मऊगंज सिविल अस्पताल का मामला : चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते परिजनों ने की जमकर पिटाई, डॉक्टर को जिंदा जलाने की कोशिश

     

रीवा जिले के लौर थाना अंतर्गत बीती रात सड़क दुर्घटना में घायल युवक ने मऊगंज सिविल अस्पताल दम तोड़ दिया है। मौत के बाद आक्रोशित परिजनों ने चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर पिटाई कर दी। जान बचाने के लिए नाइट ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर खुद को एक कमरे में बंद कर लिया। जिसको जिंदा जलाने की कोशिश की गई।

हवस के पुजारी बाबा ने झाड़ फूंक के नाम पर किशोरी से किया दुष्कर्म, बोला जैसा मैं बोलता हूं, वैसा काम करो...

बवाल की सूचना के बाद मऊगंज पुलिस अस्पताल पहुंची। जिसने चिकित्सक को सुरक्षित बचाते हुए आक्रोशित परिजनों को शांत कराया। सूत्रों का दावा है कि दूसरे दिन पीड़ित चिकित्सक की शिकायत पर मऊगंज पुलिस ने मारपीट और तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 332, 294, 506 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया है।

शादी की पहली ही रात हवालात पहुँचा युवक : दूल्हा 3 साल तक शादी का झांसा देकर गर्लफ्रेंड से कर रहा था दुष्कर्म

ये है मामला

मऊगंज एसडीओपी नवीन दुबे ने बताया कि सोमवार की रात 10 बजे के आसपास लौर थाना क्षेत्र में एक सड़क दुर्घटना हुई। हादसे में रवि कुमार द्विवेदी बुरी तरह जख्मी हो गया। पुलिस को सूचना देते हुए परिजन सीधे घायल को लेकर सिविल अस्पताल मऊगंज पहुंचे। जहां उपचार के दौरान घायल युवक ने दम तोड़ दिया। मौत के बाद परिजन आक्रोशित हो गए।

तीन दिन पूर्व लापता युवक की हत्या का पुलिस ने पचमठा घाट में किया खुलासा : दो आरोपी गिरफ्तार, अन्य के ऊपर हत्या का मामला दर्ज कर तलाश जारी

चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप

उन्होंने चिकित्सक अनिल सिंह उइके पर लापरवाही का आरोप लगाया। कहा अगर समय पर इलाज शुरू हो जाता तो घायल की जान बच जाती। लेकिन चिकित्सक टाल मटोल करते रहे। इसी बीच एक दर्जन से ज्यादा लोग अस्पताल पहुंचे। जिन्होंने चिकित्सक को मौत का जिम्मेदार बताते हुए पिटाई शुरू कर दी। भीड़ से बचकर चिकित्सक एक कमरे में कैद हो गए।

शिक्षा विभाग में हड़कंप : फिर छात्रा से प्राचार्य द्वारा अश्लील बातें करने का मामला उजागर

पुलिस ने चिकित्सक को बचाया

साथ ही मऊगंज पुलिस को अस्पताल में बवाल होने की जानकारी दी। कुछ लोगों ने दरवाजा तोड़ते हुए जिंदा जला देने की बात कही। इसी बीच पुलिस पहुंच गई। जिसके बाद कमरे से चिकित्सक को बाहर ​निकालते हुए पूरे मामले को जाना। इधर मृतक का शव मर्चुरी में रखाते हुए दूसरे दिन पोस्ट मार्टम ​कराने की बात कह कर सभी को गांव भेज दिया गया।

Powered by Blogger.