SATNA : ATM कार्ड बदलकर धोखाधड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गैंग के पांच आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, अब तक देशभर में 500 से अधिक वारदातें कर चुके

सतना। एटीएम कार्ड बदलकर धोखाधड़ी करने वाली अंतरराज्यीय गैंग का सतना पुलिस ने पर्दाफाश किया है। बताया गया कि पुलिस गिरफ्त में आए 5 आरोपियों ने अब तक देशभर में 500 से अधिक वारदातें कर चुके हैं। पकड़ में आए आरोपियों के कब्जे से कार, दो बाइक, 28 डेबिड कार्ड के साथ 21 हजार रुपए नकदी बरामद हुई है।

दस लाख की बोलेरो चोरी करने वाले आरोपी को पुलिस ने 10 दिन के अंदर किया गया गिरफ्तार

सतना एसपी धर्मवीर सिंह यादव ने गुरुवार को बताया कि कोटर और कोठी थाना क्षेत्र में 25 मई से 10 जून के बीच एटीएम कार्ड बदलकर 1 लाख 6 हजार की घोखाधड़ी की शिकायत मिली थी। तब एएसपी सुरेंद्र कुमार जैन और डीएसपी हेडक्वार्टर प्रभा किरण किरो के नेतृत्व में अलग अलग टीमें बनाकर शातिर ठगों की​ गिरफ्तार के निर्देश दिए थे। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए साइबर सेल की टीम को भी लगाया गया था। इसी बीच पुलिस को सिविल लाइन थाना अंतर्गत उत्तरी पतेरी में बदमाशों के मौजूद होने की लोकेशन मिली। तब पुलिस ने घेराबंदी कर पकड़ लिया।


नामजद गुनहगारों ने SIT के सामने जुर्म किये स्वीकार : रीवा के सुरेश ने 1200 इंजेक्शन फार्मा कंपनी के संचालकों से खरीदकर जबलपुर-इंदौर में बेचे : फिर ...

भीड़भाड़ वाले एटीएम को बनाते थे निशाना

पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि भीड़भाड़ वाले एटीएम मशीन को निशाना बनाते थे। चिन्हित एटीएम में एक सदस्य एटीएम के बगल में खड़ा होकर गोपनीय पिन को देखता था। जबकि दूसरा साथी एटीएम के गेट के बाहर खड़ा रहता था। वहीं तीसरा साथी लाइन में लगा होता था। वह आगे वाले शख्स को भ्रमित कर कह देता था कि आपका कार्ड मशीन में एक्सेप्ट नहीं कर रहा। तब मदद के बहाने पूर्व से अपने हाथ में रखे एटीएम कार्ड को उसे दे देता था। फिर तुरंत किसी अन्य एटीएम मशीन में जाकर उस एटीएम से पैसे निकाल लेते थे।

कैश न निकले तो कर लेते थे शॉपिंग

यदि एटीएम में कैश निकालने की लिमिट समाप्त हो जाती थी तो उसी कार्ड से दुकान या फिर शॉपिंग मॉल से शॉपिंग कर लेते थे। गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ में स्वीकार किया कि वे उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र फ्रॉड कर चुके है। जिनमे सबसे ज्यादा रीवा शहर, सतना, सीधी, अनूपपुर, उमरिया, अमरपाटन, बिरसिंहपुर, जैतवारा, कटनी, पन्ना, शहडोल आदि क्षेत्रों में भ्रमण कर घटनाएं करना स्वीकार किया।

रीवा के मऊगंज न्यायालय में अपनी सेवा दे चुके सिंगरौली के ADJ का दिल्ली के निजी अस्पताल में कोरोना से निधन

किराये से लेते थे चार पहिया वाहन

बताया गया कि आरोपी वारदात से पहले ज्यादातर मामले में किराये का चार पहिया वाहन लेते थे। वे रास्ते में जितने भी एटीएम पड़ते थे। उनमें वारदातों को अंजाम देते थे।शाम होने पर वह होटलों में ठहर जाते थे। वे ज्यादातर मामलों में एटीएम की बारीकियों से अनजान वृद्धों को निशाना बनाते थे। उन्हें बातों में फंसाकर एटीएम पिन देख लेते थे। कार्ड को बड़ी चालाकी से बदल दिया करते थे।

खनिज कारोबारी के फाॅर्म हाउस से 4.5 करोड़ रुपए की डकैती का मामला : SP बोले- जल्दबाजी में एक किलो सोना बताना भूल गए, 50 लाख से ज्यादा​ रिकवरी बाकी है, चार आरोपी और रडार पर

गिरोह के खिलाफ सतना में दर्ज मामले

पहला मामला प्रदीप सिंह पुत्र रामनरेश सिंह (32) निवासी सेमरा थाना कोटर ने 25 हजार की ठगी की शिकायत दर्ज कराई थी। दूसरे मामले में विनीत कुमार मिश्र पुत्र अंगद प्रसाद मिश्र (50) निवासी मैनपुरा थाना कोटर ने 56 हजार की फ्रॉड की शिकायत की। तीसरे मामले में राहुल प्रसाद पुत्र भूरा प्रसाद वर्मा (30) निवासी रमपुरा थाना कोठी ने 25 हजार एटीएम से पार होने की रिपोर्ट की थी।

SATNA : 45 दिनों में छोड़ा सात जन्मों का साथ : एक ही फंदे से लटके मिले पति-पत्नी के शव : यह थी वजह

पुलिस गिरफ्त में आए आरोपी

एटीएम कार्ड बदलकर धोखाधड़ी करने के मामले में पुलिस ने सोनू उर्फ राजीव लोचन पाण्डेय पुत्र रविकरण (25)​ निवासी बौलिहा करसरा थाना सिंहपुर, पंकज कुशवाहा पुत्र श्रीनिवास (25 ) निवासी मझगवां थाना जसो, रुद्र उर्फ उद्रेश उपाध्याय (24) निवासी डमरुआ थाना सिकरारा जिला जौनपुर, शिवाकांत उर्फ शिब्बू पाण्डेय (26) निवासी बॉलिहा थाना सिंहपुर, सूरज चौधरी (21) वर्ष निवासी सुजावल खुर्द थाना सभापुर को पकड़ा है।

लगातार हुए दो हादसे : बारातियों से भरा पिकअप पलटा 8 लोग घायल तो दूसरी तरफ आमने सामने बाइक टक्कर में शिक्षक मौत : मौके पर पहुँची SDOP हिमाली सोनी

एसपी ने की 10 हजार रुपए के इनाम की घोषणा

एटीएम फ्रॉड का खुलासा करने वाली टीम में शैलेन्द्र पटेल थाना प्रभारी कोटर, एसआई राजमणि पटेल, एएसआई बीएल रावत, आरक्षक अर्चना सिंह, धीरज यादव, विजय, विपिन, सायबर सेल प्रभारी अजीत सिंह, एएसआई दीपेश पटेल, प्रधान आरक्षक आरके पटेल, आरक्षक विपेंद्र मिश्र, संदीप सिंह, असलेंद्र सिंह, अजीत मिश्रा व कोलगवां से प्रधान आरक्षक बृजेश सिंह, वाजिद खान को एसपी ने 10 रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

Powered by Blogger.