REWA : सिंगरौली में रीवा लोकायुक्त की बड़ी कार्यवाही : भूमि नामांतरण के लिए 15 हजार की रिश्‍वत लेते पकड़या पटवारी

रीवा। संभाग के सिंगरौली जिले में लोकायुक्त रीवा द्वारा एक पटवारी को भूमि का नामांतरण करने के लिए 15 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया है। उक्त रिश्वत की राशि स्थानीय पत्रकार द्वारा दी जा रही थी। कार्रवाई पूरी हो जाने के बाद पटवारी को जमानत पर रिहा कर दिया गया है। बताया गया है कि रिश्‍वत भूमि के नामांतरण के लिए मांगी गई थी जिसकी शिकायत लोकायुक्‍त कार्यालय में की गई थी।

भ्रष्टाचारी नायब तहसीलदार को बेनकाब : 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए ट्रेप, आदेश निरस्त कराने के एवज में मांगी थी रकम

क्या है मामला 

लोकायुक्त कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार की दोपहर पटवारी को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया है जिसकी शिकायत पत्रकार जितेंद्र कुमार तिवारी निवासी ग्राम करई तहसील सरई जिला सिंगरौली द्वारा की गई थी। शिकायत में बताया गया था कि पटवारी अनुभव त्रिपाठी पुत्र राजेंद्र कुमार त्रिपाठी 30 वर्ष पटवारी हल्का पिड़रा तहसील सरई जिला सिंगरौली, निवासी चिरहुला कालोनी रीवा द्वारा विक्रीत 28 भूमियों का नामांतरण करने के लिए 56 हजार रुपये की रिश्वत की मांग की जा रही थी। जिसकी पहली किस्त 15 हजार रुपये पटवारी द्वारा ग्राम पीपरखांड स्थित शासकीय जमीन पर ली जा रही थी उसी समय लोकायुक्त रीवा द्वारा उसे रंगे हाथ पकड़ लिया गया है।

Rewa-Prayagraj मार्ग में दर्दनाक हादसा : NH 30 को क्रॉस करते समय ग्रामीण को अज्ञात वाहन ने कुचला, दो हिस्सों में बंट गया युवक का शरीर

टीम में ये रहे शामिल 

उक्त शिकायत को गंभीरता से लेते हुए लोकायुक्त एसपी गोपाल धाकड़ द्वारा शिकायत की जांच कराई गई शिकायत जांच कराने पर शिकायत सही एवं प्रमाणित आएगी जिस पर निरीक्षक जियाउल हक व उप निरीक्षक रितुका शुक्ला के नेतृत्व में 15 सदस्यीय टीम का गठन कर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया था उक्त टीम द्वारा सोमवार के दिन तो बाहर उक्त कार्रवाई की गई है।

परिवहन विभाग पर लगे अवैध वसूली के आरोप : जांच के नाम पर एक ट्रक चालक से वसूले 6 हजार, नहीं दी रसीद

पटवारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया है उसके विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला पंजीकृत कर मामले की विवेचना में लिया गया है. कार्रवाई पूरी हो जाने के बाद पटवारी को जमानत पर रिहा कर दिया गया है।

गोपाल धाकड़, एसपी, लोकायुक्त

Powered by Blogger.