REWA : अब लड़कियों को सेना में जाने का मिलेगा मौका : एनडीए की परीक्षा में शामिल होने का मिला अवसर, फाइटर प्लेन पायलट अवनी चतुर्वेदी की मां ने जताई प्रसन्नता

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


रीवा। एनडीए में लड़कियों को परीक्षा में शामिल होने का अवसर देने संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश जारी किया है। नेशनल डिफेंस एकेडमी के लिए होने वाली परीक्षा में लड़कियों को शामिल होने का अवसर मिलेगा। यह परीक्षा आगामी पांच सितंबर को आयोजित कराई जाएगी।

Purwa Fall में उतराया मिला युवक का शव : कड़ी मशक्कत बाद निकला शव, नहीं हुई शिनाख्त

अब तक लड़कियों को इसकी अनुमति नहीं थी। जिसके चलते सेना में कम संख्या में अवसर मिल पाते थे। सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय का लड़कियों के तमाम अभिभावकों ने स्वागत किया है। इस दौरान फाइटर प्लेन की पायलट अवनि चतुर्वेदी की मां सविता चतुर्वेदी ने रीवा मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि यह बड़ा दिन है जब लड़कियों के सेना में जाने का मार्ग सरल हो गया है।

रिटायर्ड फौजी बेटे की मौत का सच जानने पुलिस अधिकारियों के कार्यालय में लगा रहा चक्कर, पहले IG अब SP को दिया शिकायती आवेदन

उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में सरकार ने सैनिक स्कूलों में प्रवेश की भी व्यवस्था बनाई है, जिससे अब बचपन से ही लड़कियां सेना एवं अन्य चुनौती भरे क्षेत्र में सेवा देने के लिए तैयार होंगी। सविता चतुर्वेदी ने कहा कि उनकी बेटी ने कड़ी मेहनत के बाद सेना में प्रवेश पाया है।

रीवा में तीन तलाक का मामला : पति की प्रताड़ता से तंग आकर पत्नी चली गई मायके उधर पति ने कर ली दूसरी शादी

पहले नियम सरल होते तो और लड़कियों को अवसर मिल सकते थे। उन्होंने कहा कि लड़के १२वीं कक्षा के बाद एनडीए में चले जाते हैं और लड़कियों को ग्रेजुएशन और 21 वर्ष की आयु निर्धारित थी। युवा अधिकारियों की नियुक्ति एनडीए के माध्यम से होती है। लड़के सीधे कक्षा 12 पास करने के बाद चले जाते हैं, जब तक लड़कियां नियुक्ति के योग्य होती थी तब तक लड़के कमीशन पाए अधिकारी बन चुके होते हैं।

महिला पर ऑटो चालक से प्रेम प्रसंग का आरोप लगाते शरारती तत्वों ने छेड़छाड़ कर वीडियो बना ​कर दिया वायरल : 5 आरोपी गिरफ्तार

कोर्ट के निर्देश पर अब समानता का भाव रहेगा और बड़ी संख्या में बेटियां सेना में अफसर बनेंगी। अवनि की मां का कहना है कि विंध्य क्षेत्र में भी लोग अपनी बेटियों को सेना में भेजना चाहते हैं, उनके लिए भी बड़ा अवसर मिल गया है।

Powered by Blogger.