REWA : घर के पोर्च से फायरिंग कर रहे आरइएस के SDO को पुलिस ने दबोचा

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा। मानसिक संतुलन खो बैठे आरइएस के एसडीओ ने गुरुवार को अपने समधी पर गोली चलाने के बाद पूरे परिवार को घर में बंधक बना लिया और घर के पोर्च में बैठकर धुंआधार फायरिंग शुरू कर दिया। घटना शहर के समान थाना क्षेत्र स्थित नेहरू नगर की है।

घटना की जानकारी होते पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। घर के चारों तरफ से पुलिस ने घेरा डाल दिया और एसडीओ को आत्मसमर्पण करने के लिए पुलिस अनाउंस करती रही लेकिन एसडीओ पुलिस की बात न मानकर बीच-बीच अपने घर की ओर से हवाई फायर करते रहे। पांच घंटे चले हाइवोल्टेज ड्रामे के बाद अंततः पुलिस ने दरवाजा तोड़कर घर में प्रवेश किया तो एसडीओ बैठे मिले जिन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। घंटों चले इस हाई वोल्टेज ड्रामा के कारण घर के आसपास पूरे नेहरू नगर में दहशत का माहौल निर्मित हो गया था। घंटों पुलिस ने एसडीओ को समझने का प्रयास किया लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। उसी बीच एसडीओ पूजा पाठ करने में जुट गए। इधर पुलिस ने दरवाजा तोड़कर घर में प्रवेश किया और पूजा अर्चना से खाली होते ही एसडीओ सुरेश मिश्र को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस घटना के कारण अज्ञात है । 2 दिन पहले तक एसडीओ अपने मोहल्ले में रोज की तरह मॉर्निंग और इवनिंग वॉक करते देखे गए थे। बताया गया है कि सुरेश मिश्रा द्वारा अपने घर में पत्नी गुड़िया देवी तथा बहू प्रियंका मिश्रा को बंधक बनाया गया था लगातार पुलिस को अंदेशा सता रहा था कहीं सुरेश मिश्रा पत्नी व बहू को नुकसान न पहुंचा दें हालांकि 5 घंटे देर से ही पुलिस ने सुरेश मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया बल्कि पत्नी व बहू को सब कुशल बरामद कर लिया है।

बताया जा रहा मिलनसार

वही मिलनसार और धार्मिक भावनाओं से ओतप्रोत रहने वाले एसडीओ सुरेश मिश्रा लोगों से अपने अंदाज में ही मिलते जुलते देखे गए लेकिन बीते दिन से उनकी तबीयत कुछ गड़बड़ चल रही थी। किसी बात को लेकर वह डिप्रेशन में थे।

की थी समधी से बात

बीती शाम उन्होंने अपने समधी श्री निवास तिवारी निवासी नेहरू नगर से कुछ बातें साझा की थी। जिसके बाद गुरुवार की सुबह समधी उनके घर पहुंचे थे। उसी बीच एसडीओ ने समधी के ऊपर अपने लाइसेंसी 315 बोर की रायफल से गोली चला दी। जिससे गंभीर हालत में घायल समधी श्रीनिवास तिवारी को इलाज के लिए रीवा के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

भाई बोला खुद सुरेश है जिम्मेदार

एक तरफ जहां सुरेश मिश्रा पोस्ट में बैठकर गोलियां चला रहे थे वह उन्हें समझाने के लिए पुलिस लगातार उनके भाई दिवाकर मिश्रा से बात करने के लिए कह रही थी जिस पर दिवाकर ने साफ तौर पर कहा कि कि सुरेश मिश्रा जो काम कर रहे हैं वह स्वयं जिम्मेदार हैं शुरू से ही फोन पर बात करने का प्रयास कर रहा था लेकिन का फोन लगातार बंद आ रहा है।

परिवार को बना लिया था बंधक

वहीं मानसिक संतुलन खो बैठे एसडीओ ने अपने पूरे घर के सदस्यों को घर में ही बंधक बना दिया था। घर के पोर्च में बैठकर हवाई फायर करने लगे जहां घंटो जाए हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा और अंततः पुलिस ने उनकी एसडीओ को हिरासत में ले लिया है। एसडीओ को खराब स्वास्थ्य होने के कारण संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है हालत सामान्य होने पर पुलिस उनसे पूछताछ करने की बात कह रही है पुलिस ने घर के अंदर से राइफल तथा पांच जिंदा कारतूस भी बरामद किया है।

जैन मुनि की तरह कर रहे थे पूजा

दरवाजा तोड़कर जैसे ही पुलिस घर के अंदर दाखिल हुई तो सामने बगैर किसी वस्त्र के सुरेश मिश्रा बैठे हुए थे आनन-फानन में उन्हें न केवल गिरफ्तार किया गया बल्कि उनके पास रखें रायफल व जिंदा कारतूस भी बरामद कर लिए गए बाद में कमरे से बाहर आने के पहले कौन हैं खुद बिछिया थाना प्रभारी जगदीश सिंह ठाकुर कपड़े पहनाते नजर आए।


रीवा जिले की सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबरें 

इन दिनों रीवा यूपी, बिहार से कम नहीं: गर्लफ्रेंड की फोटो के साथ दूसरे युवक को देख भड़का बॉयफ्रेंड, हुई जमकर मारपीट

घर के पोर्च से फायरिंग कर रहे आरइएस के SDO को पुलिस ने दबोचा





30 मोबाइल पार्टियां बाइकर्स गैंग की हुड़दंग रोकने चप्पे-चप्पे पर तैनात : ट्रिपल बाइकर्स की निकाली हवा






ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.