REWA : 11 माह से मृतकों समेत 20 परिवारों के नाम खाद्यान्न में हेराफेरी करने वाले सेल्समैन के खिलाफ FIR दर्ज


रीवा. जिले के बीरपुर में 11 माह से मृतकों समेत 20 परिवारों के नाम खाद्यान्न में हेराफेरी करने वाले सेल्समैन के खिलाफ जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक ने पनवार थाने में एफआइआर दर्ज कराया है। कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी की तहरीर पर पुलिस ने प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है।


बीपुर की बजाए बड़ाछ में चला रहा था दुकान
जवा क्षेत्र के रिमारी सहकारी समिति से जुड़ा सेल्समैन सुशील कुमार सिंह बीरपुर की बजाए दूसरे गांव बड़ाछ में संचालित कर रहा था। जिससे हितग्राहियों को राशन लेने के लिए चार किमी दूर जाना पड़ता था। ग्रामीणों ने जांच के दौरान अधिकारियो को बताया कि बीरपुर में कभी भी राशन दुकान नहीं खोली गई। विक्रेता का रसूख इस कदर है कि लंबे समय से राशन दुकान की पड़ोस के गांव बड़ाछ में संचालित कर रहा है। गांव से चार किमी दूर दूसरे गांव में दुकान संचालित किए जाने से ग्रामीणों को खाद्यान्न लेने में दिक्कत होती थी। तत्कालीन कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी व समिति प्रबंधक से ग्रामीणों ने कई बार शिकायत की थी। लेकिन, किसी ने एक नहीं सुनी। मामले में जिला नियंत्रक को जानकारी होने पर वर्तमान कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी राजेश पटेल को भेजकर जांच कराई।


हर माह अपडेट नहीं हो रही थी लिस्ट
नियम है कि हर माह प्रत्येक लाभार्थी का नाम रेकार्ड में पीओएस मशीन पर अपडेट किया जााता है। जिससे मृतकों का नाम डिलीट कर दिया जाए। लेकिन, सेल्समैन मृतकों के नाम हर माह 35-35 किलो खाद्यान्न आहरित करता रहा। पंचायत सचिव, समिति प्रबंधक और तत्कालीन कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी से साठगांठ कर खाद्यान्न में हर माह हजारो रुपए का खाद्यान्न डाकरता रहा। जिला नियंत्रक ने जांच प्रतिवेदन के आधार पर वसूली के लिए 1.60 लाख रुपए वसूली के लिए एसडीएम को पत्र भेजा है। कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी को पनवार थाने में भेजकर रिपोर्ट दर्ज कराया है।


चार दुकानों की जिम्मेदारी संभाल रहा सेल्समैन
रिमारी समिति से जुड़ी पांच राशन दुकानें हैं। जिसमें चार की जिम्मेदार दागी सेल्समैन ही संभाल रहा है। जिसमें बीरपुर, बड़ाछ, खाजा और चंपागढ़ की राशन दुकान संचिालित कर रहा है। जबकि बरेती कला खुर्द की दुकान एक अन्य सैल्समैन को सौंपी गई है। बताया गया कि रिमौरी समिति प्रबंधक और सेल्समैन एक दूसरे के सगे संबंधी हैं।


लॉकडाउन में भी कइयो पर हो चुकी है एफआइआर

खाद्यान्न में गड़बड़ी करने वाले सेल्समैनों की खैर नहीं है। खाद्य नियंत्रक ने लॉकडाउन के दौरान कइयो पर एफआईआर दर्ज करा चुके हैं। जिला नियंत्रक राजेन्द्र ङ्क्षसह ने चेतावनी दी है कि इस तरह से खाद्यान्न में गड़बड़ी करने वालों की जांच शुरू कर दी गई है। जांच में गड़बड़ी पाए जाने पर सीधे एफआइआर दर्ज कराया जाएगा।


वर्जन..

पनवार थाने में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। जिले में सेल्समैनों की कमी है। जिससे कई दुकानों की जिम्मेदार आस-पास के सेल्समैनों को दी गई है। रिमारी में भी एक विक्रेता चार दुकानों पर वितरण कर रहा है। अब कार्रवाई के बाद आस-पास के विक्रेताओं को प्रभार दिया जाएगा। जिससे वितरण का काम प्रभावित न हो।

ठाकुर राजेन्द्र सिंह, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक




Powered by Blogger.