REWA : सीईओ स्वप्निल वानखड़े ने 16 लापरवाह कर्मचारियों पर की ताबड़तोड़ कार्यवाही : 7 सचिव व 1 उपयंत्री निलंबित, 6 रोजगार सहायक व 1 उपयंत्री की सेवा समाप्त

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

                           

रीवा जिला पंचायत सीईओ ने 16 लापरवाह कर्मचारियों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई की है। यहां 6 रोजगार सहायक व 1 उपयंत्री की सेवा समाप्त कर दी गई है। वहीं 7 सचिव व 1 उपयंत्री को निलंबित कर दिया गया है। जबकि 1 सचिव को बर्खास्त कर दिया है। बताया गया कि उक्त कार्रवाई सीईओ स्वप्निल वानखड़े ने संबंधित ग्राम पंचायतों में प्राप्त शिकायत एवं पूर्व से चल रहे प्रकरण में वसूली राशि नहीं जमा करने पर की है।

तीसरी लहर को लेकर सावधान : देर शाम सीधी के बुजुर्ग ने संजय गांधी स्मृति हॉस्पिटल में तोडा दम : अस्पताल में हड़कंप

साथ ही वित्तीय अनियमितता, कदाचरण, कार्यों में लगातार कोतही बरतना, दिए लक्ष्यों के विरुद्ध न्यून प्रगति पाए जाने पर सभी मामलों को संज्ञान लिया था। इसके बाद शिकायतों की जांच के निर्देश मैदानी अमले को दी गई थी। फिर जांच प्रतिवेदन एवं स्थल निरीक्षण के अनुसार संबंधित सचिवों के विरुद्ध निर्माण कार्यों में वसूली अधिरोपित कर समय-सीमा में शासन के खाते में राशि जमा एवं आपेक्षित कार्यो में प्रगति नहीं होने पर कार्यवाही की गई।

तीन साल से खड़े ट्रक में देर रात लगी आग, ट्रांसपोर्ट नगर में डंपर के साथ जलकर युवक खाक

कारण बताओ सूचना का नहीं दिया जबाब

सीईओ स्वप्निल वानखड़े की मानें तो प्रभारी सचिव एवं रोजगार सहायक सुधाकर कुशवाहा, तत्कालीन सचिव महेश पटेल, शशिकांत मिश्रा ग्राम पंचायत पडुआ द्वारा जांच दल को न अभिलेख उपलब्ध कराए गए और ना ही कारण बताओ सूचना पत्रों का जबाब दिया गया। जो सुधाकर कुशवाहा कि संविदा शर्तो के प्रतिकूल कदाचरण में आता है। ऐसे में उनकी सेवा समाप्ति की गई। साथ ही महेश पटेल, शशिकांत मिश्र का कृत्य मप्र पंचायत सेवा के प्रतिकूल अतः नियमानुसार निलंबित किया गया।

सैनिक स्कूल के बच्चों ने बढ़ाया विंध्य का मान : NDA Exam पास कर सर्विस सिलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) के लिए चयनित हुए हैं 27 छात्र

अभिलेख में मिली वित्तीय अनियमितता

इसी प्रकार प्रभारी सचिव एवं रोजगार सहायक अवधेश प्रताप सिंह ग्राम पंचायत कचूर जनपद पंचायत रीवा की शिकायत के जांच के लिए अभिलेख उपलब्ध करना। वित्तीय अनियमितता किया जाना स्पष्ट होने पर अवधेश सिंह कि संविदा सेवा समाप्ति की गई। जबकि अच्छेलाल हरिजन पूर्व सचिव ग्राम पंचायत सूती जनपद पंचायत त्योंथर द्वारा सर्व शिक्षा अभियान के कार्यों में वित्तीय अनियमितता किये जाने पर वसूली राशि 149814 रुपए नहीं जमा किए जाने, एससीएन का जबाब नहीं दिए जाने पर नियमानुसार अच्छेलाल हरिजन को सेवा से पदच्युत किया गया।

कच्चा मकान धराशाई का मामला : कलेक्टर ने पीडि़त परिवार को 17.60 लाख आर्थिक सहायता के साथ विधवा पेंशन किया स्वीकृत

सदहना प्रभारी सचिव को राशि न जमा करना पड़ा भारी

बताया गया कि प्रभारी सचिव एवं रोजगार सहायक ब्रजेश द्विवेदी ग्राम पंचायत सदहना जनपद पंचायत सिरमौर की प्राप्त शिकायत में जांच उपरांत व्रक्षारोपण में वित्तीय अनियमितता पाई गई। जिसमें 52683 रुपए वसूली राशि प्रस्तावित की गई हैं। ब्रजेश द्विवेदी ने ना ही वसूली राशि जमा की और न अपना जबाब दिया। ऐसे नियमानुसार सेवा समाप्ति की कार्यवाही की गई।

कालेजों में आनलाइन प्रवेश की प्रक्रिया हुई प्रारंभ : विशेष जरूरत पडऩे पर ही छात्र कालेजों के हेल्प डेस्क के सामने आएंगे

कार्य से अधिक कर दिया था व्यय

प्रभारी सचिव रोजगार एवं सहायक पूर्णिमा द्विवेदी ग्राम पंचायत बड़ागांव रायपुर कर्चुलियान को वित्तीय अनियमितता राशि नहीं जमा करने पर सेवा समाप्त कर दी गई है। जबकि केएल पट्टा उपयंत्री जनपद पंचायत त्योंथर वित्तीय अनियमितता एवं वसूली राशि 88533 रुपए नहीं जमा करने पर निलंबित किया गया है। जबकि रोजगार सहायक प्रेरणा मिश्रा ग्राम पंचायत कटगी जनपद पंचायत जवा द्वारा कार्य से अधिक 265103 रुपये व्यय, कार्य में लगातार लापरवाही बरतने पर सेवा समाप्त किया गया।

बहुचर्चित शिक्षा विभाग में महाघोटाले पर एक्शन : DEO के लेटर हेड में शिकायत के बाद लेखापाल समेत 24 के खिलाफ FIR दर्ज

इन सचिवों को किया निलंबित

इसी तरह मुस्तफा आरिफ द्वारा कार्य से अधिक भुकतान एवं लगातार वित्तीय अनियमितता पाये जाने प्रर सेवा समाप्त कर दी गई है। वहीं सचिव अरविंद सिंह सचिव परसिया, सुनील सिंह सरुई जनपद पंचायत त्योंथर, रमाकांत तिवारी ग्राम पंचायत सदहना, कलमेश सिंह ग्राम पंचायत डिहिया, कमलभान सिंह ग्राम पंचायत सथिनी जनपद पंचायत सिरमौर को निलंबित किया गया।

Powered by Blogger.