REWA : भोजपुरी फिल्मों में चमकेगा रीवा का मनमोहन : फिल्म ‘टाइगर अभी जिंदा है’ में निभाएंगे किरदार


रीवा। किसी ने लिखा है ‘मंजिलें उन्हीं को मिलती हैं जिनके सपनों में जान होती है, पंखों से कुछ नहीं होता हौसलों से उड़ान होती है।’ यदि मन में चाहत हो और कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो आसमान के उस पार भी जाकर मंजिलें हासिल की जा सकती हैं। कुछ ऐसा ही कारनामा रीवा के रहने वाले मनमोहन मिश्रा ने कर दिखाया है। दरअसल रीवा जिले के एक छोटे से गांव कलवारी के रहने वाले मनमोहन मिश्रा पिता हरिनारायण मिश्रा अब भोजपुरी फिल्मों में अपना कदम रख चुके हैं जिन की पहली भोजपुरी फिल्म ‘टाइगर अभी जिंदा है’ का ट्रेलर रिलीज हो चुका है और फिल्म मुंबई  में 15 अगस्त को रिलीज होने वाली है।


मनमोहन मिश्रा द्वारा बताया गया कि उनका पूरा बचपन कलवारी में ही बीता है। बचपन से उन्हें फिल्में देने देखने का शौक था और धीरे-धीरे उनका फिल्मों की तरफ एक अलग सा लगाव हो गया और  लगा  कि मुझे भी फिल्मों में अभिनय करना है। फिर मन में यही तमन्ना लिए है 2013 में पहुंच गया मुंबई। शुरुआती के दो-तीन साल बहुत संघर्ष भरे रहे सीरियल्स में मैंने काम किया और साथ ही साथ जॉब भी किया। कुछ सीरियल किए हैं, इसके बाद मैंने भोजपुरी फिल्मों की ओर रुख किया जिसमें मैंने कई फिल्मों में काम किया और उसके बाद डायरेक्टर प्रोड्यूसर को मेरा काम पसंद आया और 2018 में मुझे टाइगर अभी जिंदा है ऑफर जिसमें मुख्य भूमिका में मैं और अंजना सिंह हैं।


फिल्म का ट्रेलर रिलीज हो चुका है फिल्म 15 अगस्त को रिलीज की जाएगी। इस फिल्म के डायरेक्टर रवि सिन्हा हैं। जिन्होंने कई भोजपुरी सुपरहिट फिल्में दी हैं राइटर वीरू ठाकुर, म्यूजिक में छोटे बाबा, फिल्म के प्रोड्यूसर भगत अग्रवाल है। वही निगेटिव रोल में संजय सिंह, आयाज खान, रजनीश पाठक हैं।


दुबई में हुई शूटिंग
टाइगर फिल्म की कहानी एक कॉलेज में पढ़ रहे लड़के टाइगर के इर्द-गिर्द नजर आएगी जिसमें टाइगर गांव के लोगों का चाहता है। वह उनकी मदद करने से कभी पीछे नहीं हटा। इसके चलते फिल्म का नाम टाइगर अभी जिंदा है दिया गया। फिल्म की शूटिंग दुबई, चेन्नई, गुजरात, मुंबई जैसी मनमोहक लोकेशन पर शूट हुई। जिसका ट्रेलर रिलीज कर दिया गया। अब 15 अगस्त को थिएटर में फिल्म का प्रसारण होगा। 


विंध्या फिल्म्स के साथ मिलकर स्थानीय कलाकारों को देंगे मौका
मनमोहन मिश्रा द्वारा बताया गया द्वारा बताया गया कि विंध्य में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। जरूरत है तो सिर्फ साधनों की। यहां कई प्रतिभाएं हैं, जिन्हें बेहतरीन प्लेटफार्म नहीं मिल रहा है। विंध्य और रीवा को अलग पहचान दिलवाने के लिए विंध्या फिल्म्स के स्थानीय कलाकार नवीन तिवारी, अम्बर त्रिपाठी के साथ मिलकर बघेलखंड में एक बड़ा प्रोजेक्ट करने वाले हैं। एक बड़े स्तर पर बघेली फिल्म बनाने का प्लान चल रहा है और जल्द ही इसकी जानकारी लोगों को दी जाएगी। इसके लिए स्थानीय कलाकारों को मौका दिया जाएगा विंध्या फिल्म्स की टीम द्वारा जल्द ही ऑडिशन रखा जाएगा ताकि अधिक से अधिक लोगों को फिल्म में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिले।


Powered by Blogger.