REWA : नशे के तस्करों के बीच गैंगवार : SP कार्यालय से शिकायत कर लौट रहे युवक पर धारदार हथियार से हमला : SGMH में भर्ती

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में नशे के तस्करों के बीच गैंगवार हुई है। यहां गांव से चलकर जिला मुख्यालय स्थित दो युवक एसपी कार्यालय शिकायत करने पहुंचे थे। एसपी कार्यालय में दिए आवेदन में एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर नशे की तस्करी का आरोप लगाया था। इसके बाद युवक गांव की ओर जा रहे थे।

सुई से लेकर प्लेन जैसी कलाकृति बनाने का हुनर, PM मोदी ने पूछा- क्या चाहते हो? जवाब- कुछ नहीं, बेटी आपकी फैन, उसकी इच्छा पूरी कर दी : रहने के लिए न घर न बैंक बैलेंस

जैसे ही वे समान थाना क्षेत्र के गुलाब नगर के पास पहुंचे तो दूसरे गुट के लोगों ने धारदार हथियार से एक युवक पर हमला करते हुए लहूलुहान कर दिया।

ट्रैफिक पुलिस को मिली स्पीड रडार गन, 1 किमी दूर से रिकॉर्ड हो जाएगी स्पीड, फिर पुख्ता सबूत के साथ कटेगा चालान

जिसको आनन फानन में पुलिस की मदद से एसजीएमएच में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। जहां पर पीड़ित पक्ष ने आरोपियों सहित पुलिस पर सनसनीखेज आरोप लगाए है।

नई गाइडलाइन जारी : 1 अगस्त से प्रवेश प्रक्रिया शुरू : आपराधिक प्रकरण वालों को कॉलेज में नहीं मिलेगा एडमिशन

मनिकवार चौकी प्रभारी उप निरीक्षक मनीषा उपाध्याय ने बताया कि सोमवार की शाम समान थाना क्षेत्र के गुलाब नगर के पास रमेश सेन पिता बुद्धसेन सेन (29) निवासी रघुराजगढ़ के साथ कुछ आरोपियों ने मारपीट की थी। जिसको संजय गांधी स्मृति हास्पिटल में भर्ती कराया गया है। अभी तक की जानकारी में जो बात सामने आ रही है उसमे नशे के तस्करों पर ही मारपीट कराने की आशंका। चौकी में दर्ज मामलों के मुताबिक रमेश सेन पर पहले से एनडीपीएस, आबकारी और मारपीट के पांच मामले दर्ज है।

अतिक्रमण का मामला : कलेक्टर का आदेश नहीं मान रहे सिरमौर तहसीलदार, साहब मुझे अपनी जमीन पर जोतने और बोनी के लिए सुरक्षा दिलाइए

तस्करी को लेकर आपसी विवाद

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक घायल युवक पहले पुलिस के लिए मुखबिरी किया करता था। इसके बाद वह स्वयं कोरेक्स सहित अवैध मादक पदार्थों की तस्करी में लिप्त हो गया। जिससे पुराने तस्कर विरोध मानने लगे। ऐसे में एक दो बार दोनों गुटों में मारपीट की घटनाएं भी हुई। दोनों पक्ष एक दूसरे के पीछे पड़े थे। इसलिए एक बार फिर रमेश सेन के साथ मारपीट के बाद पुराने जख्म जिंदा हो गए। इधर दूसरे फरियादी दिव्यांग सिंह निवासी धवैया ने एसजीएमएच में मीडिया के सामने पुलिस पर सनसनीखेज आरोप लगाए है।



Powered by Blogger.