रीवा गोलीकांड : संजय गांधी अस्पताल पहुंचकर FSL यूनिट ने मृतक के लिए नमूने, युवक ने खुद गोली चलाई या दोस्तों ने मारी, जानकारी जुटाने में जुटी पुलिस

(ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा। बीते दिन रीवा उर्रहट गोली कांड के बाद संजय गांधी स्मृति अस्पताल में उपचार के दौरान हुई युवक की मौत के मामले में रविवार की सुबह 10 बजे एफएसएल यूनिट ने एसजीएमएच में पहुंचकर नमूने लिए है। फारेंसिक अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है। नमूने सागर लैब भेजे जा रहे है। रिपोर्ट के बाद की क्लीयर होगा कि युवक ने खुद गोली चलाई है अथवा दोस्तों ने मारी है।

युवक ने देश के खिलाफ किया भड़काऊ पोस्ट : सऊदी अरब से लौटने पर सोशल मीडिया पर लिखा- रीवा खान भाई, अमिरती छोटा पाकिस्तान : प्यार से पेश आओगे तो दिल से लगा लूंगा, वरना अकड़ दिखाओ गे तो जड़ से उखाड़ दूंगा

वहीं दूसरे तरफ रीवा शहर में आए दिन हो रही गोली बारी को लेकर एसपी राकेश सिंह ने शहरी थाना प्रभारियों की क्राइम मीटिंग ली है। साफ निर्देश दिए है कि अब गोली चली तो थाना प्रभारी जिम्मेदार होंगे। साथ ही सभी थाना प्रभारियों से कहा है कि अपने क्षेत्र के मकान मालिकों से संवाद कर किराये दारों का डाटा एकत्र करें। बिना आधार कार्ड, वोटर आईडी अथवा किरायनामा के बगैर रूप अजनवी को ने दें।

दिनदहाड़े बंद कमरे के अंदर कट्टे से चली गोली, आवाज सुनकर पूरे मोहल्ले में फैली सनसनी

ये है मामला

पुलिस के अनुसार बिहारी सेन के मकान को आदित्य तिवारी और पेशेवर अपराधी शिवम सिंह ने किराये पर लिया था। शनिवार की दोपहर 1 बजे तीन दोस्त उदय मिश्रा, शिवम सिंह और पंकज देवांगन बैठकर बातचीत कर रहे थे। तभी धोखे से किसी से फायर हो गया। जिससे उदय मिश्रा के सिर में गोली धंस गई। इधर वारदात के बाद दोनों दोस्त कट्टा छोड़कर मौके से फरार हो। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग एकत्र होकर पुलिस को सूचना दी।

उर्रहट गोलीकांड / दोपहर को किराए के कमरे में तीन युवकों के बीच हुई बातचीत, फिर धोखे से चली गोली, घायल ने अस्पताल में तोड़ा दम

जानकारी के बाद पहुंची पुलिस ने गंभीर रूप से घायल युवक को एंबुलेंस की मदद से संजय गांधी ​स्मृति अस्पताल में दाखिल कराया है। जहां युवक को आईसीयू में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। लेकिन सिर से ज्यादा रक्त बह जाने के कारण रात 8 बजे मौत हो गई। दूसरे दिन ​रविवार को फारेंसिक जांच के बाद दोपहर 12 बजे पीएम के बाद परिजनों को शव सौंप दिया गय है।

शहर में दो महिलाओं से चेन स्नेचिंग की घटनाओं से उडी पुलिस की नींद : झपट्टा मारकर छीना मंगलसूत्र, पलक झपकते ही घटना को अंजाम देकर चंपत हुए बदमाश

हाल ही में 4 स्थानों में चल चुकी हैं गोलियां

बता दें कि इसी सप्ताह सबसे पहले सिविल लाइन थाना अंतर्गत चक्रधर सिटी सेंटर के समीप हवाई फायर हुआ था। जहां शाम होते ही अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों का मजमा लगा रहता है। दूसरी वारदात भी सिविल लाइन थाना अंतर्गत महाराजा होटल के समीप घटी थी। जहां जय स्तंभ निवासी गेंदा लोनिया को अज्ञात बाइक सवारों ने पैर में गोली मार फरार हो गए थे। तीसरी घटना शनिवार को समान थाना अंतर्गत उर्रहट हुई। जहां किराए के कमरे में संदिग्ध अवस्था में बोदाबाग निवासी उदय मिश्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। फिर शनिवार की रात करीब 10 बजे विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र अंतर्गत विभीषण नगर में भी दर्जनभर बाइक सवारों ने दहशत फैलाने के इरादे से हवाई फायर किए। इस दौरान मोहल्ले वालों द्वारा खदेडे़ जाने पर बड़ी घटना तो टल गई। वहीं अब तक किसी भी मामले में पुलिस को सफलता हासिल नहीं हुई है।

SP REWA को उप निरीक्षकों पर ज्यादा भरोसा : थाना और चौकी प्रभारी बनने निरीक्षक से उप निरीक्षक तक ने की दौड़ तेज

किरायेदारों की जानकारी थाने में जरूर दें

रीवा शहर वासियों से अपील करते हुए एसपी राकेश सिंह ने कहा कि सभी लोग किरायेदारों से आधार कार्ड के साथ-साथ अपने नजदीकी थानों में उनकी जानकारी दें। जिससे उनके अपराधिक रिकॉर्ड की भी जांच हो सके। बीते दिन समान थाना अंतर्गत गोलीकांड में यह चीज सामने आई है। जिन युवकों को कमरे किराए से दिए गए थे। उनमें कहीं न कहीं संदिग्ध गतिविधियां हो रही थी। जिसमें एक युवक की मौत भी हो गई है।

डकैती की योजना बनाते हथियारों से लैश शातिर बदमाशों की गैंग को पुलिस ने पकड़ा : पांच आरोपी गिरफ्तार

पुलिस कंट्रोल रूप में चल रही बैठक

समान थाना अंतर्गत उर्रहट मोहल्ले में हुए गोली कांड के बाद एसपी राकेश सिंह और एएसपी शिवकुमार वर्मा ने सभी थाना प्रभारियों की बैठक ली। एसपी ने बैठक में कहा कि गोली बारी की खबर अब सुनाई न दे। ऐसा सभी थाना प्रभारी कार्य करें। इस दौरान सभी थाना क्षेत्रों का क्राइम रिकार्ड देखते हुए संबंधित थाना प्रभारियों को फटकार लगाई।

Powered by Blogger.