रीवा में बलात्कार का सनसनीखेज मामला : 2 सगे भाइयों ने किशोरी का अपहरण कर बनाया हवस का शिकार, परिजनों को बताया तो पैरों तले से जमीन खिसक गई

रीवा. एक किशोरी के अपहरण और बंधक बनाकर सामूहिक बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है। घटना को 2 सगे भाइयों ने अंजाम दिया। पीडि़ता द्वारा विरोध करने पर आरोपियों ने मारपीट कर धमकियां भी दी। किसी तरह आरोपियों के चंगुल से आजाद होकर जब किशोरी घर पहुंची, तब मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बहुचर्चित राजनिवास मामला : सह आरोपी संजय त्रिपाठी की तबियत में सुधार, हमीदिया अस्पताल से भोपाल जेल में किया शिफ्ट

रोंगटे खड़े कर देने वाली यह घटना हनुमना थाना क्षेत्र की बताई जा रही है। यहां रहने वाली किशोरी बीती रात करीब दो बजे शौच के लिए बाहर निकली थी। आरोपी मुकेश यादव व मूरत यादव उसके घर के पास घात लगाकर छिपे थे। आरोपियों ने मुंह दबाकर किशोरी का अपहरण कर लिया और उसे घर से करीब पांच किमी दूर एक नाले के पास ले आए। आरोपियों ने किशोरी का हाथ व मुंह कपड़े से बांध दिया था। 

Rewa के THT रेस्टोरेंट में अवैध रूप से जमघट लगाकर हुक्का पी रहे नशेड़ियों पर बड़ी कार्यवाही

उसने विरोध किया तो आरोपियों ने मारपीट कर उसको जान से मारने की धमकी दी। बाद में दोनों युवकों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। चार घंटे तक वह आरोपियों के चंगुल में फंसी रही। उसके बाद वे धमकाते हुए मौके से फरार हो गए। सुबह कुछ स्थानीय लोग मवेशी चराने पहुंचे, जिनके मोबाइल से उसने परिजनों से संपर्क किया। परिजन मौके पर पहुंचे और उसे घर लेकर आए। खौफनाक घटना की जानकारी जब उसने परिजनों को दी तो उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। वे पीडि़ता को लेकर थाने पहुंचे और शिकायत दर्ज कराई जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। पीडि़ता को मेडिकल परीक्षण के लिए अस्पताल भिजवा दिया गया।

रीवा में अंधी हत्या का पर्दाफाश : पति की बेरुखी से परेशान पहली पत्नी ने भाई और भतीजे के साथ मिलकर पति को उतारा था मौत के घाट

बाहर भागने की फिराक में थे आरोपी, पुलिस ने घेराबंदी कर पकड़ा

शुक्रवार की सुबह पीडि़ता को लेकर परिजन जब थाने आ रहे थे तो आरोपियों को इसकी जानकारी हो गई। वे पकड़े जाने के डर से बाहर भागने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन तत्काल पुलिस ने लोकेशन ट्रेस कर गांव के बाहर घेराबंदी कर पकड़ लिया। आरोपियों को थाने लाया गया, जिनसे अब घटना के संबंध में जानकारी ली जा रही है। पूछताछ में उन्होंने इस घटना को अंजाम देना स्वीकार किया है।

दहेज की लंबित मांग को पूरा करने ज़िद पर अड़े ससुराल पक्ष, बिना शादी के वापस लौटी बारात, जयमाल लेकर थाने पहुंची दुल्हन

एक किशोरी का आरोपियों ने अपहरण कर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया था। शिकायत मिलने पर मामला दर्ज कर लिया गया है। घटना में शामिल दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जांच में जो तथ्य सामने आयेंगे उस आधार पर आगे कार्रवाई की जायेगी।

नवीन दुबे, एसडीओपी मऊगंज

Powered by Blogger.