REWA : पुलिस कंट्रोल रूम में त्योहारों और अपराधों के संबंध में हुई समीक्षा : SP के शख्त निर्देश; अपने-अपने क्षेत्रों के अपराधियों की कुंडली तैयार कर लें

रीवा पुलिस कंट्रोल रूम में त्योहारों के मद्देनजर कानून व्यवस्था और अपराधों के संबंध में क्राइम मीटिंग ली गई। रविवार को समीक्षा बैठक दो पालियों में आयोजित की गई। पहली शिफ्ट में एसपी तो दूसरी ​शिफ्ट में आईजी और डीआईजी ने संबोधित किया। एसपी राकेश सिंह ने जिले में घटित अपराधों के संबंध में समीक्षा के दौरान बारी-बारी से सभी थाना प्रभारियों से रूबरू हुए। संबंधित थाना प्रभारियों से हाल ही में हुए हत्याकांड के बारे में चर्चा कर अहम निर्देश दिए।

बाइकर्स गैंग्स के बढ़ते अपराध को लेकर पुलिस का एनाउंस अलर्ट जारी : रेवांचल बस स्टैंड में अब रात 10 बजे के बाद कोई भी दुकानें खुली तो खैर नहीं ..

बैठक में दूसरे प्रदेशों में बढ़ रहे कोरोना को लेकर अलर्ट रहने के निर्देश दिए। कहा कि थाना क्षेत्र में समय-समय पर वाहन चेकिंग, गश्ती व वारंटियों के मामलों को शीघ्र निष्पादित करे। साथ ही ध्यान रहे थानों पर पहुंचने वाले हर मामलों ​का निराकरण हो। थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों के गुंडा पंजी में शामिल अपराधियों की कुंडली भी तैयार कर लें। अवैध शराब की बिक्री होने पर सख्त कार्रवाई कर वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दे।

रीवा में दो दिनों से बदला मौसम का मिजाज : आज सोमवार की सुबह 9 बजे से चालू हुआ वर्षा का दौर

इन मामलों की हुई समीक्षा

क्राइम मीटिंग में एसपी ने थानेवार लंबित मामले, शिकायतें, लंबित अनुसंधान, गैर जमानती वारंट, समन तामिल की समीक्षा की। थाना स्तर पर विवेचना में लंबित अपराध, महिला संबंधी अपराध, एससीएसटी अपराध, चालान, मर्ग, गुम इंसान, उदघोषित फरार बदमाश, स्थाई वारंट, गिरफ्तारी वारंट के साथ सीएम हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों पर चर्चा की। कहा कि सभी शिकायतों को गंभीरता पूर्वक लिया जाए और निर्धारित समय-सीमा में निराकरण करें। एसपी ने एक-एक प्रकरण की बारीकी से समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिए। जिन थाना प्रभारियों द्वारा प्रकरणों के निराकरण में रूचि नहीं ली गई है। उन्हें आवश्यक रूप से समझाइश व सख्त निर्देश दिया गया है। समीक्षा के दौरान वर्तमान समय में लंबित शिकायतों व राहत प्रकरणों को शीघ्र निराकरण करने के दिए आवश्यक निर्देश।

रीवा में अब महिलाएं हो जाएं सावधान : बाइकर्स गैंग ने पुलिस विभाग को दी खुली चुनौती, 7 दिन में 7 जगहों पर महिलाओं को बनाया निशाना

क्राइम कंट्रोल एक्ट के तहत कार्रवाई करें: आईजी

दूसरी शिफ्ट में आईजी उमेश जोगा ने त्योहारों के मद्देनजर कानून व्यवस्था के संबंध में चर्चा की। आईजी ने कहा कि आने वाले दिनों में त्योहारों का सीजन शुरू हो रहा है। त्योहारों में विधि व्यवस्था संधारण के उद्देश्य से मीटिंग ली गई है। क्योंकि चंद लोग ही सौहार्दपूर्ण वातावरण को बिगाड़ने का प्रयास करते हैं। ऐसे असामाजिक तत्वों पर नकेल कसने के निर्देश दिए। कहा कि सांप्रदायिक सौहार्द के दृष्टिकोण से संवेदनशील मानें जाने वाले स्थानों को चिन्हित करें। साथ ही पूजा समिति के साथ बैठककर सरकार द्वारा जारी निर्देशों की जानकारी उपलब्ध कराएं। सभी थाना अध्यक्ष और पूजा समिति के लोग शांति समिति की बैठक कर समीक्षा करें। आईजी ने कहा कि पर्व के दौरान अशांति फैलाने की मानसिकता पालने वाले लोगों के विरुद्ध क्राइम कंट्रोल एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

भारतीय राजनीति के इतिहास में पहली बार अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज ने की बड़ी मांग : आबादी के हिसाब से ब्राह्मणों को आरक्षण की मांग

पूजा स्थल में न होने पाए छेड़छ़ाड: डीआईजी

बैठक में डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह ने कहा कि सभी थाना प्रभारी पूजा स्थलों में विधि व्यवस्था बनाए रखने, श्रद्धालुओं के आवागमन में सुरक्षा सुनिश्चित करने, असामाजिक व शरारती तत्वों पर निगरानी रखने व छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के निर्देश दिए। थाना प्रभारियों को हिदायत दी गई कि पूजा स्थल में कहीं किसी तरह की छेड़छाड़ की घटनाएं नहीं होनी चाहिए। इसे रोकने के लिए भीड़ वाले पूजा स्थलों में महिला पुलिस की तैनाती सुनिश्चित करने का निर्देश दिए। पूजा के दौरान पुलिस गश्ती तेज करने, असामाजिक तत्व व शरारती तत्वों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने ने बताया कि सोशल मीडिया पर किसी तरह के अफवाह एवं भड़काउ मैसेज पोस्ट करने वाले को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। समीक्षा बैठक में एएसपी रीवा शिव कुमार वर्मा एवं एएसपी मऊगंज विजय डाबर सहित जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी व थाना प्रभारी उपस्थित रहे।

Powered by Blogger.