REWA : बड़ा खुलासा : रीवा में बम की दहशत फैलाने वाले तीन आरोपी पकड़ाए, 13 वारदाते कबूली, इंजीनियर निकला मास्टरमाइंड

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा। (REWA NEWS ) मध्य प्रदेश के रीवा पुलिस उस समय राहत की सांस ली जब उनके द्वारा बनाई गई टीम डमी बम रखने वाले तीन मुख्य आरोपितों तक पहुंच गई। हालांकि बम की विवेचना में बैकफुट पर रहने वाली पुलिस तीन लोगों की गिरफ्तारी के बाद फ्रंट फुट पर पाकर पूछताछ कर रही है। हालांकि मामले के खुलासे को लेकर पुलिस अधीक्षक नवनीत वसीन ने पूछताछ का हवाला देते हुए खुलासे से इनकार कर दिया है।

जनता का मोह : रीवा कलेक्टर का स्थानांतरण रुकवाने युवक ने की CM helpline में शिकायत

यह टीमें कर रही पूछताछ : बता दें कि पकड़े गए तीनों लोगों को पुलिस उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिला अंतर्गत कोहडार थाना के पास से गिरफ्तार किया है। उन तीनों युवकों से सोहागी, गंगेव, मनगवा, मऊगंज एवं हनुमना पुलिस अलग-अलग पूछताछ कर रही है। बताया गया है इनके अलावा एटीएस, एसटीएस, उत्तर प्रदेश एटीएस और एसटीएफ एवं प्रयागराज की क्राइम ब्रांच की टीम पूछताछ कर रही है।

कलेक्टर इलैयाराजा टी के स्थानांतरित होने से उनके चाहने वालों को लगा झटका, जनता ने कहा DM हो तो ऐसा...

अतिरिक्त पुलिस महानिर्देशक रीवा के मार्गदर्शन में पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन के दिशा निर्देश व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवकुमार वर्मा एवं SDOP त्योथर के नेतृत्व में थाना सोहागी क्षेत्रान्तर्गत NH30 रोड बाय पास ओवर ब्रिज के नीचे दिनांक 21/01/2022 को अज्ञात आरोपी दवारा दहशत फैलाने के उद्देश्य से टाईम बम लगाये जाने की सूचना पर BDS टीम रीवा के साथ थाना सोहागी पुलिस द्वारा बम डिसफ्यूज कर थाना सोहागी में अपराध क्र 25/2022 धारा 505 ( 2 ) .507 ता हि पंजीबद्ध कर के अज्ञात आरोपी की पता तलाश सायबर सेल रीवा के संयुक्त टीम के साथ घटना स्थल के समीपस्थ CCTV फुटेज व बंसल टोल प्लाजा के CCTV फुटेज के आधार पर एक संदिग्ध सेन्ट्रो कार को रात करीबन 10.00 बजे गुजरते हुये देखा गया जो सोनौरी तरफ जा रही थी फिर सोनौरी में लगे सीसीटीव्ही कैमरे में भी उक्त कार को देखा गया फिर सोनौरी चौराहे आकर ककरहा तरफ मुड़ कर रास्ते मे CCTV कैमरे में तलाश की गई जो मानपुर प्रयागराज उ.प्र .के सायकल के दुकान में लगे CCTV कैमरे मे उक्त कार को रात करीबन 10.30 बजे गुजरते हुये देखा जिसका पीछा करते हुये तथा रास्ते में पड़ने वाले CCTV फोटेज की तलाश कर फोटेज देखते हुये उक्त संदिग्ध सिल्वर रंग सेन्ट्रो कार जिसका नम्बर DL7CJ1494 को दस्तयाब कर मामले के तीनों सदेहियों को दविश देकर अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई उक्त तीनो सन्देहियों ने जुर्म को स्वीकार किया है आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जावेगा । 

जिले में 9 दिन के भीतर मिले पांचवीं बार बम के पार्ट्स : इस बार बनारस नेशनल हाईवे को बनाया निशाना

रीवा में पांच प्रयागराज में तीन घटनाएं : सूत्रों की माने तो पकड़े गए तीनों युवकों ने अब तक रीवा जिले के पांच स्थानों पर रखे गए डमी बम के घटना को अंजाम देने की बात स्वीकार कर ली है। साथ ही उत्तर प्रदेश के नैनी सहित अन्य घटनाओं की भी जिम्मेदारी ली। लेकिन दिए जा रहे हैं बयान की माने तो मामला गंभीर होता दिखाई दे रहा है।

एक्शन में रीवा कलेक्टर : अवैध रूप से बन रही सांई वैली कॉलोनी पर चला नगर निगम का बुल्डोजर

पहली बार बम 21 और 22 जनवरी की रात एक बजे सोहागी थाना अंतर्गत पहाड़ के एक ब्रिज में बम मिलने से हड़कंप मच गया था। हालांकि, बाद में बीडीएस की टीम ने खोखा होने की पुष्टि की थी। इसी तरह 26 जनवरी की सुबह मनगवां थाने के आवी हाईवे के ब्रिज में दूसरी बार बम की घटना से प्रदेशभर में हड़कंप मच गया था। वहीं, तीसरा बार गंगेव चौकी के समीप हाईवे में विस्फोटक पदार्थ रखे होने की जानकारी आई थी। जिसको ग्रामीणों ने उठाकर पानी में फेंक दिया था। अब चौथी बार मऊगंज थाने के पटेहरी ओवर ब्रिज में बम मिलने की थी। पांचवीं घटना 30 जनवरी को वही है जहां हनुमना और शाहपुर मार्ग पर फर्जी बम मिला था।

शादी से 16 दिन पहले युवती ने जहर खाकर दी जान : वजह जान उड़ जाएंगे होश

गिरफ्तार आरोपीगण :  01- प्रकाश सिंह सोमवंशी पिता ब्रह्मा सिंह सोमवंशी उम्र 35 साल निवासी ग्राम भसुंदर खुर्द थाना मेजा जिला प्रयागराज ( उ ० प्र ० ) 

02- रामतीरथ हरिजन पिता रामहौंसला हरिजन उम्र 36 साल निवासी ग्राम भसुंदर खुर्द थाना मेजा जिला प्रयागराज ( उ 0 प्र 0 ) 

03- दिवेश दुबे उर्फ दीपक पिता ओंमकारनाथ दुबे उम्र 26 साल निवासी मकान नंबर एफ पी -13 गंगानगर कालोनी थाना गंगानगर जिला मेरठ 30 प्र 0 ( थाना मनगंवा एवं थाना मउगंज के अपराध में गिरप्तारी ) 

जप्त मशरूका :  इलेक्ट्रानिक सर्किट मदर बोर्ड , पेंट , टेप एल्युमीनियम तार , इलेक्ट्रानिक घडी , पेन लोहे की आरी , प्लास्टिक के पाइप , मोबाइल , घटना में प्रयुक्ट सेंट्रो कार क्रमांक DL7CJ1494

महत्वपूर्ण भूमिका : समरजीत सिहं परिहार एसडीओपी त्योथर उनि अभिषेक पटेल थाना प्रभारी सोहागी उनि संजीव शर्मा , उनि निशा खूता , उनि दीपक तिवारी उनि अरविन्द सिंह राठौर उनि शैल यादव , उनि बी.सी विश्वास , उनि अजीत सिंह , सउनि दीपेश पटेल आरक्षक 341 बृजेन्द्र जयसवाल , आर 1118 आशुतोष मिश्रा आर 322 दिलीप तिवारी , आरक्षक विशाल सिहं , आरक्षक अमित सिहं , आरक्षक योगेन्द्र सिहं

सराहनीय भूमिका सायबर सेल : निरीक्षक वीरेन्द्र सिंह पटेल , उनि गौरव मिश्रा उनि मृगेन्द्र सिहं , प्रआर ० कृष्ण कान्त नामदेव , आर ० सुभाष चन्द्र आर ० वरूणेन्द्र सिंह परिहार , आर ० भावेश द्विवेदी ।

Powered by Blogger.