MP : ग्वालियर में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर महाराजा बाड़ा मे राष्ट्रीय ध्वज लगाते समय हादसा : क्रेन का हाइड्रोलिक पट्टा टूटने से तीन की मौत, कई घायल

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

ग्वालियर में शनिवार सुबह 60 फीट ऊंचे डाकघर भवन पर राष्ट्रीय ध्वज की रस्सी बदलते समय हादसा हो गया। इसमें 3 कर्मचारियों की मौत हो गई और 1 गंभीर रूप से घायल है। झंडे की रस्सी बदलने के लिए कर्मचारी क्रेन पर चढ़े ही थे। अचानक क्रेन का जैक उखड़ गया और क्रेन की ट्रॉली पलट गई। ट्रॉली में 4 कर्मचारी थे। सभी सिर के बल पहली मंजिल की छत पर गिर गए। मृतकों में 2 नगर निगम के दमकल विभाग के कर्मचारी हैं और एक डाकघर का चौकीदार है।

पहली बार रजिस्ट्री में न गवाह की जरूरत न नोटरी की, डीड भी खुद लिख सकेंगे, प्रॉपर्टी के फ्रॉड रोकने में मददगार बनेगा यह सिस्टम

हादसे के बाद लोग चारों कर्मचारियों को आनन-फानन में सभी को जय आरोग्य अस्पताल (JAH) के ट्रॉमा सेंटर लेकर पहुंचे, जहां तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया गया। सूचना मिलते ही प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट भी घटना स्थल पहुंचे। घटना के बाद से कर्मचारियों में काफी आक्रोश है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला है।

पति से अलग रह रही महिला ने सोशल मीडिया में युवक से दोस्ती कर युवक ने खींच लिए आपत्तिजनक फोटो फिर पति को भेज 3 लाख रुपए की करने लगा ब्लैकमेलिंग . . .

शहर के महाराज बाड़ा में हर साल स्वतंत्रता दिवस पर ऐतिहासिक भवनों पर लाइटिंग और सजावट की जाती है। पुराने डाकघर पर झंडा फहराया जाता है। झंडा तो यहां लगा था, लेकिन उसकी डोरी खराब थी। इसे ठीक कराने के लिए डाकघर के चौकीदारी विनोद कुमार शर्मा ने नगर निगम कार्यालय पर सूचना दी थी। दमकल के कर्मचारी 52 मीटर ऊंचाई वाली बड़ी क्रेन लेकर बाड़ा पहुंचे थे।

WHATSAPP में हुई युवती से दोस्ती फिर होटल में बुलाकर किया दुष्कर्म : आरोपी पहले से था शादीशुदा

क्रेन को साइड में खड़ी कर उसकी ट्रॉली में दमकल कर्मचारी प्रदीप राजौरिया, कुलदीप डंडौतिया, डाकघर चौकीदार विनोद शर्मा सहित 4 लोग खड़े थे। वह ट्रॉली में सवार होकर झंडे तक पहुंचे ही थे कि जिस जैक पर क्रेन खड़ी थी वह टूट गया। इससे क्रेन पलट गई। क्रेन के पलटते ही ट्रॉली सहित सभी कर्मचारी नीचे आ गिरे। स्थानीय लोगों ने पुलिस, नगर निगम को सूचना दी। तत्काल पुलिस वहां पहुंची और लोगों की मदद से घायलों को निकालकर एंबुलेंस से JAH के ट्रॉमा सेंटर पहुंचाया।

पापा ने ऑनलाइन क्लास के लिए दिया था मोबाइल; छात्र ने फ्री फायर गेम में 20 हजार रुपए हारा फिर महिला टीचर को धमकी देते कहा - 8 लाख नहीं दिए तो घरवाले का मर्डर कर दूंगा

अस्पताल में 3 की मौत की पुष्टि हुई

घायलों को लेकर अस्पताल पहुंचे पुलिस अफसर ने बताया कि हादसे में प्रदीप राजौरिया, विनोद कुमार शर्मा और कुलदीप डंडौतिया की सिर पर चोट लगने से मौत हो गई। 3 कर्मचारियों की हालत नाजुक बनी हुई है।

57 साल की उम्र में 24 साल की युवती से रेप, अब 62 की उम्र में कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा

घटना से कर्मचारियों में आक्रोश, हंगामा किया

घटना के बाद नगर निगम के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और अपने साथियों की इस तरह हुई मौत पर आक्रोश जताया। उनकी नगर निगम के अफसरों से बहस भी हुई। 10 बजे तक एक अपर आयुक्त के अलावा कोई भी निगम का बड़ा अफसर मौके पर नहीं पहुंचा।

Powered by Blogger.