REWA : जनरल प्रमोशन के बाद विश्वविद्यालय भराने लगा परीक्षा फार्म : ये है आवेदन भरने की अंतिम तारीख़


रीवा। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर कालेजों में छात्रों की परीक्षा को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। एक ओर प्रदेश सरकार ने अंतिम वर्ष के छात्रों को छोड़कर शेष सभी को जनरल प्रमोशन दिए जाने की घोषणा कर दी। वहीं अब अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय ने इस आदेश को दरकिनार करते हुए परीक्षा फार्म भराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके लिए पूरा कार्यक्रम निर्धारित किया गया है, जिसमें विलंब शुल्क लेकर भी परीक्षा आवेदन स्वीकार किए जाएंगे।


विश्वविद्यालय प्रशासन के इस निर्णय का छात्रों ने विरोध भी शुरू कर दिया है। कुछ दिन पहले ही राज्य सरकार की ओर से यह घोषणा की गई थी कि स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्रों के साथ ही स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के छात्रों को जनरल प्रमोशन देकर अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। इसके बाद अब सभी से परीक्षा फार्म भरवाने का आदेश जारी किया गया है।



चार महीने से असमंजस में हैं छात्र
अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा ने 24 मार्च से अपनी वार्षिक परीक्षा का कार्यक्रम घोषित किया था। इस बीच 22 मार्च से लॉकडाउन की घोषणा के चलते विश्वविद्यालय ने परीक्षा का कार्यक्रम स्थगित कर दिया था। करीब ढाई महीने तक तो सबकुछ बंद रहा, बाद में राजभवन और राज्य सरकार ने मंथन के बाद परीक्षा आयोजित कराने की अनुमति दी। विश्वविद्यालय ने स्नातक और स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष के लिए परीक्षा आवेदन लेना शुरू किया, साथ ही अन्य तैयारियां भी की गई। इसी बीच फिर से परीक्षा स्थगित करने का निर्देश जारी हुआ। बीते महीने सरकार की ओर से आधिकारिक रूप से सोशल मीडिया पर जनरल प्रमोशन देने की बात कही गई। अब फिर से विश्वविद्यालय ने सभी का परीक्षा आवेदन लेना शुरू कर दिया है। इस कारण छात्र असमंजस की स्थिति में हैं।



यूजीसी की गाइडलाइन अंतिम वर्ष के लिए
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा कराने के लिए गाइडलाइन जारी की है। इस पर मुख्यमंत्री ने भी गत दिवस समीक्षा कर तैयारी के लिए कहा है। साथ ही प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्रों को जनरल प्रमोशन दिए जाने के संबंध में भी कहा कि यह घोषणा पहले ही की जा चुकी है। इसके बावजूद विश्वविद्यालय प्रशासन ने सभी छात्रों से परीक्षा का आवेदन जमा करने के लिए कहा है।




सरकार का आदेश नहीं आने का हवाला

विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से कहा जा रहा है कि राज्य सरकार की तरह से अभी कोई ऐसा आदेश नहीं आया है जिसमें छात्रों को जनरल प्रमोशन देकर अगली कक्षा में प्रवेश देने का उल्लेख हो। विश्वविद्यालय के प्रवक्ता डॉ. श्रीकांत मिश्रा ने बताया कि सोशल मीडिया के जरिए यह जानकारी सामने आई थी कि सरकार ने जनरल प्रमोशन की बात कही है लेकिन इस पर कोई दिशा निर्देश विश्वविद्यालय को नहीं मिला है।



परीक्षा फार्म के लिए यह कार्यक्रम

परीक्षा आवेदन जमा करने की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। विश्वविद्यालय की ओर से जारी कार्यक्रम के अनुसार १६ से ३० जुलाई तक बिना विलंब शुल्क के परीक्षा आवेदन लिया जाएगा। इसके बाद ३१ जुलाई से पांच अगस्त तक ३५० रुपए विलंब शुल्क के साथ आवेदन लिया जाएगा। छह अगस्त के बाद परीक्षा प्रारंभ होने के तीन दिन पूर्व तक तीन हजार रुपए विशेष विलंब शुल्क लिया जाएगा। यह परीक्षा आवेदन फार्म वार्षिक प्रणाली एवं सेमेस्टर सिस्टम के स्नातक, स्नातकोत्तर एवं डिप्लोमा छात्रों को भरना होगा। इसमें बीएलएड, डिप्लोमा इन योगा, बीए, बीएससी, बीकाम आनर्स, बीएचएससी, बीबीए, बीलिव, बीसीए, बीएसडब्ल्यू, विधि, बीए एलएलबी, एमए, एमएससी, एमकाम, एमबीए, एमएसडब्ल्यू, एमटेक, एमसीए, पीजीडीसीए, एमए योगा, एमलिव एवं समस्त डिप्लोमा, एमफिल के सभी पाठ्यक्रमों को परीक्षा आवेदन भरने के लिए कहा गया है।


जनरल प्रमोशन को लेकर शासन की ओर से अभी कोई गाइडलाइन नहीं आई है। इसलिए परीक्षा फार्म भराए जा रहे हैं। यदि शासन को कोई निर्देश आता है तो उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। विश्वविद्यालय प्रशासन पूर्व से सभी तैयारियां पूरी कर रहा है।

बाबूलाल साकेत, डीआर एपीएसयू रीवा


Powered by Blogger.