MP : 'शिव' की चेतावनी : बोले; सावधान रहें, फिर से कोरोना के केस बढ़ने लगे : लॉकडाउन के बाद अब भी तेजी से नए केस सामने आ रहे

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है, देश में फिर से कोरोना के केस बढ़ने लगे हैं। ये चिंता का विषय है। मध्यप्रदेश में भी वायरस अभी है। साउथ व नाॅर्थ ईस्ट (पूर्वोत्तर राज्य) में तीन महीने लॉकडाउन के बाद अब भी तेजी से नए केस सामने आ रहे हैं। इंग्लैंड में फिर से 55 हजार के करीब पॉजिटिव केस आए हैं। दुनिया के दूसरे देशों में भी केस तेजी से बढ़ रहे हैं। भारत में भी कई राज्यों में तेजी से मामले सामने आ रहे हैं। अन्य राज्यों के कई जिलाें में पॉजिटिविटी रेट 10% से कम नहीं हो पा रही।

युवती अपनी सहेली को घर लाई फिर बड़े भाई से करवाया दुष्कर्म : फिर धमकाते हुए बोली- किसी को बताया तो बदनाम कर देंगे

बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर के साथ संक्रमण और अधिक तेजी से फैलने का खतरे को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दूसरे राज्यों से यूपी में दाखिल होने वाले लोगों के लिए खास दिशा-निर्देश जारी किए हैं। अब यूपी में प्रवेश करने से पहले लोगों को RTPCR की निगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा।

बेवफाई की वजह से हत्या : अवैध संबंधों के शक में पति ने पत्नी की पत्थर से कुचलकर कर दी हत्या

यही वजह है, मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों को घर से बाहर निकलने पर अनिवार्य रूप से मास्क लगाने और फिजिकल डिस्टेंस बना कर रखने की अपील की है। उन्होंने कहा, ICMR और WHO ने तीसरी लहर आने की चेतावनी दी है। मध्य प्रदेश में 16 जुलाई को 11 केस मिले थे, लेकिन 17 जुलाई को यह संख्या बढ़कर 18 हो गई। यह संकेत हैं, मध्य प्रदेश से कोरोना संक्रमण अभी गया नहीं है। उन्होंने प्रदेश की जनता से अपील की है, वे निश्चिंत नहीं हों। अगर हम असावधान रहे तो ये तीसरी लहर को निमंत्रण देना होगा।

भोपाल से वाराणसी- गांधीनगर के बीच सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन 21 जुलाई से शुरू : कन्फर्म टिकट के यात्रियों को अनुमति

अधिकतम टेस्टिंग की कोशिश: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकतम टेस्टिंग की कोशिश कर रहे हैं। शनिवार को 78 हजार टेस्ट किए गए। वैक्सीनेशन भी तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि अगर तीसरी लहर आई, तो हम उससे निपटने की तैयारी भी कर रहे हैं। शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सबसे प्रभावी कोई उपाय है, तो कोविड नियमों का पालन करें।

परिवार वालों ने शादीशुदा युवक से छात्रा के बिना मर्जी जबरजस्ती करवा दी शादी तो लड़की ने पति पर ही रेप का केस दर्ज करा दिया

उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए अस्पतालों में आवश्यक व्यवस्था मुहैया करने के लिए भी राज्य सरकार काम कर रही है। प्रदेश में अधिकतम टेस्ट करने, पॉजिटिव आए व्यक्तियों की कॉन्टैक्ट ट्रैसिंग करने और उन्हें आइसोलेशन में रखने का कार्य जारी है।

Powered by Blogger.