बढ़ती जा रही है।

नकाबपोश बाइकर्स ने झिरिया पुल के पास घर लौट रहे युवक के बाएं पैर में मारी गोली, बदमाशों की हरकत से शहरी हैरान : इलाके में दहशत का माहोल निर्मित

क्या थी योजना

डोर टू डोर कचरा कलेक्शन करने के लिए नगर निगम प्रशासन ने शहर को चार जोन में डिवाइड किया था और इसके लिए 36 टैम्पों, 85 रिक्शा और 190 कर्मचारी लगाए गए हैं। जिन क्षेत्रों में टैम्पों का संचालन नहीं हो सकता है ऐसे छोटे एवं सकरी गलियों के लिए रिक्शा की व्यवस्था बनाई गई है। यहां अहम बात यह है कि रहवासी क्षेत्रों में नियमित रूप से रिक्शा कर्मचारी लेकर नहीं पहुंचते हैं। जिसके चलते लोगों के घरों में कचरा एक या दो दिन डम्प रहता है। 

बेवा महिला के घर से दबंग जबरन उठा ले गए स्कॉर्पियो और ट्रैक्टर, चोरहटा थाने में शिकायत दर्ज बाद भी नहीं हुई कार्यवाही : अब SP से लगाई गुहार

इसके बाद भी ठेला न पहुंचा तो वे कचरा फेंकने के लिए मजबूर हो जाते हैं। जबकि योजना के तहत नियमित रूप से कचरा ठेला न सिर्फ पहुचंना चाहिए बल्कि सुबह-शाम कचरा कलेक्शन किए जाने की योजना बनाई गई थी। कचरा, ठेला न पहुंचने के कारण सफाई व्यवस्था कमजोर हो रही है।

Powered by Blogger.