REWA : लॉकडाउन को लेकर कलेक्टर और एसपी सख्त : सुबह 6 बजे से लगातार भ्रमण जारी, मेडिकल, क्लीनिक और पैथोलॉजी का किया औचक निरीक्षण

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा। जानलेवा हो चुके कोरोना वायरस को लेकर रीवा जिले का प्रशासनिक अमला सख्त हो गया है। ऐसे में हर अधिकारी सुबह 6 बजे से मैदान में उतर कर कोरोना गाइडलाइन का पालन करा रहा है। सोमवार को सुबह कलेक्टर इलैया राजा टी और एसपी राकेश सिंह रूटीन भ्रमण करने के बाद प्राइवेट कार्यालय से लेकर मेडिकल, क्लीनिक और पैथोलॉजी में औचक निरीक्षण करने पहुंचे।

नेशनल हाइवे 39 पर दर्दनाक हादसा : दो ट्रक की आमने-सामने से जोरदार भिड़ंत, ट्रक की बॉडी काटकर चालक को निकाला : दो लोगों की मौके पर मौत

कई जगह कोविड गाइडलाइन का पालन न होने पर सख्त संदेश दिया। कलेक्टर ने कहा कि हर जगह दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी दिखना चाहिए। अगर ऐसा नहीं मिला तो महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई होना तय है। अब आप लोग तय कर ले कि क्लीनिक बंद करना है या नियमो का पालन करना है।

शर्मनाक / SP की कार से उतरकर कांस्टेबल ने अन्नदाता को मारी लात तो दूसरे ने निकाल दी हवा : सोशल मीडिया यूजर बोले- कौन सा तीन मारना चाहती है पुलिस

गोस्वामी एक्स-रे पहुंचे जांच करने

सोमवार की सुबह करीब 11 बजे कलेक्टर इलैया राजा टी, एसपी राकेश सिंह शहर भ्रमण के दौरान गोस्वामी एक्सरे और उसके बगल में स्थित क्लीनिक व पैथोलॉजी की अंदर घुस कर जांच की। अचानक कलेक्टर की दबिश से पहले को हड़कंप की स्थितियां बन गई। फिर कलेक्टर ने सरतला से सबको समझाइश दी। वे कोविड गाइडलाइन को पालन करवाने डाक्टरों सहित अन्य स्टाफ को निर्देश दिए।

राहत भरी खबर / अमेरिका से सतना पहुँचे फिलिप्स कंपनी के 25 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

वहीं सबको मास्क एवं दो गज की दूरी का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी। कहा कि अगर ऐसा नहीं मिलात तो आपदा अधिनियम का केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। वहीं प्रबंधन को निर्देश दिए कि पीड़ित मरीजों से नाजायज दवा के नाम पर रुपयों कि मांग न करे। जितना स्वास्थ्य विभाग प्रशासन द्वारा निर्धारित है उतना ही पैसे ले। अगर किसी पीड़ित की शिकायत मिलेगी तो सब जेल जाने के लिए तैयार रहे।

त्योंथर में नियम हुए तार तार

त्योंथर तहसील मुख्यालय में अधिकारियों के सामने ही बैंकों द्वारा कोरोना गाइड लाइन की खुलेआम धज्जियां उडाई जा रही है। बताया गया कि पचामा में संचालित यूनियन बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, सहकारी बैंक में लोगों का हुजूम उमड़ा रहता है।

पूर्व मंत्री एवं रैगांव क्षेत्र के विधायक जुगुल किशोर बागरी का हार्ट अटैक से निधन : कुछ दिन पहले चिरायु अस्पताल में भर्ती थे

बैंक प्रबंधन द्वारा ना तो सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोले बनाए गए हैं और ना ही किसी तरह की कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए उपाय है। लोग जान जोखिम में डालकर बैंक का कार्य निपटा रहे हैं। 

रीवा, सतना, सीधी और सिंगरौली जिले के सभी छोटे- बड़े बॉर्डर सील , मुख्य मार्गों पर रहेगा पुलिस का पहरा : आवश्यक काम पर ही मिलेगी अनुमति

जबकि सभी बैंक तहसील मुख्यालय में संचालित है। वहीं अधिकारियों का कार्यालय बैंक से महज 100 मीटर की दूरी पर है। इसके बावजूद अधिकारियों की ये अनदेखी संक्रमण को बढ़ावा दे रही है।

रीवा कलेक्टर के प्रयास से पुलिस लाइन में कोविड सेंटर तैयार : दो डाक्टर, तीन नर्स समेत 7 कर्मचारी रहेंगे मौजूद

किसानों ने कहा- सीएम साहब नहीं चाहिए लट्ठमार एसपी

संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने रीवा एसपी और चोरहटा थाना प्रभारी पर संगीन आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहाने से मांग करते हुए कहा है कि हमको लट्ठमार एसपी नहीं चाहिए। एसपी ऐसा हो जो आम जनता का दर्द सुने, लेकिन रीवा एसपी तनाशाह हो गए हैं। आए दिन किसानों को प्रताड़ित कर सब्जियां लुटवा रहे हैं। 

कोरोना ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मियों एवं गरीब परिवारों को युवा वर्ग का मिल रहा सहयोग

सोमवार की सुबह 6.15 बजे सब्जी उत्पादक किसानों श्यामलाल कुशवाहा, उमेश कुशवाहा व महिला किसान सहित दर्जनों लोगों के साथ लाठी-डंडों से मारपीट की है। एसपी द्वारा कहा गया कि यह लोग सब्जी नहीं जहर बेचते हैं। तोड़ दो किसानों के साइकिल, मोटरसाइकिल की हवा निकाली गई, उन्हें मारा गया। तत्काल ऐसे अधिकारी को वापस बुलाया जाए अन्यथा किसानों को पुलिस से सीधी लड़ाई के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

Powered by Blogger.