REWA : राज निवास रेप कांड : अब तक 5 लोग गिरफ्तार, मेडिकल के लिए जा रहे संजय अचानक मीडिया को चीखते हुए कहा कि मुझे फंसाया जा रहा...

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा। चर्चित राजनिवास में महंत के द्वारा नाबालिग लड़की से रेप कांड के मुख्य अरोपित को संरक्षण देना अखिल ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय त्रिपाठी और उनके भांजा अंशुल मिश्रा को महंगा पड़ गया। महंत से पूछताछ एवं जांच के दौरान पुलिस को जानकारी मिली और उसके आधार पर आरोपित संजय त्रिपाठी एवं अशुल मिश्रा को रीवा पुलिस ने भोपाल में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया है।

मामा भांजे गिरफ्तार : संजय त्रिपाठी और अंशुल मिश्रा भोपाल से गिरफ्तार; फरार करने व संरक्षण देने का लगा आरोप, फॉरचुनर कार भी जप्त

पूछताछ के बाद न्यायालय में पेश 

पकड़े गए आरोपितों को पुलिस रीवा लेकर आई है। जहां दोनों से मामलों को लेकर पूछताछ की गई है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पूरे मामले में जांच की जा रही है। जो भी तथ्य आएंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं रीवा पुलिस ने संजय त्रिपाठी के फार्चुनर वाहन को भी जब्त कर लिया और उसको अपने कब्जे में लेकर कार्रवाई की जा रही है। जिन्हें न्यायालय में पेश किया गया है जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।


सीताराम महंत के बाद सिरमौर में 376 के आरोपी के आलीशान मकान पर चला प्रशासन का बुलडोजर

इस आरोप में हुई गिरफ्तारी 

पुलिस कप्तान नवनीत भसीन ने बताया कि राजनिवास में नाबालिग लड़की से रेप के आरोपी महंत सीताराम को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ एवं जांच के दौरान यह सामने आया है कि दुष्‍कर्म का आरोपित बाबा सीताराम घटना के बाद राजनिवास से फरार होकर संजय त्रिपाठी के घर में जाकर छुपा हुआ था। इतना ही नहीं सीताराम को उसने अपने फार्चुनर वाहन में बैठाकर भगाने में मदद की थी। सरंक्षण देने एवं आरोपित महंत को भगवाने में मदद करने के आरोप में संजय त्रिपाठी एवं अशुल मिश्रा को गिरफ्तार किया गया है। 

बताते चलें कि जिस समय पुलिस मेडिकल कराने के लिए संजय त्रिपाठी और अंकुर मिश्रा को लेकर जा रही थी उसी समय मीडिया कर्मियों को देखकर अचानक संजय त्रिपाठी चीखते हुए कहा कि मुझे फंसाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मैं लगातार 8 वर्षों से धर्म के काम में लगा हुआ हूं और मुख्यमंत्री से मेरे 8 वर्ष पुराने संबंध हैं। मैं 8 वर्षों से मुख्यमंत्री के साथ ही हूं।

CM के निर्देश पर एक्शन में आए कलेक्टर और SP : दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद, मकान पर चला प्रशासन का बुलडोजर

निर्माणाधीन भवन पहुंचा प्रशासन 

पुलिस पकड़ में आए संजय त्रिपाठी के निर्माणाधीन काम्पलेक्स की जानकारी लेने के लिए शनिवार की दोपहर प्रशासन पहुंचा था। कलेक्टर मनोज पुष्प और एसपी नवनीत भसीन सहित अन्य अधिकारियों ने भवन को देखने के साथ जानकारी ली है। माना जा रहा है कि जिस तरह से जिले भर में हिस्ट्रीशीटर, पास्को एक्ट एवं अन्य धाराओं के तहत दर्ज अपराध के अपराधियों के अवैध निर्माण को गिराने की कार्रवाई प्रशासन कर रहा है, उसी के तहत रेलवे मोड़ के पास निर्माणधीन भवन पर प्रशासन का बुलडोजर चल सकता है।


हेलमेट लगाकर दुष्कर्मी महंत और विनोद पांडेय को भारी पुलिस के बीच न्यायालय से निकाला बाहर, 2 दिन की रिमांड में रहेगा आरोपी

भितरी में भी दबिश 

पुलिस गिरफ्त में आए महंत सीताराम के बयान के आधार पर पुलिस ने सीधी जिले के भितरी गांव में दबिश देकर उसकी कार तथा महंत के कपड़े बरामद किए हैं। बताया जा रहा है कि यह वही कपड़े हैं, जिसको पहनकर महंत ने वारदात को अंजाम दिया था।

सर्किट हाउस में रेप कांड के गिरफ्तार महंत समेत एक आरोपी को थाने से लेकर मेडिकल परीक्षण के बाद न्यायालय के लिए रवाना हुई पुलिस

तौसीफ की भी हुई गिरफ्तारी 

बताया गया है कि राज निवास में हुए रेप कांड में पुलिस ने पांचवे आरोपित को भी गिरफ्तार कर लिया है। पांचवें आरोपित की पहचान तौसीफ खान के रूप में की गई है। तौसीफ खान घोघर का रहने वाला है।

सर्किट हाउस कांड : रामा पैलेस के मैनेजर ने किया महंत का खुलासा, मनचाही लड़कियों को होटल मे लाकर मिटाता था अपनी प्यास

मोबाइल काल डिटेल की विवेचना बाकी 

पुलिस से जुड़े सूत्रों की माने तो अभी महंत के मोबाइल की काल डिटेल निकाली जा चुकी है। जिसकी विवेचना की जानी है। विवेचना में अन्य तथ्य भी उजागर होने की संभावना है।

वर्जन

संजय त्रिपाठी व अंशुल मिश्रा को भोपाल से गिरफ्तार किया गया है। अब तक राज निवास में हुए रेप कांड के मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है विवेचना जारी है।

नवनीत भसीन, पुलिस अधीक्षक रीवा

Powered by Blogger.