MP : रीवा समेत आज शाम 6 बजे से सभी शहरों में 60 घंटे का लॉकडाउन : रीवा कलेक्टर ने जारी किए दिशा निर्देश

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


भोपाल। मध्यप्रदेश के सभी शहरों में आज शाम 6 बजे से लॉकडाउन शुरू हो जाएगा। यह सोमवार सुबह 6 बजे तक यानी 60 घंटे का रहेगा। वहीं रतलाम जिले में नौ दिन का लॉकडाउन रहेगा। खरगोन, कटनी और बैतूल में सात दिन तक सब लॉक रहेगा। भोपाल के कोलार में भी आज शाम से नौ दिन के लिए लॉक हो रहा है। इधर, भोपाल एम्स में 100 से ज्यादा स्टाफ के संक्रमित निकलने के मैसेज चलते रहे जिसे एम्स पीआरओ ने खारिज किया। उन्होंने कहा- यह फेक मैसेज है।

मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर आउट ऑफ कंट्रोल होती जा रही है। पिछले 24 घंटे में रिकार्ड 4882 नए केस मिले हैं। यह आंकड़ा 10 अप्रैल तक 5 हजार के पार हो जाएगा। प्रदेश में अब मौतों का आंकड़ा 4136 हो गया है। 8 अप्रैल को दर्ज 23 मौतें भी शामिल हैं। वहीं प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 30,486 हो गई है।

इससे पहले छिंदवाड़ा में गुरुवार रात 8 बजे से लगातार सात दिन के लिए लॉकडाउन शुरू हो गया है। वहीं 24 घंटे के अंदर सबसे ज्यादा इंदौर में 887 केस सामने आए हैं। भोपाल में 686, जबलपुर में 326 और ग्वालियर में 298 संक्रमित मिले हैं। भोपाल में कोरोना से 8 महीने की बच्ची की मौत का पहला मामला भी सामने आया है।

एम्स भोपाल में भर्ती आठ महीने की अदीबा की गुरुवार को मौत हो गई। कोरोना संक्रमित मिलने के बाद वह 12 दिन से एम्स में भर्ती थी। भोपाल में कोरोना से ये सबसे कम उम्र के मरीज की मौत है। अदीबा परिवार की इकलौती बच्ची थी। घरवालों के मुताबिक उसे बुखार था और शरीर में झटके लग रहे थे, इसलिए 27 मार्च को एम्स ले गए। हैरानी की बात ये है कि घर में और कोई संक्रमित नहीं था।

प्रदेश में कोरोना विस्फोट के बीच CM शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार शाम 5 बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है। CM वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मंत्रियों के साथ कोरोना के हालात पर चर्चा करेंगे। मुख्यमंत्री ने गुरुवार को कहा था कि प्रदेश में कोरोना मरीजों के लिए बेड की संख्या बढ़ाकर 1 लाख की जा रही है। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि कोरोना के टेस्ट बढ़ाए जाएं और रिपोर्ट 24 घंटे में मिल जाए।

सिर्फ दमोह में लॉकडाउन नहीं रहेगा

सिर्फ दमोह में लॉकडाउन नहीं लगाया गया है। यहां 17 अप्रैल को विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान होना है। आचार संहिता लगी होने की वजह से लॉकडाउन लगाने का फैसला चुनाव अधिकारी को लेना होगा। उपचुनाव के चलते यहां नेताओं की रैलियां हो रही हैं। जिले में रोजाना औसतन 28 कोरोना केस आ रहे हैं। यहां अब तक 94 मरीजों की मौत हो चुकी है। दमोह शहर प्रदेश में मौत के मामले में नौवें नंबर पर है।

पहली बार भाेपाल में 31 शवों का अंतिम संस्कार

भोपाल के भदभदा में गुरुवार को 31 शवों का कोरोना प्रोटोकॉल से किया गया।
भोपाल के भदभदा में गुरुवार को 31 शवों का कोरोना प्रोटोकॉल से किया गया।
भोपाल में पहली बार एक ही दिन में 31 कोरोना मरीजों का अंतिम संस्कार हुआ। गुरुवार को भदभदा विश्राम घाट पर 36 शव अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे। इसमें कोरोना संक्रमित 31 शवों का प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया। 13 शव भोपाल के और 18 बाहर के थे। ये प्रदेश में एक दिन में किसी एक शहर में कोविड मरीजों के शवों के अंतिम संस्कार का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

पहली बार भदभदा विश्रामघाट पर कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों के अंतिम संस्कार के लिए तय की गई जगह छोटी कम पड़ गई और नई जगह तैयार करनी पड़ी। 36 शवों के बाद भी विश्रामघाट में 8 परिवार शव लाने के लिए फोन कर रहे थे, जिन्हें रात हो जाने के चलते अगले दिन आने के लिए समझाया गया।

वहीं, भोपाल के कोलार इलाके में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आज शाम 6 बजे से 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। कोलार इलाके की आबादी ढाई लाख से ज्यादा है। यहां अभी 1,800 एक्टिव केस हैं।

इंदौर में 887 मरीज मिले, रेमडेसिविर पर राहत नहीं
कोरोना का सबसे बड़ा सेंटर इंदौर बन गया है। पूरे प्रदेश में सबसे ज्यादा मरीज यहीं मिल रहे हैं। 24 घंटे में यहां 887 मरीज मिले। 4 लोगों की मौत भी हुई है। यहां सबसे ज्यादा कमी रेमडेसिविर इंजेक्शन की है। लगातार चौथे दिन भी इंजेक्शन के लिए दवा दुकानों पर लाइन लगी रही। दवा व्यापारियों का कहना है कि मांग और सप्लाई में चार गुना का फर्क है। मांग लगातार बढ़ रही है, जबकि सप्लाई रोज सिर्फ 400 से 500 इंजेक्शन की हो रही है।

जबलपुर में 326 संक्रमित मिले, अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा

जबलपुर में गुरुवार को 326 नए संक्रमित सामने आए। यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। कोरोना से एक मौत भी हुई है। संक्रमण की रफ्तार ऐसी है कि महज चार दिनों में एक हजार का आंकड़ा पार हो गया। जिले में कोरोना के कुल एक्टिव केस 2,015 हो गए हैं। यहां कुल कंटेनमेंट जोन की संख्या 20 पर पहुंच गई है। संक्रमण दर 15% के ऊपर पहुंच चुकी है। रिकवरी रेट घटकर 89.17% रह गया है। यहां सैंपल भी कम लिए जा रहे हैं। गुरुवार को सिर्फ 1,815 लोगों के सैंपल लिए गए।

ग्वालियर में 298 केस मिले

ग्वालियर में 24 घंटे में रिकॉर्ड 298 केस मिले हैं। इससे पहले पूरे कोरोना काल में अब तक एक दिन में इतने केस सामने नहीं आए थे। बीते 24 घंटे में एक मरीज की मौत भी हुई है। संक्रमण दर 14.50% पहुंच गई है। यहां एक्टिव केस 1,464 हैं।

रीवा जिले की सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबरें 

इन दिनों रीवा यूपी, बिहार से कम नहीं: गर्लफ्रेंड की फोटो के साथ दूसरे युवक को देख भड़का बॉयफ्रेंड, हुई जमकर मारपीट

घर के पोर्च से फायरिंग कर रहे आरइएस के SDO को पुलिस ने दबोचा





30 मोबाइल पार्टियां बाइकर्स गैंग की हुड़दंग रोकने चप्पे-चप्पे पर तैनात : ट्रिपल बाइकर्स की निकाली हवा






ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.