cricketer Ishwar Pandey Retired : ईश्वर पाण्डेय ने क्रिकेट से सन्यास लेने की करी घोषणा, सोशल मीडिया में लिखा भावुक पोस्ट 

 
ISHWAR PANDEY
लंबे समय से वह टीम इंडिया के लिए खेलने का प्रयास कर रहे थे लेकिन अवसर नहीं मिल पा रहा था।

रीवा। भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे ईश्वर पाण्डेय ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से सन्यास लेने की घोषणा कर दी है। लंबे समय से वह टीम इंडिया के लिए खेलने का प्रयास कर रहे थे लेकिन अवसर नहीं मिल पा रहा था। जिसके चलते क्रिकेट से सन्यास लेने की घोषणा कर दी है। अपनी नई पारी की शुरुआत कहां से करेंगे अभी इसके बारे में कोई खुलासा नहीं किया है। सोशल मीडिया में भावुक पोस्ट लिखकर उन्होंने सबको धन्यवाद ज्ञापित किया है।

ALSO READ : ऑपरेशन मुस्कान : 4 साल बाद अपहरण का खुलासा, 70 हजार में महिला ने किशोरी को बेचा,दो आरोपी फरार

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के मैच में शामिल 

2014 में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ मैच खेलने के लिए दौरे पर गई भारतीय टीम में ईश्वर पाण्डेय को शामिल किया गया था। हालांकि उन्हें अपने खेल का प्रदर्शन दिखाने का अवसर नहीं मिला। वह लगातार प्रयास करते रहे लेकिन दोबारा टीम में शामिल होने का मौका नहीं मिला।

ALSO READ : एक्शन में रीवा SP ; बड़े पैमाने पर पुलिस विभाग में तबादला, देखे पूरी लिस्ट

रीवा निवासी है ईश्वर 

रीवा शहर के गायत्री नगर मोहल्ले के निवासी ईश्वर पाण्डेय ने मोहल्ले की टीम के साथ अपनी शुरुआत की थी। बाद में रीवा डिवीजनल क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़े और उनका चयन रणजी कप के लिए हुआ। मध्यप्रदेश क्रिकेट टीम में वह लगातार खेलते रहे। बाद में भारतीय टीम में उन्हें शामिल किया गया। इसके बाद आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स, राइजिंग पुणे सुपर जायंट्स से कई वर्षों तक खेला। आईपीएल के कई मैचों में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया।

ALSO READ : रीवा पुलिस की बड़ी उपलब्धि बाइकर्स गैंग का पर्दाफाश : दो नाबालिग समेत 6 अपराधी गिरफ्तार, 10 बदमाश अभी भी फरार

ईश्वर ने घरेलू क्रिकेट में 75 फर्स्ट क्लास, 58 लिस्ट ए और 71 T20 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने क्रमश: 263, 63 और 68 विकेट चटकाए हैं। वह आईपीएल में खिताब जीतने वाली महेंद्र सिंह धोनी की टीम चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) का हिस्सा रह चुके हैं। हालांकि वह पिछले तीन सीजन से आईपीएल में नहीं खेल रहे हैं। 

ईश्वर चंद पांडे ने इंस्टाग्राम पर संन्यास का ऐलान करते हुए लिखा

आज वो दिन आ गया और भारी मन से मैंने इंटरनेशनल और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला कर लिया। मैंने 2007 में इस शानदार यात्रा की शुरुआत की थी और तब से लेकर अब तक मैदान के अंदर और बाहर मैंने हर पल का आनंद लिया है। मुझे इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में शामिल किया गया, यह मेरे लिए गर्व की बात थी। लेकिन इस बात का दुःख भी है कि मुझे देश के लिए और खेलने का मौका नहीं मिल सका।''' 

ALSO READ : प्रेम-प्रसंग के मामले में युवक को निर्वस्त्र करके तालिबानियों की तरह सजा देने वाले 4 बदमाश गिरफ्तार 

अच्छे खिलाड़ी का साथ किस्मत ने नहीं दिया

ईश्वर पाण्डेय की खेल प्रतिभा देखकर रीवा डिवीजन की टीम में अवसर देने वाले आरडीसीए के सचिव कमल श्रीवास्तव बताते हैं कि रीवा से एक अच्छे खिलाड़ी का उदय हुआ था लेकिन उसकी किस्मत ने साथ नहीं दिया। कई वर्षों तक इंतजार के बाद भी देश के लिए खेलने का अवसर नहीं मिला। ईश्वर पाण्डेय गांवों और छोटे शहरों से आने वाले खिलाडिय़ों के लिए आदर्श माना जाता है।

Related Topics

From Around the Web

Latest News