MP : चुनरी चढ़ाते हुए लग रहे थे मां नर्मदा के जयकारे, देखते ही देखते पलट गई थी नाव, दो की जान गई

खंडवा, खरगोन । नर्मदा नदी में शुक्रवार को हुए नाव हादसे में लापता दोनों लोगोंं के शव म‍िल गए। शनिवार को हिना पति जितेश, निवासी सनावद का शव गोताखोरों ने निकाला तो एक युवक जितेंद्र पिता किशोरीलाल निवासी सिरलाय का शव रव‍िवार को म‍िल गया।

मेडिकल स्टोर संचालक की गला काटकर हत्या : घर से 1 KM दूर सड़क किनारे मिली लाश\

उल्‍लेखनीय है क‍ि शुक्रवार को नावघाट खेड़ी में शुक्रवार दोपहर नर्मदा नदी में चुनरी चढ़ाते समय रेलवे पुल के पिलर 11-12 से टकराकर नाव पलट गई थी। नाव में 11 लोग सवार थे। इनमें से नौ को घाट पर गोताखोरों व नाविकों ने बचा लिया था। वायरल हुए एक वीड‍ि‍यो में नाव में सवार लोग मां नर्मदा को चुनरी चढ़ाते और जयकारे लगाते नजर आ रहे हैं।

वाॅलंटियर की मौत वैक्सीन से हुई या नहीं ? सवाल ज्यों का त्यों बना हुआ है..

जितेंद्र के स्वजन घटना के बाद से नर्मदा घाट पर तलाश में जुटे रहे।जितेंद्र वर्मा का शव शुक्रवार को घटना स्थल से 5 किलोमीटर नीचे ग्राम सेलमरला में मिला है। जितेंद्र चार भाइयों में सबसे छोटा था। उसकी दो बेटियां हैं। अस्पताल में भर्ती सभी नौ लोगों को छुट्टी दे दी गई। बताया जाता है क‍ि हादसे में मृत सनावद निवासी हिना उर्फ शालिनी वर्मा अंति‍म समय में नाव में सवार हुई थी। नाव में सनावद, बड़वाह और महू की 8 महिलाएं और तीन पुरुष सवार थे।

जिले के चार प्रमुख चौराहों पर वाहनों की सघन चेकिंग से मचा हड़कंप, अतिक्रमण पर चली जेसीबी

यात्रियों को बचाने वाले मोरटक्का और खेड़ीघाट के नाविकों को इस साहस के लिए सम्मान तथा नर्मदा घाटों पर विशेष रेस्क्यू टीम हमेशा तैनात रखने की मांग अब हो रही है। नाव के चालक रविंद्र केवट ने चार महिलाओं को डूबने से बचाया। घटना स्थल से करीब 200 मीटर दूर तक वह नदी के तेज बहाव में बह चुकी महिलाओं के हाथ पकड़कर उन्हे मदद के लिए आने वाली नाव पहुंचने तक डूबने से बचाने की कोशिश करता रहा। इन महिलाओं को नाव में ऊपर चढ़ाने तक हिम्मत नहीं हारा।

अभिनेत्री कंगना रनौत ने की सीएम शिवराज से मुलाकात, फिल्म धाकड़ की पूरी टीम के साथ पहुंची सीएम हाउस

केवट समाज के नाविक अनिल मंगले, सुरेश केवट, बाबूलाल मंगले, राजू पटेल, प्रदीप केवट, सुरेश पटेल, कालू पटेल, महेंद्र केवट, संदीप केवट, सुरेश केवट, राकेश ढोली ,कमल केवट, बजरंग मंगले ने अपनी जान पर खेलकर नर्मदा नदी में रेलवे पुल के पास डूबते हुए लोगों तक पहुंच कर नौ लोगों की जान बचाई है।

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनोट कड़ी सुरक्षा के बीच फि‍ल्‍म शूटिंग के ल‍िए पहुंची भोपाल

56 वर्षीय बाबूलाल मांगले जो कि नर्मदा नदी के नावघाट खेड़ी नाविक हैंं उन्हें भी जैसे ही सूचना लगी उन्होंने अपने नाम में अनिल मंगले नाव स्टार्ट कर नर्मदा नदी में डूबते कोई महिलाओं को देखकर बाबूलाल ने भी नर्मदा में छलांग लगाई महिलाओं को पकड़कर रेलवे ब्रिज के तक जा पहुंचे।

Powered by Blogger.