रीवा में फिर दिनदहाड़े 10वीं कक्षा के छात्र की हत्या : दो बाइक में आए चार बदमाशों ने चाकुओं से गोंदकर फैलाई सनसनी, स्टेटस से विवाद की शुरूआत

 
रीवा में 10वीं के स्टूडेंट को चार बदमाशों ने मारे चाकू

मोबाइल में स्टेटस लगाने को लेकर हत्या

रीवा जिले के बैकुण्ठपुर थाना अंतर्गत एक स्कूल छात्र की खेल मैदान में दिन दहाड़े हत्या कर दी गई। पुलिस के मुताबिक 10वीं कक्षा का छात्र विद्यालय से निकलने के बाद खेल मैदान के पास से गुजर रहा था। जहां घात लगाकर बैठे दो बाइक में आए चार बदमाशों ने चाकुओं से गोंदकर सनसनी फैला दी। शोर शराबा सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। जिनको देख आरोपी फरार हो गए।
तुरंत स्थानीय लोगों ने वारदात की सूचना बैकुण्ठपुर पुलिस को दी। जानकारी के बाद पहुंची पुलिस की एक टीम बदमाशों का पीछा करने लगी। जबकि दूसरी टीम घायल छात्र को लेकर संजय गांधी अस्पताल रवाना हुई। लेकिन काफी मात्रा में रक्त बह जाने के कारण एसजीएमएच के चिकित्सकों ने नब्ज टटोलते ही मृत घोषित कर दिया। फिलहाल बैकुंठपुर पुलिस हत्या का प्रकरण दर्ज कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।
ये है मामला
बैकुण्ठपुर थाना प्रभारी निरीक्षक राजकुमार मिश्रा ने बताया कि सोमवार की शाम 4 से 5 बजे के बीच 10वीं कक्षा का छात्र गोविंद विश्वकर्मा पुत्र स्वर्गीय राजकरण विश्वकर्मा 17 वर्ष स्कूल से निकल कर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर के बगल में स्थित खेल मैदान में पहुंचा। तभी चार लोगों ने चाकू से हमला कर हत्या कर दी है।
लाश को मर्चुरी में रखवाया
जानकारी के बाद बैकुण्ठपुर पुलिस तुरंत घायल छात्र को लेकर एसजीएमएच पहुंची है। हालांकि तब तक 17 वर्षीय छात्र ने दमतोड़ दिया है। एसजीएमएच के चिकित्सकों द्वारा छात्र को मृत घोषित करने के बाद लाश को मर्चुरी में रखवा दिया है। अब पोस्ट मार्टम की प्रक्रिया मंगलवार की दोपहर की जाएगी। वहीं पुलिस की अन्य टीमे आरोपियों को पकड़ने में लगी है।
सतना बॉर्डर में मिली लास्ट लोकेशन
सूत्रों का दावा है कि दो बाइक से भाग रहे चार बदमाशों को लास्ट लोकेशन सतना जिले के बेला में मिली है। ऐसे में साइबर सेल की मदद से आरोपियों को ट्रेस किया जा रहा है। बैकुंठपुर कस्से के लोगों ने बताया कि हत्या मामूली बात को लेकर हुई है। चर्चा है कि मृतक छात्र ने अपने मोबाइल में एक स्टेटस लगाया था। जिसको देखने के बाद आरोपीगण हंसने लगे। स्कूल छात्र ने हंसने का विरोध किया तो चारों आरोपियों ने मारपीट शुरू कर दी
पेट, पीठ को चाकूओं से गोदा
चिकित्सकों का कहाना है कि मृतक छात्र के सिर पर डंडे से प्रहार किया गया है। इसके बाद पेट और पीठ में चाकुओं से दर्जनभर प्रहार हुए है। ऐसे में छात्र मौके पर ही लहुलुहान हो गया था। इसके बाद संजय गांधी अस्पताल लाते समय उसकी मौत हो गई है। रात हो जाने के कारण लाश को मर्चुरी में रखा दिया गया है। कयास लगाए जा रहे है कि मंगलवार को पहले एफएसएल टीम जांच करेगी। इसके बाद पोस्ट मार्टम कराया जाएगा।

Related Topics

From Around the Web

Latest News