REWA : रिटायर्ड फौजी बेटे की मौत का सच जानने पुलिस अधिकारियों के कार्यालय में लगा रहा चक्कर, पहले IG अब SP को दिया शिकायती आवेदन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

29 जून को​ रीवा जिले के युवक की यूपी के गाजियाबाद में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसी मौत का सच जानने के लिए रिटायर्ड फौजी पिता डेढ़ माह से पुलिस अधिकारियों के कार्यालय का चक्कर काट रहा है। हालांकि इस मामले में रीवा आईजी उमेश जोगा ने 19 जुलाई को गाजियाबाद एसपी को पत्र लिखा है। लेकिन एक माह बीत जाने के बाद भी गाजियाबाद पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके चलते बुधवार को लाचार पिता एक बार फिर रीवा एसपी राकेश सिंह से मिले हैं।

रीवा में तीन तलाक का मामला : पति की प्रताड़ता से तंग आकर पत्नी चली गई मायके उधर पति ने कर ली दूसरी शादी

मनगवां थाना अंतर्गत ग्राम देवरा फरेदा निवासी नीतिराज सिंह गहरवार ने बताया कि उनका बेटा सूर्यदेव सिंह गहरवार (23) साल्वेंटियों इनोवशन एलएलपी मुम्बई में नौकरी करता था। जहां कुछ समय बाद गाजियाबाद में कम्पनी का काम पार्किंग रोड सेफ्टी लाइट का चल रहा है। जहां सूर्यदेव वित्तीय एवं साइड इंचार्ज का कार्य संभाल रहा था। 29 जून को सूर्यदेव के बीमार होने की जानकारी फोन द्वारा परिजनों को मिली।

महिला पर ऑटो चालक से प्रेम प्रसंग का आरोप लगाते शरारती तत्वों ने छेड़छाड़ कर वीडियो बना ​कर दिया वायरल : 5 आरोपी गिरफ्तार

रीवा से गाजियाबाद पहुंचने में 10 से 12 घंटे का समय लगता। ऐसे में दिल्ली में रह रहे अपने भतीजे घनश्याम सिंह, भीम सिंह और आनंद सिंह को तत्काल गाजियाबाद भेजा गया था। लेकिन उनके भतीजे जब गाजियाबाद पहुंचे तो पता चला कि सूर्यदेव की मौत हो चुकी है। भतीजों ने शव देखा तो हाथ-पैर बांधकर रखे गए थे। फिर भी कंपनी के जिम्मेदारों ने बिना पीएम किए ही शव को रवाना कर दिया। जबकि भतीजे लगातार पोस्ट मार्टम की मांग कर रहे थे। ऐसे में पूरा मामला संदिग्ध समझ में आने लगा।

शरारती तत्वों की हरकत : यात्री प्रतीक्षालय में लगी CM शिवराज और विधायक पंचूलाल प्रजापति की फोटो पर पोत दी कालिख, जब लोगों ने देखा तो रह गए दंग

जांच की मांग

गाजियाबाद में नौकरी के दौरान जान गंवाने वाले बेटे की हत्या का संदेह जताते हुए पिता ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से कई बार मुलाकात कर गुहार लगाई है। रिटायर्ड फौजी ने एसपी के सामने कहा कि उनके बेटे की सुनियोजित तरीके से हत्या की गई है। बिना पोस्टमार्टम कराए शव भेज दिया। समय पर कोई जानकारी नहीं दी। बेटे की मौत कैसे हुई, इसकी हम निष्पक्ष जांच चाहते हैं।

Powered by Blogger.