MP : न्याय पाने दर-दर भटकने को मजबूर : प्रेमी ने तीन साल तक शादी के सपने दिखाए और लिव-इन-रिलेशनशिप में रखा फिर मारपीट कर भगाया

जबलपुर .बिन ब्याही मां बेटी के साथ न्याय पाने दर-दर भटकने को मजबूर है। दरअसल युवती की 2017 में गोसलपुर निवासी एक युवक से हुई। उसने शादी के सपने दिखाए और लिव-इन-रिलेशनशिप में रखा। वह सात महीने की गर्भवती हुई तो प्रेमी भाग गया। बेटी के पैदा होने के बाद आया। तीन साल तक उसे किराए के कमरे में साथ रखा। फिर छोड़कर भाग गया। मकान मालिक ने प्रेमी के घर पहुंचा दिया तो मारपीट कर उसे भगा दिया। कुछ दिनों तक नारी निकेतन में रहने के बाद वह एक मंदिर में बेटी के साथ रहने को मजबूर है।

रिश्तेदारी में गई युवती को प्यार के जाल में फसाकर अपनी हवस मिटाने तीन वर्षों तक शारीरिक शोषण बाद छोड़ा : रेप का प्रकरण दर्ज

एसपी कार्यालय में मंगलवार 13 जुलाई को पहुंची पीड़िता ने बताया कि वर्ष 2017 मेें उसकी मुलाकात नीलेश नाम के युवक से हुई थी। इसके बाद उनकी बातचीत होने लगी। नीलेश उसे महाराजपुर अधारताल स्थित एक किराए के घर में ले गया। शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने लगा। दोनों पति-पत्नी की तरह रहने लगे थे।

अजब गजब / 23 साल के युवक ने 1.50 लाख ठगने के लिए कलेक्टर-तहसीलदार के नाम से जारी किया नोटिस, फिर बरी होने का सर्टिफिकेट भी दे दिया

गर्भवती हालत में छोड़कर भाग गया आरोपी

इस बीच वह गर्भवती हो गई। उसे सात माह का गर्भ था, तभी नीलेश छोड़कर चला गया। उसने एक बेटी को जन्म दिया। बेटी के पैदा होने के 5 महीने बाद वह आया। तब उसने खुलासा किया कि वह पहले से शादीशुदा है और एक बच्चा भी है। युवती को भरोसा दिया कि बावजूद वह उसे भी पत्नी का दर्जा देगा। ऐसा बोलकर वह उसके साथ तीन सालों तक लिव-इन-रिलेशन में रहा। बीच में कई बार शादी करने के लिए कहने पर वह कोई न कोई बहाना बना कर टाल देता।

गर्लफ्रेंड ने रचा खतरनाक खेल : प्रेमी ने खुद कर ली थी शादी, फिर पुराने VIDEO डालकर करने लगा ब्लैकमेल इसलिए मार डाला

घर पहुंची पीड़िता और उसकी बेटी को मारपीट कर भगाया

कुछ महीने पहले ही वह फिर से उसे और बेटी को छोड़कर भाग गया। तब से वह किराए के मकान में रह रही थी। किराया न मिलने से मकान मालिक ने उसे निकाल दिया और नीलेश के घर गोसलपुर पहुंचा दिया। वहां नीलेश उससे मारपीट करने लगा। उसकी पत्नी , मां चमेली और तीनों भाई ने मारपीट कर घर से निकाल दिया। नीलेश कहता है कि अब उससे कोई रिश्ता नहीं रखना। बेटी काे भी अपनाने से इंकार करता है।

युवक की हत्या का खुलासा : बेवफाई का बदला लेने बहन के साथ मिलकर प्रेमिका ने प्रेमी को उतारा मौत के घाट

15 दिनों से पीड़िता बेटी को लेकर मंदिर में रहने को मजबूर

15 दिनों से वह बेटी काे लेकर बुढ़ागर के मंदिर में रह रही है। वहां के लोग खाना दे देते हैं। गोसलपुर थाने गई तो उनके शब्द अपमानित करने वाले थे। मदद की बजाय वह उसके चरित्र पर ही लांछन लगाते रहे। आरोपियों ने उसे जबरन नारी निकेतन में रखवाया था। लेकिन वहां बेटी को लेकर वह नहीं रह सकती है। वहां दिमागी रूप से कमजोर लोगों को भी रखा जाता है। पीड़िता ने मामले में धोखा देने वाले नीलेश के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इस मामले में टीआई गोसलपुर ने सफाई पेश करते हुए कहा कि पीड़िता की शिकायत पर आरोपी को बुलाया गया था। पर पीड़िता ही कार्रवाई कराने से पीछे हट गई।

Powered by Blogger.