REWA : घर के सामने नाली बनाने को लेकर बड़े भाई ने छोटे भाई के गर्दन में मारी आरी, गंभीर हालत में SGMH में भर्ती

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले के चोरहटा थाना अंतर्गत बहुरी बांध में जमीन विवाद को लेकर भाई ही भाई का दुश्मन हो गया। बताया गया कि शुक्रवार की सुबह नाली बनाने को लेकर विवाद इतना गहराया कि छोटे भाई पर बड़ा भाई लकड़ी काटने वाली आरी से हमला कर दिया। जिससे गर्दन में गंभीर चोट आने पर घायल को एम्बुलेंस से उपचार के लिए संजय गांधी स्मृति चिकित्सालय ले जाया गया। जहां ईएनटी विभाग में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। एसजीएमएच के चिकित्सकों ने युवक की स्थित को गंभीर बताया है।

शातिर बदमाशों की गैंग पकड़ाई : सिरमौर चौराहा से पुलिस ने 4 संदिग्ध बदमाशों को किया गिरफ्तार

मिली जानकारी के मुताबिक बहुरी बांध में रहने वाले अमृत लाल विश्वकर्मा और संतोष विश्वकर्मा के बीच लम्बे समय से जमीन विवाद चल रहा है। भाईयों के बीच अक्सर कहासुनी होती रही है। लेकिन शुक्रवार की सुबह यह विवाद इतना गहराया कि खून के प्यासे हो गए। आरोप है कि सुबह नाली बनाते समय दोनों के बीच विवाद हुआ और मारपीट होने लगी।

अगले 3 दिन तक ग्वालियर और रीवा संभागों में रहेगी तेज बारिश : इंदौर और भोपाल में बारिश का दौर जारी

इसी बीच संतोष विश्वकर्मा ने लकड़ी काटने वाली आरी से अमृत लाल विश्वकर्मा पर प्रहार कर दिया। वारदात के समय बड़े भाई संतोष और उसकी पत्नी माया दोनों ने मिलकर हमला किया है। अमृत लाल विश्वकर्मा ने कहा कि पैतृक जमीन पर बड़ा भाई अनावश्यक विवाद कर रहा है।

रीवा के भूल-भुलैया जंगल में 3 दिन से गहरी खाई में फंसा था युवक, 300 फिट की गहराई से यूवक को जिंदा बाहर निकाला

तो हो जाती मुश्किल

ग्रामीणों ने बताया कि वारदात के बाद आनन फानन में 108 पर फोन कर एम्बुलेंस मंगाई गई। तब घायल अमृत लाल को उपचार के लिए संजय गांधी स्मृति चिकित्सालय ले जाय गया। जहां गर्दन पर आरी से जख्म होने की वजह से ईएनटी विभाग भेजा गया। अमृत लाल पर जब आरी से हमला हुआ तो उसने बचाव का काफी प्रयास किया था। चिकित्सकों ने कहा है कि गनीमत थी कि आरी के प्रहार से नस कटने से बच गई। यदि गर्दन की नस कट जाती तो जान बचाना मुश्किल हो जाता।

Powered by Blogger.