रीवा राज निवास कांड : साधु और उनके चेले, पांच आरोपी गिरफ्तार जबकि मोनू और धीरेंद्र फरार : जानिए किसका-क्या रोल

              

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा। सर्किट हाउस रेप कांड की चर्चा इन दिनों जोरों शोरों से है जहां एक-एक करके आरोपियों का पर्दाफाश हो रहा है. अब बड़ा सवाल यह है कि धीरे-धीरे करके आरोपी को पकड़े जा रहे हैं लेकिन रूम अलॉट करवाने वाले पी.ए को आखिर पुलिस अभी तक क्यों नहीं पकड़ रही है.

आपको बता दें कि रीवा में 30 मार्च को मंच पर संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि बेटियों और महिलाओं से दुराचारी करने वाले आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा ना ही किसी अधिकारियों को बख्शा जाएगा तो फिर अभी तक सर्किट हाउस में इस कांड को बढ़ावा देने वाले वा सहयोग करने वाले धीरे धीरे कर पकड़े जा रहे हैं जबकि रूम नंबर 4 से मामला उलट कर रूम नंबर 2 तक पहुंचा दिया गया.

आखिरकार पी ए सवाल क्यों बना हुआ है?

बता दें कि इस रेप कांड मामले में महंत सीताराम का संरक्षण देने वाले हाल ही में विनोद पांडे को पहले गिरफ्तार किया गया, सीताराम महंत को गिरफ्तार किया गया जहां उसके बयान के आधार पर उस को संरक्षण देने वाले अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय त्रिपाठी और अंशुल  मिश्रा को भोपाल से गिरफ्तार किया गया. वहीं दूसरी ओर तौफीक अंसारी को भी गिरफ्तार किया गया जबकि दो आरोपी मोनू मिश्रा और धीरेंद्र मिश्रा अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

आरोपी 1 महंत सीताराम दास : 

सीताराम दास उर्फ समर्थ त्रिपाठी ने साथियों के साथ शराब पार्टी की। 

रीवा के सर्किट हाउस में 16 साल की लड़की से रेप किया।

आरोपी 2 विनोद पांडे :

सतना से लड़की को रीवा के सर्किट हाउस बुलाया। महंत के लिए शराब पार्टी का इंतजाम भी इसी ने  किया था। 

आरोपी 3 संजय त्रिपाठी :

रेप के आरोपी महंत को अपने फार्म हाउस में छुपाया। सीधी तक पहुंचाने में मदद की।

आरोपी 4 अंशुल मिश्रा:

इसके कहने पर विनोद के नाम सर्किट हाउस में कमरा बुक हुआ था। संजय त्रिपाठी का भांजा भी है।

आरोपी 5 मोनू मिश्रा : 

रीवा के दुआरी से भितरी तक महंत को कार से छोड़ा। रेप की घटना के दिन कार से चखना आदि लेकर आया था। 

आरोपी 6 तौफीक अंसारी:

बाइक से महंत को भितरी से सीधी के रामपुर नैकिन तक ले गया। 10 हजार रुपए लिए, कपड़े दिए, फिर सिंगरौली की बस में बैठा दिया।

आरोपी 7 धीरेंद्र मिश्रा

महंत  सीतारामदास का पेड़ चेला है महंत के गलत काम में शुरू से अंत तक का साथ रहा।

यह भी पढ़े 

हवस के पुजारी महंत के दारू पार्टी का वीडियो वायरल : रेप करने से पहले की थी शराब पार्टी, कई सवालों के घेरे में कानून?









Powered by Blogger.